मनीष सिसोदिया की एडिटेड वीडियो के साथ केजरीवाल से जुड़ा फ़र्ज़ी दावा वायरल

वायरल वीडियो के साथ दावा किया गया है कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली में वैक्सीन देने की जगह अख़बारों में विज्ञापन देने पर सीएम केजरीवाल की आलोचना की है.

सोशल मीडिया पर दिल्ली ((Delhi)) के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) की एक एडिटेड वीडियो फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल है. वीडियो इस दावे के साथ शेयर की जा रही है कि मनीष सिसोदिया ने टीकाकरण (Vaccination) नहीं करवाने और अख़बारों में केवल विज्ञापन देने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की आलोचना की है.

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की 21 जून की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस से है, जिसमें बीजेपी की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार राज्यों को वैक्सीन नहीं, सिर्फ़ अख़बारों में विज्ञापन दे रही है. इसी वीडियो के साथ छेड़छाड़ करके फ़र्ज़ी दावा किया गया है.

असम के मुख्यमंत्री के भाषण के रूप में वायरल इस वीडियो का सच क्या है?

वायरल वीडियो में मनीष सिसोदिया को बोलते हुए सुना जा सकता है कि, "विज्ञापन पूरे देश के अख़बारों ने फ़ुल पेज पर छापे हुए हैं. एक-एक अख़बार में 4-5 विज्ञापन है. इतना पैसा अगर वैक्सीन ख़रीदने पर लगा दिया होता तो पूरे देश के लिए वैक्सीन उपलब्ध होने लगती. मैं कहना चाहता हूं कि लोगों को विज्ञापन की नहीं वैक्सीन की ज़रूरत है. ऊपर से अफ़सरों पर दबाव डाल रहे हैं कि विज्ञापन दीजिये."

जबकि दूसरी वीडियो में अलग-अलग अख़बारों पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तस्वीर के साथ टीकाकरण पर विज्ञापन हैं. साथ ही दिल्ली को जनता को संबोधित करते हुए उनकी वीडियो के कई स्क्रीनशॉट हैं.



ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

क्या रैली में सेना के जवानों ने लगाए बीजेपी-आरएसएस विरोधी नारे? फ़ैक्ट चेक

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल वीडियो के साथ किये जा रहे दावे की वास्तविकता जांचने के लिए सबसे पहले वीडियो को अलग-अलग कीफ़्रेम में तोड़ा और फिर रिवर्स इमेज सर्च किया.

हमें अपनी खोज के दौरान यही वीडियो हिंदी न्यूज़ वेबसाइट जनसत्ता के यूट्यूब चैनल पर मिला. '"मनीष सिसोदिया का केंद्र पर बड़ा आरोप- अफसरों पर धन्यवाद मोदी जी के पोस्टर लगाने का दबाव" शीर्षक के साथ 21 जून, 2021 को अपलोड किये गए 4 मिनट 35 सेकंड के इस वीडियो में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री को दिल्ली में ज़रूरत के मुताबिक़ वैक्सीन नहीं देने पर केंद्र सरकार की आलोचना करते देखा जा सकता है.

साथ ही बीजेपी शासित केंद्र और अन्य राज्य सरकारों पर वैक्सीन को लेकर अख़बारों में दिए गए विज्ञापन पर निशाना साधा गया है. वीडियो में सिसोदिया को अख़बारों पर मोदी सरकार के विज्ञापन दिखाते हुए देखा जा सकता है.


इसके अलावा हमें नवभारत टाइम्स की वेबसाइट पर 21 जून को प्रकाशित रिपोर्ट में वायरल वीडियो का फ़ुल वर्ज़न मिला, जिसका शीर्षक, "सिसोदिया बोले- विज्ञापन देकर गुमराह कर रही मोदी सरकार, दिल्ली को जून में एक भी फ्री टीका नहीं" है.

रिपोर्ट में मनीष सिसोदिया को कहते हुए सुना जा सकता है कि "21 जून से केंद्र सरकार ने फ़्री वैक्सीन देने की बात कही थी, लेकिन दिल्ली को जून में एक भी फ़्री वैक्सीन नहीं दी जा रही है. जुलाई में भी सिर्फ़ 15 लाख वैक्सीन दी जा रही है. केंद्र सरकार राज्यों को वैक्सीन नहीं, सिर्फ़ अख़बारों में विज्ञापन दे रही है."

दिल्ली जल संकट की पुरानी तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल

हमें अपनी जांच के दौरान आम आदमी पार्टी के आधिकारिक फ़ेसबुक पेज पर मनीष सिसोदिया का हूबहू वही वीडियो मिला. 21 जून के इस लाइव वीडियो के कैप्शन में बताया गया है कि "माननीय उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया एक महत्वपूर्ण प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए."

बूम ने पूरा वीडियो ध्यान से देखा और पाया कि उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया अपने संबोधन की शुरुआत केंद्र द्वारा दिल्ली को ज़रूरत के मुताबिक़ वैक्सीन नहीं देने से की. वीडियो में 5 मिनट 25 सेकंड की समयावधि पर सिसोदिया कहते हैं, "सारे भारतीय जनता पार्टी के राज्यों के विज्ञापन पूरे देश के अख़बारों पर फ़ुल पेज में छपे हुए हैं..केंद्र सरकार ने अपना विज्ञापन दिया है अलग से.." वीडियो के इसी हिस्से को काटकर एडिट किया गया है और फिर उसे शेयर किया गया है.

हमने अपनी जांच को आगे बढ़ाते हुए यह भी जानने की कोशिश की कि वायरल वीडियो के दूसरे हिस्से में दिखाए गए अरविंद केजरीवाल के विज्ञापन कब छपे थे.

हमने पाया कि कई हिंदी और अंग्रेजी के 24 जून को प्रकाशित अख़बारों के फ़ुल पेज पर अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली दिल्ली सरकार का विज्ञापन है, जबकि मनीष सिसोदिया की प्रेस कांफ्रेंस वीडियो 21 जून को हुई थी. ऐसे में वायरल दावा पूरी तरह से ख़ारिज हो जाता है.




गुजराती फ़िल्म का एक दृश्य नर्मदा नदी को साड़ी पहनाने के दावे से वायरल

Claim Review :   मनीष सिसोदिया ने विज्ञापन देने पर केजरीवाल की आलोचना की
Claimed By :  Facebook Posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story