क्या भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय ने पोलिंग बूथ कैप्चर किया? फ़ैक्टचेक

बूम ने वीडियो को की फ़्रेम में तोड़ा और पाया कि यह मूल रूप से पश्चिम बंगाल के इस्लामपुर का है, जहां एक टीएमसी पार्टी कार्यकर्ता ने एक मतदान केंद्र में प्रवेश किया था
tmc candidate in booth

मतदान केंद्र के अंदर मतदाताओं को निर्देश देने और उनके वोट डालने तक ईवीएम मशीनों तक साथ चलने वाले एक शख्स का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो के साथ फेसबुक पर भ्रामक दावे फैलाए जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर दो मिनट के लंबे इस वीडियो में, बताया जा रहा है कि निर्देशों की धज्जियां उड़ाने और आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति को मध्य प्रदेश के बीजेपी विधायक, अनिल उपाध्याय है। यह दावा गलत है।

वायरल वीडियो, जहां ऑडियो धीमा कर दिया गया है, सोशल मीडिया पर तेजी से फैल रहा। वीडियो के साथ दिए कैप्शन में लिखा है, “BJP विधायक अनिल उपाध्याय की इस हरकत पर क्या कहेगे MODI जी, इस video को इतना वायरल करो की ये पूरा हिन्दुस्तान देख सके..”

वीडियो को कई फ़ेसबुक यूजर द्वारा पोस्ट किया गया है।

फैक्टचेक

बूम ने वीडियो को की फ्रेमों में तोड़ दिया और रिवर्स इमेज सर्च किया। यह हमें रिपब्लिक टीवी की
एक रिपोर्ट तक ले गया। रिपोर्ट में दावा किया गया कि यह वीडियो एक टीएमसी कार्यकर्ता का है, जिसने 18 अप्रैल को पश्चिम बंगाल के इस्लामपुर में एक पोलिंग बूथ पर आम चुनाव के दूसरे चरण
में प्रवेश किया था।



हमने तब इस्लामपुर और टीएमसी कार्यकर्ताओं के साथ समाचार रिपोर्टों की तलाश की और एक समाचार रिपोर्ट में उसी वीडियो का एक लंबा वर्शन पाया, जिसमें जहां सफेद कुर्ता पहने एक व्यक्ति
को मतदाताओं को वोट करने का निर्देश देते देखा जा सकता है। हमने वीडियो भी देखा और पाया कि, काली पैंट और एक सफेद शर्ट पहले एक अन्य व्यक्ति, इस शख्स के आने से पहले "मतदाताओं" को इसी तरह से निर्देश दे रहा था। मतदाताओं, ज्यादातर महिलाओं को, बंगाली में बातचीत करते हुए सुना जा सकता है।

हमने वीडियो को रायगंज से सीपीआई (एम) के सांसद मोहम्मद सेलिम को भेजा, जिन्होंने पुष्टि की
कि यह घटना उनके निर्वाचन क्षेत्र में हुई थी। “यह मूल रूप से मेरे रायगंज लोकसभा क्षेत्र के इस्लामपुर विधानसभा क्षेत्र से है। सफेद कुर्ता पहने आदमी एक टीएमसी पंचायत सदस्य है," उन्होंने कहा | बूम ने अपनी स्वतंत्र जांच की और पाया कि उस व्यक्ति की पहचान हमीज़ुद्दीन के रुप में हुई है, जो इस्लामपुर, रामगंज पंचायत के टीएमसी के सदस्य हैं |

प्रेस से बातचीत में हमीजुद्दीन ने दावा किया कि वह अपनी मां और बेटियों के साथ मतदान केंद्र के
अंदर गए थे। उन्हें यह कहते हुए उद्धृत किया गया था, "चूंकि पीठासीन अधिकारी अस्वस्थ थे,
इसलिए उन्होंने अपने परिवार की मदद करने का जिम्मा उठाया" |

सेलिम ने यह भी कहा कि हमिज़ुद्दीन के खिलाफ चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत दर्ज़ की गई है।

Claim Review :  भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय ने किया बूथ कैप्चर
Claimed By :  Facebook pages
Fact Check :  FALSE
Show Full Article
Next Story