फ़र्ज़ी ट्विटर वोटिंग: रिपब्लिक चैनल का नाम इस्तेमाल कर अकाउंट वायरल

बूम ने पाया कि ट्विटर हैंडल @RepublicPoll रिपब्लिक टीवी से जुड़ा नहीं है

अर्नब गोस्वामी के नेतृत्व वाले रिपब्लिक टीवी की नकल करते हुए, रिपब्लिक पोल नाम के एक नकली ट्विटर अकाउंट अपने विवादास्पद पोल के कारण नेटिज़न्स के गुस्से का शिकार बन रहा है। पत्रकारों सहित कई ट्विटर यूज़र इस अकाउंट को चैनल का आधिकारिक अकाउंट मान रहे हैं।

फ़र्ज़ी अकाउंट (@RepublicPoll) रिपब्लिक टीवी के लोगो के समान ही लोगो का इस्तेमाल करता है और इसके बायो में यह उल्लेख नहीं है कि क्या यह रिपब्लिक टीवी से संबंधित है या यह एक फैंस अकाउंट है। ट्विटर के नियमों के लिए यह आवश्यक है कि फैंस अकाउंट या पैरोडी अकाउंट इस तरह के अकाउंट होने का संकेत दें।

यह भी पढ़ें: सालों पुरानी तस्वीर को भारतीय सेना के ख़िलाफ किया गया इस्तेमाल


द वायर.इन के संस्थापक संपादक सिद्धार्थ वर्धराजन ने अब डिलीट किए गए एक ट्वीट में, फ़र्ज़ी अकाउंट द्वारा एक पोल के एक स्क्रीनशॉट को शेयर करते हुए दावा किया कि यह एक "राष्ट्रवादी" मीडिया हाउस द्वारा किया गया पोल था।


कई ट्विटर यूज़र्स द्वारा यह बताने के बाद कि यह अकाउंट फ़र्ज़ी था, बाद में वर्धराजन ने स्पष्ट किया कि यह एक पैरोडी अकाउंट था।


अर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी का दावा, 2014 से एनआरसी पर सरकार द्वारा कोई चर्चा नहीं की गई

हमने रिपब्लिक टीवी के आधिकारिक लोगो की तुलना नकली ट्विटर अकाउंट द्वारा उपयोग किए गए लोगो से की और पाया कि वे मेल नहीं खाते हैं। फ़र्ज़ी अकाउंट को 1 अप्रैल 2019 को बनाया गया है और यह सत्यापित नहीं है, जबकि रिपब्लिक टीवी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट को दिसंबर 2016 में बनाया गया था।


रिपब्लिक टीवी (@Republic) अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोल कर रहा है।

फ़र्ज़ी अकाउंट नियमित रूप से इन पोल को ट्वीट करता रहा है। लेख लिखते समय, इसमें 244 ट्वीट हैं, जिनमें से सभी विवादास्पद पोल हैं। वर्तमान में इसके 2,671 फॉलोअर्स हैं, जबकि आधिकारिक रिपब्लिक टीवी ट्विटर अकाउंट के 769 लाख फॉलोअर्स हैं और रेपुब्लीक का आधिकारिक हैंडल इस फ़र्ज़ी हैंडल को फॉलो नहीं कर रहा है।

'@RepublicPoll' द्वारा लोड किए गए पोल

वैचारिक रूप से दक्षिणपंथी झुकाव दिखाते हुए फ़र्ज़ी अकाउंट हाल के मुद्दों पर पोल ट्वीट कर रहा है। अर्काइव देखने के लिए यहां देखें

अर्काइव के लिए यहां देखें

अर्काइव के लिए यहां देखें

कई ट्विटर यूज़र्स पोल से संबंधित ट्वीट के कारण झांसे में आ गए हैं। फ़र्ज़ी अकाउंट ने उन पोल को भी हटा दिया है जो इसके अनुकूल नहीं हैं।


Claim Review :  रिपब्लिक चैनल ट्विटर पर वोटिंग करवा रहा है
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story