दिल्ली जल संकट की पुरानी तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल

दिल्ली जल संकट की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है. इसके साथ किया जा रहा दावा फ़र्ज़ी है .

भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व मंत्री विजय गोयल ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक तस्वीर शेयर की. इस फ़ोटो में ढेर सारे लोग एक पानी के टैंकर को घेरकर खड़े हैं और ख़ाली बर्तन हाथ में लिये पानी भरने का इंतज़ार कर रहे हैं. उन्होंने फ़ोटो के साथ ये दावा किया कि पानी के संकट की ये दिल्ली की मौजूदा केजरीवाल सरकार के समय की है.

इस फ़ोटो को शेयर करते हुए गोयल ने लिखा 'दिल्ली में पानी का हॉल कुछ करो भैया केजरीवाल'.

नसीरुद्दीन शाह के नाम से वायरल ट्वीट फ़र्जी हैंडल्स से किये गये हैं

(पोस्ट का आर्काइव वर्जन यहाँ देखें)

इस तस्वीर को फ़ेसबुक पर भी कोई लोगों ने शेयर किया.एक यूज़र ने इसे फ़ेसबुक पर शेयर करते हुए झूठा दावा किया.

यूपी बोर्ड 2021: 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा रिज़ल्ट का फ़ॉर्मूला जारी

बूम ने पाया कि ये दावा झूठा है. ये तस्वीर साल 2009 की है जब आम आदमी पार्टी का गठन भी नहीं हुआ था. उस साल दिल्ली में पानी की भारी क़िल्लत हुई थी और दिल्ली की मुख्यमंत्री कांग्रेस की शीला दीक्षित थीं.

दिल्ली की मौजूदा रूलिंग पार्टी आम आदमी पार्टी ने अपने ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल से यही तस्वीर ट्वीट की. ये फ़ोटो stock photo agency Alamy की वेबसाइट पर थी और साफ़ साफ़ लिखा था कि ये जून 2009 की है. AAP के ट्विटर हैंडल ने गोयल के ट्वीट का जवाब दिया.

विजय गोयल के ट्वीट की और गूगल पर वायरल इस फ़ोटो की और जानकारी जुटाने के लिये बूम ने रिवर्स इमेज सर्च भी किया. हमें Alamy वेबसाइट का लिंक मिला जिसमें बिल्कुल यही तस्वीर लगी हुई थी और साफ़ साफ़ पता चल रहा था कि फ़ोटो 12 साल पुरानी है.

बांग्लादेश का तीन साल पुराना वीडियो कोलकाता से जोड़कर वायरल



फ़ोटो के साथ दी गई जानकारी के अनुसार ये दिल्ली की संजय कॉलोनी में दिल्ली जल बोर्ड के टैंकर को घेरे लोगों की तस्वीर है. फ़ोटो के साथ ये भी दिया हुआ है कि ये पानी का टैंकर दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने पानी के संकट को देखते हुए उपलब्ध कराया है.

Claim Review :   जनसँख्या विस्फोट का दुष्परिणाम देखिये
Claimed By :  social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story