दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर की यह तस्वीर भ्रामक दावे से वायरल है

यूज़र्स तस्वीर शेयर करते हुए दावा कर रहे हैं कि अयोध्या में राम मंदिर ऐसे ही बनेगा. जानिए इस तस्वीर की सच्चाई हमारी रिपोर्ट में.

सोशल मीडिया पर दिल्ली में स्थित अक्षरधाम मंदिर (Akshardham Mandir) की एक तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल है. तस्वीर शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) ऐसा ही बनेगा. यूज़र्स इसे सच मानकर बड़ी तादाद में सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफ़ॉर्म पर शेयर कर रहे हैं.

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर दिल्ली में स्थित अक्षरधाम मंदिर की है, जबकि राम मंदिर का प्रस्तावित मॉडल इससे बिल्कुल अलग है.

क्या रैली में सेना के जवानों ने लगाए बीजेपी-आरएसएस विरोधी नारे? फ़ैक्ट चेक

गौरतलब है कि बीते कुछ दिनों से राम मंदिर निर्माण काफ़ी चर्चा में है. मंदिर निर्माण के लिए भूमि ख़रीद में भ्रष्टाचार को लेकर आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह और कांग्रेस ने राम मंदिर ट्रस्ट पर गंभीर आरोप लगाये थे. कई मीडिया रिपोर्ट में भी सामने आया था कि मंदिर निर्माण की भूमि ख़रीद में हेरफ़ेर की गई है. वायरल तस्वीर उसी प्रष्ठभूमि में वायरल है.

फ़ेसबुक पर तस्वीर शेयर करते हुए एक यूज़र ने कैप्शन में लिखा, "ऐसा बनेगा अयोध्या में प्रभु श्री राम जी का भव्य मंदिर. देखते है कितने भारतवासी खुश है जयकारा जय श्री राम जय जय श्री राम जय श्री राधाबल्लभाय नमः."


पोस्ट यहां और आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.


पोस्ट यहां और आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

मनीष सिसोदिया की एडिटेड वीडियो के साथ केजरीवाल से जुड़ा फ़र्ज़ी दावा वायरल

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल तस्वीर के साथ किये जा रहे दावे की सत्यता जांचने के लिए तस्वीर को रिवर्स इमेज पर सर्च किया तो न्यूज़ 18 की एक रिपोर्ट में यही तस्वीर मिली, जिसमें इसे दिल्ली में स्थित अक्षरधाम बताया गया है.

हमें अपनी जांच के दौरान हूबहू यही तस्वीर ग्रेट रिपब्लिक नाम की वेबसाइट पर 7 दिसंबर 2020 को अपलोड हुई मिली.


हमने अपनी जांच को आगे बढ़ाते हुए अक्षरधाम मंदिर की आधिकारिक वेबसाइट खंगाली, जहां हमें वायरल तस्वीर से मिलती जुलती कई तस्वीरें मिलीं. यही नहीं, हमें अक्षरधाम मंदिर के नाम पर बने एक फ़ेसबुक पेज पर मंदिर की कई तस्वीरें मिली. अक्षरधाम मंदिर का हवाई दृश्य देखने के लिए यहां क्लिक करें.


अक्षरधाम मंदिर, स्थापत्य रूप से भारतीय हिन्दू वास्तुकला को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है. प्राचीन और मध्य-युग के मध्यकालीन भारतीय ग्रंथों को ध्यान में इसका निर्माण हुआ है. शिल्प शास्त्रों ने मंदिर के डिज़ाइन और निर्माण को नक्काशी की अपनी विशिष्ट शैली दी है. अक्षरधाम मंदिर में 234 नक्काशीदार स्तंभ, 9 अलंकृत गुंबद, 20 चतुष्कोणीय शिखर और भारत के हिंदू धर्म के आध्यात्मिक व्यक्तित्व की 20,000 मूर्तियाँ हैं. मंदिर की ऊंचाई 141.3 फीट है, जबकि 316 फीट चौड़ाई में फैला है और 356 फीट लंबा है.

हमें श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का एक ट्वीट में मिला, जिसमें राम मंदिर के प्रस्तावित मॉडल के कुछ चित्र हैं.

स्पीड ब्रेकर निर्माण की बधाई देते हुए केजरीवाल के पोस्टर का सच क्या है?

Claim Review :   ऐसा बनेगा अयोध्या में प्रभु श्री राम जी का भव्य मंदिर
Claimed By :  Facebook Users
Fact Check :  Misleading
Show Full Article
Next Story