छेड़खानी करने वाले शिक्षक का वीडियो भाजपा विधायक के रूप में वायरल

बूम ने पाया की शख़्स जौनपुर, उत्तर प्रदेश के एक प्राथमिक पाठशाला का शिक्षक शैलेन्द्र दुबे है, न की अनिल उपाध्याय

एक वीडियो जिसमें महिलाएं एक स्कूल शिक्षक को पीट रही हैं, फ़र्ज़ी दावों के साथ वायरल है की यह शख़्स भारतीय जनता पार्टी का विधायक अनिल उपाध्याय है| दरअसल, वीडियो में महिलाएं उसे पीट रही हैं क्योंकि कथित तौर पर उसने उत्तर प्रदेश के जौनपुर इलाके के एक स्कूल में लड़कियों से बदतमीज़ी और छेद-छाड़ की थी|

बूम ने भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय के नाम पर वायरल कई फ़र्ज़ी न्यूज़ को ख़ारिज किया है, यहाँ पढ़ें| भाजपा में ऐसा कोई विधायक नहीं है| यह एक काल्पनिक नाम है जो सोशल मीडिया पर वायरल है|

यह भी पढ़ें: भाजपा में कोई अनिल उपाध्याय नाम का विधायक नहीं है, वायरल वीडियो के साथ दावे झूठे हैं

इस बत्तीस सेकंड लम्बी क्लिप के साथ एक कैप्शन है, "BJP विधायक अनिल उपाध्याय की इस हरकत पर क्या कहेगे मोदी जी, इन video को इतना वायरल करो की ये पूरा हिन्दुस्तान देख सके.

यह लेख लिखने तक इसे करीब 2,600 बार शेयर और 22,000 बार देखा जा चूका है|

यही वीडियो ट्विटर पर भी वायरल है, जहाँ कैप्शन में लिखा है: "थोड़ा BJP के अनिल उपाधियाय जी का कुटाई का वीडियो भी देख लीजिए| लेकिन कोई बहुत बड़ा कारण रहा होगा वरना लेडीज किसी मर्द पर इस तरह हाथ नहीं उठाती| फिर भी मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूँ"


यह भी पढ़ें: क्या भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय ने पोलिंग बूथ कैप्चर किया? फ़ैक्टचेक

फ़ैक्ट चेक

बूम ने रिवर्स इमेज सर्च किया ताकि इस वीडियो की उत्पत्ति पता लगाई जा सके| हमनें एक ट्विटर यूज़र द्वारा पोस्ट किया गया समान वीडियो पाया जिसमें वह इस शख़्स को जौनपुर के एक प्राथमिक शाळा के शिक्षक के रूप में पहचान दे रहा है और कथित तौर पर एक लड़की को छेड़ने के लिए महिलाओं के गुस्से का शिकार बताया जा रहा है|

बूम ने पाया की वीडियो में शख़्स जौनपुर, उत्तर प्रदेश में एक प्राथमिक शाळा का शिक्षक है और इसका नाम शैलेन्द्र दुबे है|

यह भी पढ़ें: अनिल उपाध्याय नामक काल्पनिक भाजपा विधायक फ़र्ज़ी दावों के साथ फ़िर ज़िंदा

इसके बाद हमनें कीवर्ड्स खोज की जौनपुर पुलिस ने कोई ट्वीट किया है या नहीं| हमनें पाया की पीड़ित लड़कियों के पिताओं की शिकायत के बाद जौनपुर रूरल के एसएसपी संजय राय ने एक वीडियो में इस घटना की जानकारी दी है जो 24 जनवरी 2020 को पोस्ट किया गया है|

थाना पवारा पर एक सूचना प्राप्त हुई, एक प्राइमरी विद्यालय के सहायक अध्यापक ने छोटी बच्चियों से छेड़-छाड़ की| उनके पिता ठाणे पर आये और तहरीर दी, तहरीर के आधार पर अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है| सहायक शिक्षक को कस्टडी में ले लिया गया है| साक्ष्य संकलन की कार्यवाही की जा रही है| इसके आधार पर विदित कार्यवाही की जाएगी और इसकी रिपोर्ट शिक्षा विभाग को दी जाएगी," एसएसपी संजय राय कहते हैं|

यह भी पढ़ें: पीएम ने नाथूराम गोडसे को नहीं, दीनदयाल उपाध्याय को दी थी श्रद्धांजलि

इसके अलावा ए.बी.पी न्यूज़ और दैनिक भास्कर ने भी इस घटना को रिपोर्ट किया है|



Claim Review :  वीडियो में दिख रहा शख़्स भाजपा का विधायक अनिल उपाध्याय है
Claimed By :  Facebook and Twitter
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story