क्या पाकिस्तान की संसद में 'मोदी मोदी' के नारे लगाए गए ?

कई भारतीय न्यूज़ चैनलों सहित बीजेपी नेताओं ने सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की संसद में मोदी के नारे के बारे में भ्रामक दावे किये।

टाइम्स नाउ, इंडिया टीवी, जी न्यूज़ और दक्षिणपंथी वेबसाइट ऑप इंडिया ने एक वीडियो शेयर करते हुए दावा किया है कि पाकिस्तान की संसद में 'मोदी-मोदी' के नारे लगाये गए हैं। बीजेपी नेताओं समेत सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर 'मोदी' मोदी' नारे के इसी फ़र्ज़ी दावे के साथ बड़े पैमाने पर वीडियो शेयर किया जा रहा है।

बूम ने पाया कि विपक्षी सांसद 'वोटिंग, वोटिंग' का नारा लगा रहे थे, ताकि सरकार विरोधी प्रस्ताव पर मतदान किया जा सके, जिसे भ्रामक रूप से भारतीय मीडिया और सोशल मीडिया ने पाकिस्तान की संसद में 'मोदी, मोदी' के नारे के रूप में प्रस्तुत किया।

बूम ने डॉन के न्यूज़ एडिटर मुहम्मद उमर हयात से बात की, जिन्होंने संसद में 'मोदी, मोदी' के नारे के दावे को खारिज़ किया। उन्होंने बताया कि विपक्षी सदस्य 'वोटिंग, वोटिंग' का नारा लगा रहे थे। "विपक्षी नेता ख़्वाजा आसिफ़ द्वारा पेश किए गए सरकार विरोधी प्रस्ताव पर मतदान करने के लिए 'वोटिंग, वोटिंग' का नारा लगा रहे थे। मोदी का नाम तब सामने आया, जब सत्ताधारी पक्ष ने विपक्ष को ताना मारने के लिए 'मोदी का जो यार है, गद्दार है गद्दार है' का नारा लगाया। कार्यवाही को कवर करने के बाद मैं पुष्टि कर सकता हूं कि 'मोदी, मोदी के नारे या किसी और मोदी समर्थक नारे नहीं लगाए गए।"

उन्होंने आगे कहा, ''पाकिस्तान की संसद में किसी के द्वारा मोदी के समर्थन में नारे लगाने की उम्मीद करना बेमानी है। यह उनकी अपनी राजनीति के ख़िलाफ़ है।''

असंबंधित तस्वीरों को 'कराची में गृहयुद्ध' का मंज़र बताकर किया गया वायरल

न्यूज़ वेबसाइट डॉन ने इस सप्ताह के शुरू में इस मामले पर रिपोर्ट दी थी, जिसमें कहा गया था कि विपक्षी सांसदों ने आसिफ़ द्वारा लाए प्रस्ताव के लिए 'वोटिंग, वोटिंग' का नारा लगाया था।


हमने संसद की कार्यवाही की फुटेज भी देखी और पाया कि सांसद 'वोटिंग-वोटिंग' चिल्ला रहे थे न कि 'मोदी-मोदी'। वीडियो में नारे के बीच स्पीकर को यह कहते हुए सुना जा सकता है, "वोटिंग, सब कुछ होगा, सब कुछ होगा। सब्र रखिये।"

वीडियो में 1:01 मिनट के टाइमस्टैम्प पर आप उस सेगमेंट को देख सकते हैं जो वर्तमान में वायरल है।

महिला के साथ मारपीट का वीडियो यूथ कांग्रेस ने फ़र्ज़ी दावे के साथ शेयर किया

टाइम्स नाउ ने कई बार डिलीट किया ट्वीट

टाइम्स नाउ ने वायरल वीडियो के हवाले से एक स्पेशल स्टोरी की। जिसमें दावा किया कि पाकिस्तान की संसद में विपक्ष ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नारा लगाया गया। ब्रेकिंग न्यूज़ फ़्लैश चलाते हुए चैनल ने कहा कि पाकिस्तान और इमरान खान के लिए यह शर्मिंदगी का सबब है, संसद में विपक्षी नेताओं ने 'मोदी, मोदी' के नारे लगाए, विदेश मंत्री गुस्से से आगबबूला हो गए।

