त्रिपुरा में हिंदुत्ववादी भीड़ के नाम से वायरल हिंसक वीडियो पुराना है

वायरल वीडियो में दो लोग निर्ममता के साथ एक शख़्स पर धारदार हथियारों से हमला करते नज़र आ रहे हैं.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि वो त्रिपुरा में मुस्लिमों पर हिंदुत्ववादियों की भीड़ की निर्ममता को दिखाता है. वीडियो में दो शख़्स धारदार हथियार से ज़मीन पर पड़े एक व्यक्ति को बड़ी निर्ममता से मारते हुए नज़र आ रहे हैं. वीडियो को सोशल मीडिया पर काफ़ी शेयर किया जा रहा है

शाहरुख़ खान की एडिटेड तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

Hindustan times की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ बांग्लादेश में हुई हालिया साम्प्रदायिक हिंसा के बाद त्रिपुरा के कुछ हिस्सों में अल्पसंख्यकों के घरों में तोड़फोड़ की खबरें आई थीं. Jamiat Ulama (Hind) के प्रदेश अध्यक्ष Mufti Tayebur Rahman ने मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब को बताया था कि राज्य के कई हिस्सों में मस्जिदों को और मुस्लिम मोहल्लों में उनके घरों को नुक़सान पहुँचाया गया है.

वीडियो को फ़ेसबुक पर शेयर करते हुए एक यूज़र ने कैप्शन लिखा 'त्रिपुरा में हिंदुत्ववादी भीड़ ने मुसलमानों पर आतंक मचा रखा है। पिछले दो दिनों में आधा दर्जन से ज्यादा मस्जिदें शहीद कर दी गयी हैं! मुसलामानों पे हमले रुक नही रहे हैं त्रिपुरा के मुस्लिमों के लिए दुआ करे


(पोस्ट यहाँ देखें)

ट्विटर पर भी इस वीडियो को इसी कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है.


फ़ैक्ट-चेक

वायरल वीडियो की सच्चाई जानने के लिये बूम ने कीफ्रेम करके रिवर्स इमेज सर्च किया तो पाया कि ये वीडियो त्रिपुरा की हालिया घटना से संबंधित नहीं है, बल्कि ये वीडियो बांग्लादेश में आपसी रंजिश के चलते हुई एक हिंसा का है जो पुराना है.

मुस्लिम बाप-बेटी की तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल

बूम को बिल्कुल यही वीडियो 23 मई, 2021 को बांग्लादेशी टीवी चैनल 'जमुना टीवी' के यूट्यूब चैनल पर मिला. इसका कैप्शन था, "Shahin हत्याकांड के मुख्य आरोपी मोनिर की पल्लबी में हत्या." ख़बर के मुताबिक़ वायरल वीडियो में जिस शख़्स की हत्या हुई थी उसके एक आरोपी की पुलिस से मुठभेड़ में मौत हो गई. ये ख़बर 19 मई को पल्लबी में हुए हत्याकांड के एक आरोपी की पुलिस मुठभेड़ में हुई मौत के बारे में थी. इस ख़बर में वायरल वीडियो के बारे में जानकारी दी गई थी.


इस ख़बर से जानकारी लेते हुए हमने कीवर्ड सर्च किया तो हमें Shahinuddin की हत्या की अन्य खबरें भी मिलीं. 23 मई, 2021 को, न्यूज़ वेबसाइट Jugontor ने लिखा कि Shahinuddin की हत्या के आरोपी मोनिर हुसैन की पुलिस के साथ मुठभेड़ में हत्या कर दी गई थी.

मँहगाई के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते शिवराज सिंह चौहान का एडिटेड वीडियो वायरल

इसी वायरल वीडियो का इस्तेमाल 19 मई, 2021 को चैनल 24 की एक रिपोर्ट में भी किया गया था. इस रिपोर्ट के अनुसार पल्लबी में दिनदहाड़े Shahinuddin की हत्या कर दी गई थी.

16 मई, 2021 को Jugontor में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, भूमि विवाद को लेकर Shahinuddin (34) की उसके बेटे के सामने अपराधियों ने दिनदहाड़े हत्या कर दी थी. मारे गए साहिन उद्दीन के सात वर्षीय बेटे मसरफी ने कहा, घटना के वक्त वह अपने पिता के साथ ही था.


बांग्लादेश पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट ने भी 19 अक्टूबर, 2021 को इस वीडियो से संबंधित एक व्यापक फ़ेक न्यूज़ का खंडन करते हुए बताया कि ये घटना बांग्लादेश के पल्लबी की है जहां आपसी विवाद में एक शख़्स की हत्या कर दी गई थी. बांग्लादेश के गृह मंत्री असदुज्जमां खान ने भी वायरल वीडियो के बारे में अपनी प्रतिक्रिया दी थी.

मिस्र के अनाथालय में बच्चों की पिटाई का पुराना वीडियो फ़र्ज़ी दावे से वायरल

कुल मिलाकर यह स्पष्ट हुआ कि बांग्लादेश में आपसी रंजिश के चलते Shahinuddin नाम के एक शख़्स की दो लोगों ने हत्या कर दी. इस घटना के वीडियो को भ्रामक दावे के साथ त्रिपुरा में साम्प्रदायिक हिंसा बताकर शेयर किया जा रहा है

Claim Review :   त्रिपुरा में हिंदुत्ववादी कट्टरपंथी संघी आतंकवादी भीड़ ने मुसलमानों पर आतंक मचा रखा है। पिछले दो दिनों में आधा दर्जन से ज्यादा मस्जिदें शहीद कर दी गयी हैं
Claimed By :  social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story