बृहन्मुम्बई महानगर पालिका द्वारा जारी दो साल पुरानी गर्म पानी पीने की हिदायत हाल ही में हुई वायरल

बूम के खोजबीन में यह सामने आया की यह वायरल क्लिपिंग मई 2018 की है |

दो साल पुराने अख़बार की एक रिपोर्ट से ली गयी एक क्लिपिंग, जिसमे बृहन्मुम्बई महानगर पालिका ने मुंबई के नागरिकों से यह अपील की थी की वह सात दिनों तक गर्म पानी का सेवन करें, फ़िलहाल इस गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है की यह हाल ही में दी गयी सूचना है |

नगर पालिका ने उस वक़्त यह अपील पानी के दूषित होने के आसार के वजह से किया था | इस क्लिपिंग को कोरोना वायरस के उपाय के तौर पर शेयर किया जा रहा है जो वायरल हो रहे अन्य फ़र्ज़ी दावे - जैसे गरम पानी पीना कोरोना वायरस से बचाता है - आदि की ही श्रेणी में आता है|

यह भी पढ़ें: आमिर खान के नाम से फिर वायरल हुआ एक फ़र्ज़ी बयान

यह भी पढ़ें: इंदौर में रोड पर मिले करन्सी नोट्स का वीडियो साम्प्रदायिक कोण के साथ वायरल

इस अखबार की कटिंग के साथ लिखित कैप्शन का हिंदी अनुवाद इस तरह है :

" BMC की अपील: अगले सात दिनों तक गरम पानी का सेवन करें "

(अंग्रेजी में लिखित कैप्शन : " BMC'S appeal: drink boiled water for next 7 days")

इसका आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखें |

बूम को यह वायरल तस्वीर व्हॉट्सएप्प पर हेल्पलाइन नंबर (7700906111) के ज़रिये यह बताते हुए मिली की यह तस्वीर वायरल है लेकिन यह दो साल पुरानी है |


हमें यह तस्वीर ट्विटर पर भी वायरल होते हुए मिली |

इस ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहाँ देखिये |

यह भी पढ़ें: नावेल कोरोनावायरस वैक्सीन: रवीश कुमार के नाम से फ़र्ज़ी बयान वायरल

फैक्ट चेक

हमें गूगल रिवर्स इमेज सर्च से यह पता लगा की यह पोस्ट Free Press Journal में मई 2018 में छपी हुई है और यह बीएमसी द्वारा हाल ही में जारी सुचना नहीं है |

यह रिपोर्ट मई 6, 2018 को प्रकाशित हुई जो यह कहती है की " आने वाले दिनों में शहर में मैले पानी आने की आशंका है | बीएमसी ने नतीजन यह सुचना जारी की है |"

(अंग्रेजी में लिखित रिपोर्ट का हिस्सा : " There is a possibility of supply of turbid water in the city in the coming days. As a result, the BMC has issued the notice.")

यह भी पढ़ें: भारत सरकार की कोविड-19 के ख़िलाफ़ प्रतिक्रिया की प्रशंसा में अमेरिकी सी.इ.ओ ने बनाया यह मैप?


इस संदर्भ में यह साफ़ हो जाता है की बीएमसी द्वारा यह नोटिस पुराना है और इसे हाल ही में कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए जारी नहीं किया गया है |

हमारी खोज में यह LinkedIn पोस्ट भी सामने आयी जिसमें इसी अखबार की वायरल क्लिपिंग और उसमें दी गयी तस्वीर के साथ शेयर किया गया है |

बूम ने विजय खाम्ब्ले पाटिल, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, बृहामुंबई महानगर पालिका से संपर्क किया जिन्होंने यह कहा की : " हमने पहले लोगों को गरम पानी का सेवन करने की सलाह दी है लेकिन हाल में हमने ऐसा कोई नोटिस नहीं छापा |"

बूम ने Free Press Journal से भी बात करने की कोशिश की | उनके आने वाले जवाब को इस लेख में अपडेट किया जाएगा |

इस लेख के लिखे जाने तक महाराष्ट्र में (update) कोविड-19 संक्रमित केस दर्ज हुए है और 251 मौते हुई है | कोरोना वायरस के बारे में और जानकारी के लिए बूम के लाइव ब्लॉग को यहाँ फ़ॉलो करें |

Updated On: 2020-04-22T18:57:32+05:30
Claim Review :   वायरल अखबार क्लिपिंग का दावा की BMC ने गरम पानी के सेवन की सुचना कोरोना वायरस के उपाय के तौर पर दी
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story