क्या सोनिया गांधी दुनिया के सबसे अमीर राजनेताओं में शामिल हैं?

बूम ने पाया कि हफ़िंगटन पोस्ट के लेख में गांधी का नाम एक सूची में शामिल था, लेकिन बाद में खेद जताते हुए उसे हटा दिया गया

दुनिया के सबसे अमीर राजनेताओं की लिस्ट में सोनिया गांधी के नाम का दावा करने वाले एक न्यूज़पेपर की कतरन फिर से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। न्यूज़पेपर ने यह दावा हफिंगटन पोस्ट के हवाले से किया था। सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि 'देश को लूटने' के बाद सोनिया दुनिया की अमीर नेता बनी हैं।

बूम ने पाया कि हफ़िंगटन पोस्ट ने 2013 में प्रकाशित विश्व के 18 सबसे अमीर नेताओं की सूची में सोनिया गांधी का नाम शामिल किया तो था पर बाद में उनका नाम सूची से हटा दिया गया था और साथ ही एक स्पष्टीकरण जारी किया गया।

बूम पहले भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की संपत्ति के बारे में फ़र्जी ख़बरों का फ़ैक्ट चेक कर चुका है। भारतीय जनता पार्टी की नेता मेनका गांधी ने इसी ख़बर को दोहराया था जिसमें उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है ... 'अगर वह (सोनिया) दुनिया की छठी सबसे अमीर महिला हैं, तो पैसा कहां से आया? '

वायरल पोस्ट में एक अख़बार की ख़बर का कतरन शेयर किया जा रहा है, जिसकी हैडलाइन "सोनिया की संपत्ति एक खरब से ज्यादा!" है। नवभारत टाइम्स (एनबीटी) ने अपनी वेबसाइट पर इसी ख़बर को 3 दिसंबर 2013 को पब्लिश किया था। सोनिया गांधी के अलावा समाचार रिपोर्ट में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, थाईलैंड के राजा भूमिबोल अदुल्यादेज और इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय अमीर राजनेताओं की लिस्ट में शामिल हैं।

अख़बार ने लिखा कि दुनिया के 20 सबसे अमीर नेताओं में सोनिया गांधी की पोजिशन 12वीं है, यह कहना है अमेरिकी वेबसाइट हफिंगटन पोस्ट वर्ल्ड का।

'वोट फ़ॉर एमआईएम' टीशर्ट पहने शाहरुख़ खान की ये तस्वीर फ़ोटोशॉप्ड है

एक यूज़र ने एनबीटी की इसी ख़बर की कतरन को शेयर करते हुए लिखा कि "कितना लूटा है मेरे देश को...अब तो जागो मेरे देशवासियों,! दुनिया के सबसे 12 धनी नेताओं में शामिल सोनिया गांधी, कुल संपत्ति 2 अरब डॉलर, मतलब 1 खरब रुपए से भी ज्यादा,!!!"


पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न्स यहां और यहां देखें

बूम को अपने हेल्पलाइन नंबर पर वायरल पोस्ट की सत्यता की जांच करने के लिए इसका स्क्रीनशॉट मिला।


पाकिस्तानी झंडे के साथ राखी सावंत की तस्वीरें भ्रामक दावों के साथ वायरल

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल पोस्ट की सत्यता की जांच करने के लिए इससे जुड़े कुछ कीवर्ड्स की मदद से गूगल सर्च किया। हमें 29 नवंबर 2013 को हफिंगटन पोस्ट वेबसाइट पर प्रकाशित एक लेख मिला। इस सूची में 18 राजनेताओं के नाम शामिल थे। इस सूची में सोनिया गांधी का नाम नहीं था।

इस लेख में एक 'एडिटर नोट' में कहा गया है कि सोनिया गांधी और एक अन्य राजनेता का नाम इस सूची से हटा दिया गया है। हफ़िंगटन पोस्ट के लेख में एडिटर नोट को नीचे पढ़ें।

'एडिटर नोट: सोनिया गांधी और क़तर के पूर्व एमिर हामिद बिन खलीफा अल-थानी को इस सूची से हटा दिया गया है। गांधी को मूल रूप से एक थर्ड पार्टी साइट पर एक सूची के आधार पर शामिल किया गया था, जिसपर बाद में सवाल उठाये गए थे। हमारे एडिटर धनराशि को सत्यापित करने में असमर्थ हैं, लिंक को हटा दिया गया है और किसी भी भ्रम के लिए खेद है। 2013 में क़तर के अमीर की जगह उनके बेटे तमीम ने ली थी।


बूम पहले भी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की संपत्ति के बारे में फ़र्जी ख़बरों का फ़ैक्ट चेक कर चुका है।

मेनका गांधी ने उठाया सवाल, विश्व की छठी सबसे अमीर महिला कैसे बनीं सोनिया गांधी ? जानिए क्या है सच

इस फ़ैक्ट चेक के दौरान हमने 2014 के चुनावों से पहले घोषित की गई सोनिया गांधी की कुल संपत्ति पर नेशनल इलेक्शन वॉच के डाटा को देखा। उनकी धनराशि 9 करोड़ रुपये (9,28,95,288 रुपये) थी। 2009 में उनके द्वारा घोषित कुल संपत्ति 1 करोड़ रुपये (1,37,94,768 रुपये) थी, जबकि 2004 के डेटा के अनुसार 85 लाख रुपये (85,68,694 रुपये) थी।

आधिकारिक डाटा यहां देखें

बूम ने द गार्जियन (2012) और फोर्ब्स (2012) में प्रकाशित सबसे अमीर भारतियों और सबसे अमीर दुनिया के नेताओं की लिस्ट भी खंगाली, लेकिन उनमें से किसी भी लिस्ट में सोनिया गांधी का नाम नहीं पाया।

नहीं, कृषि बिल्स पारित होते ही अडानी का यह साइलो नहीं बनाया गया है

Updated On: 2020-09-27T20:42:53+05:30
Claim Review :   सोनिया गांधी दुनिया के 12 सबसे अमीर राजनेताओं में शामिल हैं
Claimed By :  Facebook Pages
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story