बाद में ट्वीट को बिना किसी सुधार के हटा दिया गया। हालांकि ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहां देख सकते हैं। टाइम्स नाउ ने वीडियो ट्वीट करते हुए इसे फ़िर से डिलीट कर दिया। बाद में पार्लियामेंट फुटेज को फ़िर से ट्वीट किया गया लेकिन टाइम्स नाउ की रिपोर्टिंग के बिना। यह टाइम्स नाउ का तीसरा ट्वीट था | टाइम्स नाउ ने कैप्शन दिया, 'देखिये: पाकिस्तान की संसद को मोदी से डर लगता है। पाक विदेश मंत्री गुस्से से आगबबूला हो जाते हैं। डिस्क्लेमर: वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल।

इंडिया टीवी ने भी पाकिस्तानी संसद की कार्यवाही को ग़लत तरीके से कवर किया, जिसमें एंकर रजत शर्मा ने कहा कि मोदी का नाम पाकिस्तान की संसद में कई बार आया। इंडिया टीवी द्वारा पोस्ट किए गए ट्वीट के साथ कैप्शन में लिखा था, "एक्सक्लूसिव: क्यों पाकिस्तान की संसद में कुछ सांसदों ने 'मोदी, मोदी' चिल्लाया।"

आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखें

एडिटर इन चीफ़ रजत शर्मा ने अपने शो 'आज की बात में' पाकिस्तानी संसद में मोदी का ज़िक्र होने की बात तो सही की पर उन्होंने यह नहीं बताया कि सत्ता पक्ष के लोग 'मोदी का जो यार है गद्दार है गद्दार है, जिसके जवाब में विपक्ष ने 'मोदी' मोदी' नारा लगा रहे हैं जो विपक्ष पर व्यंग है। रजत शर्मा ने 'वोटिंग वोटिंग' वाले हिस्से का भी उल्लेख किया पर उससे 'मोदी-मोदी' के नारे बताया। शर्मा ने यह ज़िक्र नहीं किया कि यह नारे विपक्षी सांसदों को 'गद्दार' और 'मोदी का दोस्त' कहने के सन्दर्भ में लगाए गए थे।

क्या बिहार में लोग 'गो बैक मोदी' नारा लिखकर विरोध जता रहे हैं?

ज़ी हिंदुस्तान ने वायरल वीडियो को 'जानिए क्यों लगे पाकिस्तान के पार्लियामेंट में मोदी के नारे' कैप्शन के साथ यूट्यूब चैनल पर शेयर किया।

दक्षिणपंथी वेबसाइट ऑपइंडिया ने भी इस झूठी कहानी को अपने एक लेख में शीर्षक से लिखा, "'मोदी, मोदी' के नारे पाकिस्तान नेशनल असेंबली के अंदर दिए गए हैं: यहां जानिए क्या हुआ है।" शुरुआत में, वेबसाइट ने पाकिस्तानी संसद में 'मोदी, मोदी' नारे के भ्रामक दावा किया। हालांकि, बाद में बिना कोई सुधार किए कुछ पंक्तिओं को जोड़ा:

जबकि शुरुआत में 'वोटिंग-वोटिंग' के नारे लगे जो चार्ली हेब्दो के इस्लामॉफ़ोबिक कार्टून की बहस के आसपास हैं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम भी नारों में लिया गया

इसी दावे के साथ ट्विटर पर कर्नाटक बीजेपी उपाध्यक्ष और सांसद शोभा करंदलाजे सहित कई प्रमुख दक्षिणपंथी हैंडल से वीडियो शेयर किया गया, जिसमें "पाकिस्तान और इमरान खान के लिए शर्मिंदगी" जैसे वाक्यों को कैप्शन में इस्तेमाल किया गया।

ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखें

फ़िल्ममेकर विवेक अग्निहोत्री ने फ़ुटेज शेयर करते हुए लिखा, "मोदी को पाकिस्तान की संसद में भेज दिया गया है ..धीरे-धीरे वो उनके खून में दौड़ जाएंगे। आख़िरकार, पाकिस्तान की जड़ें भारत में हैं। घर वापसी तो होना ही है एक न एक दिन। वाह मोदी वाह।"

आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखें

आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखें

न्यूज़ नेशन टीवी चैनल के कंसलटेंट एडिटर दीपक चौरसिया ने वीडियो शेयर करते हुए कैप्शन लिखा, "लो भाई पाकिस्तान की संसद में लगे मोदी-मोदी के नारे। अभी तो यह झांकी है लाहौर कराची बाक़ी है।"

ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखें

दुर्गा पूजा पर द वायर के लेख का स्क्रीनशॉट भ्रामक दावे के साथ वायरल

Claim Review :   पाकिस्तान के पार्लियामेंट में लगे मोदी मोदी के नारे...
Claimed By :  Times Now, India TV, Zee Hindustan, OPIndia, Twitter
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story