वुहान निवासियों ने शोक में बजाई सीटियां; फ़र्ज़ी दावों के साथ वीडियो वायरल

बूम ने पाया कि वुहान निवासीयों ने डॉ. ली वेनलिआंग की याद में सीटी बजाई थी

कोरोनावायरस के बारे में सबसे पहले जानकारी देने वाले डाक्टर, डॉ. ली वेनलिआंग की मौत पर शोक जताने वाले वुहान निवासियों का एक वीडियो सोशल मीडिया पर ग़लत जानकारी के साथ फैलाया जा रहा है। दावा किया जा रहा है कि निवासी रो रहे थे और अपनी जान जाने के डर से सहमें हुए हैं।

एक ऊंची इमारत से फिल्माई गयी इस 15 सेकंड लम्बी फुटेज में डॉ. वेनलिआंग की मृत्यु पर शोक व्यक्त करते हुए कई अन्य इमारतों से आने वाली फीकी आवाज और नारेबाजी को रिकॉर्ड किया गया है। कैमरा शहर के दूसरे हिस्से में घूमाने पर इमारतें देखी जा सकती हैं, जहां पूरी तरह से सन्नाटा है।

30 दिसंबर, 2019 को वुहान सेंट्रल अस्पताल में 34 वर्षीय चीनी नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. वेनलिआंग वायरस के प्रकोप के बारे में चेतावनी देने वाले पहले व्यक्ति थे। युवा चिकित्सक को तब वुहान पुलिस ने बुलाया और उस पर इंटरनेट के माध्यम से अफ़वाह फैलाने का आरोप लगाया। बाद में वह एक संक्रमित मरीज से इस वायरस का शिकार बनें और 7 फरवरी को उसकी मृत्यु हो गई।

यह भी पढ़ें: फ़र्ज़ी: कोरोनावायरस के 20,000 मरीजो को मारने के लिए अदालत से मंजूरी चाहता है चीन

बूम ने पाया कि वीडियो डॉ. वेनलिआंग की याद में वुहान के नागरिकों द्वारा बनाया गया है।

वीडियो को भारत समाचार के एडिटर-इन-चीफ, ब्रजेश मिश्रा ने हिंदी में एक कैप्शन के साथ ट्वीट किया है, जिसमें लिखा है, "जिंदगी की भीख मांगते चीन के वूहान शहर के ये लोग अपने घरों से चीखकर गिड़गिड़ा रहे हैं. इलाज, मदद की बजाय इन्हें घरों में बंद कर दिया गया है. चीन के लोगों की ये चीखें सदियों तक विश्व समुदाय का पीछा करेंगी. कोरोना वायरस चरम की तरफ बढ़ रहा है. भारत को तत्काल तैयारी में जुटना होगा।"

ट्वीट के अर्काइव के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें: द हिंदू ने फाइलोवायरस पर किए गए अध्ययन को ग़लत तरीके से कोरोनावायरस से जोड़ा

यह वीडियो ऐसी ही कहानी के साथ फ़ेसबुक पर भी वायरल है।

फ़ैक्टचेक

बूम यह पता लगाने में सक्षम था कि ट्विटर यूज़र द्वारा यह संकेत दिए जाने के बाद की कारण कुछ और है, वीडियो के साथ वायरल हुए दावों की पुष्टि नहीं की गई थी। जैसा कि वुहान निवासियों को पूरी तरह से घर के भीतर रहने का आदेश है और संक्रमित होने के डर से बाहर निकलने पर रोक लगी है, फुटेज में एक अनोखे तरीके से कोरोनावायरस के बारे में सबसे पहले चेतावनी देने वाले डॉक्टर, वेनलिआंग को याद करते हुए दिखाया गया है।

यूज़र ने एक ट्वीट का उल्लेख किया जो दावा करता है कि वुहान ने रोशनी बंद करके, कुछ मिनटों के लिए सामूहिक रूप से फोन की फ्लैश लाइट जला कर और सीटी बजाकर डॉक्टर को श्रद्धांजलि दी। नीचे वही ट्वीट है।

यह भी पढ़ें: गांजे में है कोरोनावायरस का इलाज ? जी नहीं, इस मीम को गलत दावों के साथ वायरल किया गया है

इसी वीडियो को एपोक टाइम्स ने यूट्यूब पर अपलोड किया था, जिसके साथ दिए गए कैप्शन में लिखा था, "वुहान सिटी डॉ. ली वेनलिआंग, विस्सल ब्लोअर, की मौत पर रो रही है|"

रिपोर्टों के अनुसार, फुटेज वुहान के निवासियों द्वारा 'टुनाइट, आई व्हिसल वुहान' नामक एक आयोजन का हिस्सा है जो 7 फरवरी को डॉ. वेनलिआंग की याद में आयोजित किया गया था। बाहर जाने पर रोक होने के कारण, निवासियों ने अपने घरों की लाइटों को रात 8:55 बजे से रात 9:05 बजे तक बंद करने, फ्लैश लाइट्स चालू करने और उनकी स्मृति में सीटी बजाने का फैसला लिया।

ताइवान के समाचार चैनल, ईबीसी न्यूज़ के एक समाचार बुलेटिन ने इसकी पुष्टि की। 1 मिनट 27 लंबा बुलेटिन फुटेज का एक संकलन है, जो दिखाता है कि वुहान के निवासियों ने डॉक्टर को कैसे याद किया। 23 सेकंड के निशान पर यही समाचार बुलेटिन चलता है।

यह भी पढ़ें: फ्लोरिडा में चमगादड़ों के एक वीडियो को कोरोना वायरस के श्रोत के रूप में किया वायरल

वीडियो के वर्णन का मोटे तौर पर हिंदी अनुवाद कुछ इस तरह है, "व्हिस्लर ली वेनलिआंग, जिसने वुहान निमोनिया के ख़िलाफ चेतावनी संदेश दिया था, निमोनिया संक्रमण के कारण कल सुबह उनकी मृत्यु हो गई। इससे समाज को झटका लगा है। कल की शाम, वुहान के नागरिकों ने शोक व्यक्त करने के लिए 5 मिनट के लिए रोशनी बंद कर दी, लेकिन ली वेनलिआंग की मौत से जनता में गुस्सा है, केंद्र सरकार ने जल्दी ही यह घोषणा करते हुए जवाब दिया कि राष्ट्रीय पर्यवेक्षण समिति की टीम जांच के लिए वुहान जाएगी।"

2019 नोवेल कोरोनावायरस चीन के वुहान में एक समुद्री भोजन बाजार से उत्पन्न हुआ है और इसके कारण अब तक 910 लोगों की जान गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन 11 और 12 फरवरी को वायरस के बारे में चर्चा करने, उसके प्रसार को समझने और रोकने के समाधान के लिए एक वैश्विक फोरम की व्यवस्था कर रहा है।

Claim Review :  वीडियो में वुहान निवासी कोरोनावायरस के डर से चीख रहे हैं
Claimed By :  Facebook and Twitter
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story