नंदीग्राम से बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी की जीत दिखाता यह ओपिनियन पोल फ़र्ज़ी है

कोलकाता टीवी ने एक समाचार बुलेटिन में ओपिनियन पोल को फ़र्ज़ी बताया है, जिसमें चैनल को ग़लत तरीके से ओपिनियन पोल के लिए क्रेडिट दिया गया है.

सोशल मीडिया पर बंगाली न्यूज़ चैनल कोलकाता टीवी (Kolkata TV) के नाम से एक फ़र्ज़ी ओपिनियन पोल शेयर किया जा रहा है. ओपिनियन पोल (Opinion Poll) के हवाले से दावा किया गया है कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) के नंदीग्राम विधानसभा सीट (Nandigram Assembly Constituency) से बीजेपी (BJP) उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) बड़े वोट शेयर के साथ जीत रहे हैं.

कोलकाता टीवी ने एक समाचार बुलेटिन में ओपिनियन पोल को फ़र्ज़ी बताया है, जिसमें चैनल को ग़लत तरीके से ओपिनियन पोल के लिए क्रेडिट दिया गया है.

गौरतलब है कि आज 1 अप्रैल को होने वाले पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Elections 2021) के दूसरे चरण की पृष्ठभूमि में यह ओपिनियन पोल वायरल है. बंगाल में दूसरे चरण के मतदान में चार ज़िलों- बांकुरा, पश्चिम मिदनापुर, पूर्वी मिदनापुर और दक्षिण 24 परगना के 30 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान हो रहा है.

टीएमसी वर्कर्स को धमकाते हुए बीजेपी नेता भारती घोष की पुरानी वीडियो वायरल

नंदीग्राम, जहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी अपने पूर्व सहयोगी और अब बीजेपी से उम्मीदवार सुवेन्दु अधिकारी के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ रही हैं. राजनीतिक विश्लेषकों ने नंदीग्राम निर्वाचन क्षेत्र की लड़ाई को 'बैटल रॉयल' के रूप में घोषित किया है. एक समय, ममता बनर्जी और सुवेंदु अधिकारी दोनों नंदीग्राम के वोटों को स्विंग कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते थे, जिससे उन्हें 2011 में वामपंथी गढ़ को खत्म करने और सत्ता में आने में मदद मिली थी.

ओपिनियन पोल में नंदीग्राम से चुनाव लड़ रहे सभी चार उम्मीदवारों के वोट शेयर प्रतिशत को दिखाया गया है. यह दावा करता है कि बीजेपी के सुवेन्दु अधिकारी को अपने प्रमुख प्रतिद्वंदी ममता बनर्जी के मुक़ाबले 48.3 प्रतिशत वोट प्राप्त होगा, जबकि ममता को 45.1 प्रतिशत वोट शेयर प्राप्त होगा. माकपा की मिनाक्षी मुखर्जी और सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर ऑफ इंडिया (कम्युनिस्ट) के अध्यक्ष मनोज कुमार दास को क्रमशः 4.8 प्रतिशत और 0.6 प्रतिशत वोट शेयर प्राप्त होगा. कोलकाता टीवी का एक लोगो ऊपर दाईं ओर देखा जा सकता है.

पोस्ट यहां देखें और आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

बांग्लादेश के लिए सत्याग्रह में पीएम मोदी ने हिस्सा लिया था? हम क्या जानते हैं

फ़ैक्ट चेक

चैनल पर एक घोषणा में कोलकाता टीवी ने स्पष्ट किया कि ओपिनियन पोल फ़र्ज़ी है और ऐसा कोई ओपिनियन पोल चैनल द्वारा आयोजित नहीं किया गया है. समाचार प्रस्तुतकर्ता ने स्पष्ट किया, "कोलकाता टीवी दर्शकों के लिए एक विशेष घोषणा है. कल से, सोशल मीडिया पर, कोलकाता टीवी के नाम पर एक फ़र्ज़ी ओपिनियन पोल चल रहा है. यह ओपिनियन पोल विशेष रूप से केवल एक निर्वाचन क्षेत्र - नंदीग्राम की भविष्यवाणी कर रहा है." यह ओपिनियन पोल कोलकाता टीवी का नहीं है. हम इस ओपिनियन पोल को फ़ेक न्यूज़ करार दे रहे हैं."

चैनल ने यह भी कहा है कि वह चुनाव आयोग और स्थानीय अधिकारियों से इस फ़र्ज़ी सूचनाओं के ख़िलाफ़ शिकायत करेगा.

क्या चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल में ईवीएम को लेकर गोल माल हो रहा है?

Updated On: 2021-04-01T18:47:15+05:30
Claim Review :   कोलकाता टीवी के ओपिनियन पोल में सुवेंदु अधिकारी बड़े वोट शेयर से जीत रहे हैं.
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story