यूपी सरकार के विज्ञापन में कोलकाता फ़्लाईओवर की तस्वीर छापने के लिए इंडियन एक्सप्रेस ने जताया खेद

Express की सितम्बर 12 के एडिशन के मुखपृष्ठ पर छपे advertorial में यूपी के मुख्यमंत्री की तस्वीर के साथ कोलकाता के माँ फ्लाईओवर की एक स्टॉक इमेज, और एक डिजिटली तैयार की गयी शटरस्टॉक इमेज का इस्तेमाल किया गया था.

12 सितंबर को इंडियन एक्सप्रेस (Indian Express) ने अपने संडे एडिशन के मुखपृष्ठ पर उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh) का एक विज्ञापन छापा. इसके तुरंत बाद सोशल मीडिया पर ऐसा कहा जाने लगा कि इस विज्ञापन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ जिस फ्लाईओवर और कंपनी की तस्वीरें प्रयोग की गई हैं वो दोनों ही उत्तर प्रदेश से नहीं हैं. हालांकि इन तस्वीरों को प्रदेश सरकार के विकास कार्य से जोड़कर शेयर किया गया है.

अबू धाबी के क्राउन प्रिंस को भगवा कपड़े में दिखाती यह तस्वीर फ़ोटोशॉप्ड है

शुरुआत में सोशल मीडिया पर लोग इस विज्ञापन के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आलोचना करने लगे. ज्ञात हो कि प्रदेश में चुनाव भी नज़दीक हैं इसलिये राजनीतिक हलचल भी तेज़ है.

हालाँकि बाद में जब सोशल मीडिया पर इस विज्ञापन को लेकर बहस शुरू हुई तो Indian Express ने इस गलती की ज़िम्मेदारी लेते हुए एक ट्वीट के ज़रिये जानकारी दी कि विज्ञापन की इन तस्वीरों को Express के सभी डिजिटल संस्करणों से हटा दिया है. ये बात फिलहाल साफ़ नहीं है कि ये विज्ञापन फाइनल रूप से उत्तर प्रदेश सरकार ने एप्रूव किया था या नहीं.

अफ़ग़ानिस्तान सेंट्रल बैंक के नये गवर्नर के नाम से वायरल तस्वीर ग़लत है

ये विज्ञापन Indian Express के दिल्ली संस्करण में रविवार को निकलने वाले स्पेशल अंक के पहले पन्ने पर था. बूम के रिपोर्टर में अपने अंक के पहले पन्ने से तस्वीर लेकर इसकी पुष्टि की. इस विज्ञापन का शीर्षक था 'योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बदलता उत्तर प्रदेश.' इसमें एक तस्वीर कोलकाता के Maa flyover की जबकि दूसरी एक स्टॉक इमेज थी. पीछे योगी आदित्यनाथ की बडी सी तस्वीर लगी है.


दोपहर तक इस विज्ञापन को लेकर राजनीतिक रूप से एक बहस सोशल मीडिया पर छिड़ गई.



फ़ैक्ट-चेक

ट्विटर पर कई अकाउंट्स ने विज्ञापन की तस्वीरों को शेयर कर कहा कि ये तस्वीर कोलकाता के 'Maa flyover' की है. साथ ही तस्वीर में जो बड़ी सी बिल्डिंग दिख रही है उसे लोग 'JW Marriott' होटल बता रहे हैं जो फ्लाईओवर के पास ही EM bypass पर स्थित है.

मशीन गन से एक्सीडेंट का पुराना वीडियो अफ़ग़ानिस्तान का बताकर वायरल

विज्ञापन में प्रयोग की गई दोनों तस्वीरों की सच्चाई जानने के लिये बूम ने रिवर्स इमेज सर्च किया. हमें पता चला कि विज्ञापन में जिस फ़्लाइओवर की तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है वो दरअसल कोलकाता का Maa flyover है, और जो तस्वीर विज्ञापन में प्रयोग की गई है वो दरअसल फ़ोटो एजेंसी alamy की है जो 24 सितंबर 2016 को खींची गई थी.


Alamy website पर फ़ोटो के साथ कैप्शन दिया है ' कोलकाता का Maa flyover, जिसकी लंबाई 4.5 किलोमीटर है. ये Alipore से eastern metropolitan bypass कोलकाता तक जाता है.'

MP में नाबालिग लड़के की बेरहमी से पिटाई का वीडियो 'लव जिहाद' के दावे से वायरल

बूम ने विज्ञापन में प्रयोग की गई दूसरी तस्वीर को भी जाँचा तो पाया कि ये तस्वीर पुरानी है और निर्माण कार्यों के तमाम विज्ञापनों में कई बार प्रयोग में ली गई है. Shutterstock फ़ोटो एजेंसी की वेबसाइट पर ये विज्ञापननुमा तस्वीर बूम को मिली. यहीं से कई वेबसाइट्स और कॉलेज की विवरण पुस्तिकाओं तक में इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया. इस तस्वीर को fotoslaz नामक आर्टिस्ट द्वारा डिजिटली तैयार किया गया है.



Updated On: 2021-09-14T14:13:16+05:30
Claim :   फ़ोटो बदलते उत्तर प्रदेश की तस्वीर दिखाता है
Claimed By :  Indian Express
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story
Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please reload after ad blocker is disabled.