MP में नाबालिग लड़के की बेरहमी से पिटाई का वीडियो 'लव जिहाद' के दावे से वायरल

बूम ने अपनी जांच में पाया कि जिस लड़के पर पुरुषों ने हमला किया वह नाबालिग है और हिंदू समुदाय से ही है.

मध्य प्रदेश के भोपाल (Bhopal) में कथित 'लव जिहाद' (Love Jihad) के एक मामले से जोड़कर एक वीडियो वायरल है. दावा है कि हिन्दू बालिका को बहला फुसलाकर ले जाते समय 'लव जिहादी' पकड़ में आया. वीडियो में पुरुषों के एक समूह द्वारा एक लड़के पर हिंसक हमला और मारपीट करते हुए देखा जा सकता है.

बूम ने अपनी जांच में पाया कि जिस लड़के पर पुरुषों ने हमला किया वह नाबालिग है और हिंदू समुदाय से ही है. बूम ने स्थानीय पुलिस स्टेशन से भी संपर्क किया और पाया कि लड़की और लड़का एक ही समुदाय के थे और दोनों नाबालिग थे.

छपरा-आनंद विहार एक्सप्रेस में आग बताकर पुरानी और असंबंधित तस्वीरें वायरल

हिन्दू समाज पार्टी नाम के फ़ेसबुक ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "#भोपाल में एक और #लवजिहादी हत्ते चढा..हिन्दू बालिका को बहला फुसला कर ले जाते समय आया पकड़ में.#जिहादी की #मानसिक_स्थिती_का_इलाज_करते शेर"

नोट: वीडियो मन विचलित कर देने वाला है, रीडर्स से आग्रह है कि वो अपने विवेक से देखें

वायरल वीडियो यहां और यहां देखें


वायरल वीडियो कई दक्षिणपंथी फ़ेसबुक पेजों पर शेयर किया गया है.

वायरल वीडियो में दिख रहीं उर्फ़ी जावेद क्या जावेद अख़्तर की पोती हैं?

फ़ैक्ट चेक

बूम ने घटना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए मीडिया रिपोर्ट खंगाली. इस दौरान हमें ऐसी कई रिपोर्ट मिलीं जिनमें कहा गया था कि यह घटना मध्य प्रदेश के देवास ज़िले की है.

6 सितंबर, 2021 को पंजाब केसरी में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कथित तौर पर कथित 'लव जिहाद' के एक मामले के संदेह पर देवास में पुरुषों के एक समूह ने नाबालिग लड़के को मुस्लिम समझ कर पिटाई की. रिपोर्ट में यह भी उल्लेख किया गया है कि लड़की और लड़का दोनों उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे और नाबालिग थे.

रिपोर्ट के अनुसार, यह मामला देवास के भौरासा टोल नाके का है जब उत्तर प्रदेश के बलिया ज़िले से एक 16 वर्षीय लड़का अपनी नाबालिग दोस्त के साथ देवास पहुंचा था. घटना की सूचना मिलने पर भौरासा थाने को दोनों को कस्टडी में लेने का आदेश था. इस दौरान यूपी से अहमदाबाद जाने वाली बस से दोनों को पकड़ा गया.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों एक ही समुदाय के थे. देवास पुलिस ने तीन लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया यह और वीडियो से 15 अन्य लोगों की पहचान करने की कोशिश कर रही है.

एक अन्य मीडिया रिपोर्ट की कवर फ़ोटो में वायरल वीडियो का एक स्क्रीनशॉट इस्तेमाल किया गया है.


रिपब्लिक टीवी ने वीडियो गेम की क्लिप को बताया पंजशीर पर पाकिस्तानी हमला

इसके बाद बूम ने अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए देवास के भौरासा पुलिस स्टेशन से संपर्क किया.

पुलिस स्टेशन के एक इंस्पेक्टर ने बूम को बताया कि लड़का और लड़की दोनों नाबालिग थे और एक ही समुदाय के थे. इंस्पेक्टर ने बूम को बताया, "यूपी पुलिस ने एमपी पुलिस को सूचित किया था. वो उन्हें वापस ले गए. उन्हें देवास महिला पुलिस स्टेशन भेजा गया, जहां से यूपी पुलिस उन्हें वापस ले गई."

बूम ने पुलिस से पुष्टि की कि लड़का और लड़की दोनों हिंदू हैं. हम उनकी पहचान का खुलासा नहीं कर रहे हैं क्योंकि वे नाबालिग हैं.

अफ़ग़ानिस्तान-तालिबान-अमेरिका: नब्बे के दशक से अब तक का सफ़र

Claim Review :   भोपाल में हिन्दू बालिका को बहला फुसलाकर ले जाते समय लव जिहादी पकड़ में आया
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story