हिंदू महिला की मुस्लिम शख़्स को राखी बांधने की तस्वीर ग़लत दावे संग वायरल

वायरल पोस्ट के साथ एक न्यूज़ कटिंग शेयर की जा रही है जिसमें लिखा है कि ‘मुँहबोले भाई ने युवती से किया दुष्कर्म’.

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की जा रही है जिसमें एक मुस्लिम शख़्स को एक महिला राखी बाँधती हुई दिख रही है. इस तस्वीर के साथ एक अख़बार की कटिंग भी शेयर हो रही है जिसमें लिखा है 'मुँहबोले भाई ने माँग में सिंदूर भर किया युवती से दुष्कर्म'. इन तस्वीरों को शेयर कर ये दावा किया जा रहा है कि राखी बाँध रही महिला के साथ मुस्लिम युवक ने दुष्कर्म किया है.

क्या वायरल वीडियो में तालिबान ने भारत को धमकी दी है?

फ़ेसबुक पर इन तस्वीरों को शेयर करते हुए एक यूज़र ने कैप्शन दिया 'अभी 4 दिन पहले ही इस लड़की की वीडियो पर मैंने इसे बोला था कि तेरा बलात्कार होगा 100% काशीपुर में #आरिफ के राखी बांधती थी #पूनम आरिफ ने बलात्कार कर बनाई वीडियो..#रक्षाबंधन२०२१ काशीपुर में आरिफ खान को भाई मान कर राखी बांधती थी पूनम सागर फिर आरिफ ने बलात्कार कर बनाई वीडियो और दिखा दी औकात, भाईचारे का सारा भूत उतार दिया आरिफ ने बहुत भाईचारे की मिसाल पेश करती थी पूनम देखे पूरी रिपोर्ट।।

ये दोनों ही तस्वीरें फ़ेसबुक पर इसी दावे के साथ कई बार शेयर की गई हैं.


ट्विटर पर इन्हीं तस्वीरों को बिल्कुल इसी दावे के साथ एक यूज़र ने शेयर किया.

फ़ैक्ट चेक

हमने वायरल तस्वीरों में से सबसे पहले मुस्लिम युवक को राखी बांधने वाली तस्वीर का रिवर्स इमेज सर्च किया. हमने पाया कि ये तस्वीर दरअसल एक वीडियो के स्क्रीनशॉट ली गई है. इस वीडियो में एक महिला युवक को राखी बाँधती दिख रही है जिसे सोशल मीडिया पर भाईचारे के संदेश के तौर पर कई लोगों ने शेयर किया था.

बिहार में मुहर्रम की जुलूस के हिंसक होने का वीडियो गलत दावे के साथ वायरल

Aaj Tak के एक फ़ैक्ट चेक की मदद से हमें फ़ोटो में मौजूद शख़्स का पता चला. राखी बँधवा रहे व्यक्ति का नाम Mohd Sadiq Meo है. हमें फ़ेसबुक पर सादिक़ की प्रोफ़ाइल मिली जिसमें दिये गये नंबर पर हमने इनसे इस खबर के संबंध में संपर्क किया. सादिक़ ने बूम को बताया कि उन्हें राखी बाँधने वाली महिला उनकी मुँहबोली बहन हैं जो उन्हें हर साल राखी बाँधतीं है.

उन्होंने कहा कि ये फ़ोटो दो साल पुरानी है जिसे ग़लत और साम्प्रदायिक दावे के साथ वायरल किया जा रहा है. सादिक़ के मुताबिक़ ये आरोप एकदम झूठा और बेबुनियाद है. सादिक़ ने कहा कि वो इस मामले की शिकायत साइबर पुलिस में और अल्पसंख्यक आयोग में भी करेंगे. सादिक़ दिल्ली के इन्दरलोक में रहते हैं और भारतीय जनता पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ से जुड़े हैं.

Ex PM मनमोहन सिंह के नाम से वायरल इस ट्वीट की सच्चाई क्या है?

अब हमने वायरल न्यूज़पेपर क्लिप की पड़ताल के लिये कुछ कीवर्ड्स की मदद से गूगल सर्च किया तो कई News reports मिलीं. Dainik Jagaran की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, हिमालय नाम के एक व्यक्ति ने पड़ोस की एक युवती को मंदिर ले जाकर नशीला पदार्थ मिलाकर कोल्डड्रिंक पिलाया, जबरन शादी की और फिर दुष्कर्म कर वीडियो बना लिया. हिमालय उक्त युवती को अपनी मुंह बोली बहन मानता था. खबर में कहा गया है कि यह हरकत हिमालय ने अपनी मां की मदद से की‌ थी.


आंध्र प्रदेश में नेताओं के बीच मारपीट का पुराना वीडियो फ़र्ज़ी दावे संग वायरल

बूम ने इस संबंध में काशीपुर थाने के एसएसपी प्रमोद कुमार से बात की. उन्होंने बताया कि इस घटना में कोई साम्प्रदायिक एंगल नहीं है. उन्होंने आगे बताया कि लड़की की तहरीर पर IPC की रेप की धाराओं के तहत व्यक्ति के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज किया जा चुका है और आवश्यक कार्रवाई की जा रही है.

हालांकि हमें वायरल क्लिप की हूबहू कॉपी नहीं मिली मगर कई न्यूज़ रिपोर्ट्स में इस घटना के बारे में जानकार मिली.

Claim Review :   काशीपुर में #आरिफ के राखी बांधती थी #पूनम आरिफ ने बलात्कार कर बनाई वीडियो...#रक्षाबंधन2021 काशीपुर में आरिफ खान को भाई मान कर राखी बांधती थी पूनम सागर फिर आरिफ ने बलात्कार कर बनाई वीडियो और दिखा दी औकात
Claimed By :  social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story