HomeNo Image is Available
AuthorsNo Image is Available
CareersNo Image is Available
फैक्ट चेकNo Image is Available
एक्सप्लेनर्सNo Image is Available
फास्ट चेकNo Image is Available
अंतर्राष्ट्रीयNo Image is Available
वेब स्टोरीज़No Image is Available
राजनीतिNo Image is Available
लोकसभा चुनाव 2024No Image is Available
वीडियोNo Image is Available
HomeNo Image is Available
AuthorsNo Image is Available
CareersNo Image is Available
फैक्ट चेकNo Image is Available
एक्सप्लेनर्सNo Image is Available
फास्ट चेकNo Image is Available
अंतर्राष्ट्रीयNo Image is Available
वेब स्टोरीज़No Image is Available
राजनीतिNo Image is Available
लोकसभा चुनाव 2024No Image is Available
वीडियोNo Image is Available
फैक्ट चेक

पश्चिम दिल्ली से AAP उम्मीदवार महाबल मिश्रा को समर्थन वाला RSS का फेक लेटर वायरल

बूम को आरएसएस के पूर्व प्रांत प्रचारक राजीव तुली ने बताया कि वायरल लेटर फर्जी है और संघ कभी भी किसी पार्टी के समर्थन या विरोध में पत्र नहीं जारी करता.

By - Shefali Srivastava | 25 May 2024 5:23 PM GMT

लोकसभा चुनाव 2024 के बीच एक लेटर शेयर किया जा रहा है. इसे लेकर दावा है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से आम आदमी पार्टी (आप) प्रत्याशी महाबल मिश्रा को समर्थन दिया है. बूम ने फैक्ट चेक में पाया कि वायरल लेटर फर्जी है.

बूम से बातचीत में आरएसएस के पूर्व प्रांत प्रचारक राजीव तुली ने वायरल लेटर को फर्जी बताते हुए कहा कि संघ कभी भी किसी पार्टी उम्मीदवार के समर्थन या विरोध में पत्र नहीं जारी करता.

एक फेसबुक यूजर ने लेटर शेयर करते हुए लिखा, 'पश्चिमी दिल्ली लोकसभा 2024 के प्रत्याशी श्री महाबल मिश्रा जी आम आदमी पार्टी को #RSS ने दिया पूर्ण समर्थन! 25 मई को संघ के सभी कार्यकर्ता झाड़ू वाला बटन दबाएंगे.'

Full View


पोस्ट देखें

आर्काइव लिंक देखें


फैक्ट चेक

बूम ने जांच में पाया कि वायरल लेटर फेक है और यह आरएसएस की ओर से जारी नहीं हुआ है.

लेटर की पड़ताल करने पर इसमें कई तरह की विसंगतियां दिखती हैं. साथ ही इसमें डॉ. मनमोहन वैद्य के हस्ताक्षर हैं जिनका पद अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख बताया गया है.



डॉ. मनमोहन वैद्य के आधिकारिक एक्स हैंडल के अनुसार, वह वर्तमान में आरएसएस के सह सरकार्यवाह (संयुक्त महासचिव) हैं. (आर्काइव लिंक)


जबकि सुनील आंबेकर अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख के रूप में कार्यरत हैं, जिसकी जानकारी उनके एक्स अकाउंट पर मौजूद है. (आर्काइव लिंक)

 




इसके अलावा आरएसएस की आधिकारिक वेबसाइट पर भी सुनील आंबेकर के प्रचार प्रमुख होने का जिक्र है.

 

और अधिक जानकारी के लिए बूम ने आरएसएस के पूर्व प्रांत प्रचारक राजीव तुली से संपर्क किया. राजीव तुली ने बूम को बताया, "वायरल लेटर फेक है. लेटर में डॉ. मनमोहन वैद्य का जो दायित्व लिखा है अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख, वह तो 6 वर्ष पहले था. अभी वह अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य हैं." 

राजीव तुली ने आगे बताया, "संघ कभी भी किसी पार्टी या कैंडिडेट के समर्थन या विरोध में पत्र नहीं जारी करता." 

कौन हैं महाबल मिश्रा?

कभी कांग्रेस के प्रमुख पूर्वांचली चेहरे रहे महाबल मिश्रा इस बार आम आदमी पार्टी के टिकट से पश्चिमी दिल्ली सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. 2022 के एमसीडी इलेक्शन से पहले ही वह अरविंद केजरीवाल की पार्टी में शामिल हुए थे. उनके बेटे विनय मिश्रा द्वारका विधानसभा सीट से आप विधायक हैं. महाबल मिश्रा साल 2009 में पश्चिमी दिल्ली सीट से सांसद चुने गए थे. उस चुनाव में कांग्रेस ने दिल्ली की सभी सात सीटों पर जीत दर्ज की थी.

Related Stories