मध्य प्रदेश में बलात्कार के आरोपी की तस्वीर हाथरस मामले से जोड़कर वायरल

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर में सिकंदर खान है, जिसे सतना पुलिस (मध्य प्रदेश) ने एक नाबालिग का यौन शोषण करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।

मध्य प्रदेश में पुलिस हिरासत में बलात्कार के एक आरोपी की तस्वीर फ़ेसबुक पर वायरल हो रही है। तस्वीर शेयर करते हुए यूज़र्स दावा कर रहे हैं कि तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक दलित युवती के कथित सामूहिक बलात्कार और हत्या के आरोपियों में से एक आरोपी है।

वायरल पोस्ट में एक पोस्टर की तस्वीर में आरोपी को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को श्रद्धांजलि देते हुए देखा जा सकता है। दोनों तस्वीर शेयर करते हुए कहा जा रहा है कि 14 सितंबर को हाथरस में एक दलित महिला के साथ सामूहिक बलात्कार और हमले के आरोपियों में से एक कांग्रेस नेता को गिरफ्तार किया गया था।

गौरतलब है कि पीड़िता ने दो सप्ताह बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया था। दलित युवती के साथ दरिंदगी और उसकी निर्मम हत्या के बाद देशभर में आक्रोश बढ़ गया था। पीड़िता की मौत के बाद प्रशासन ने जल्दबाजी में 30 सितम्बर की रात में ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया जिसके बाद देशभर में उत्तर प्रदेश पुलिस की भारी आलोचना हुई |

हाथरस सामूहिक बलात्कार मामले के आरोपियों की पहचान अब तक रामू, संदीप, उसके चाचा रवि और दोस्त लवकुश के रूप में हुई है। चारों आरोपी पुलिस की हिरासत में हैं।

वायरल तस्वीर में दिख रहे व्यक्ति की पहचान मध्य प्रदेश के सिकंदर खान के रूप में हुई, जिसे सितंबर में बलात्कार के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था। बूम ने कांग्रेस कमेटी, सतना के जिला अध्यक्ष मक़सूद अहमद से संपर्क किया, जिन्होंने स्पष्ट किया कि आरोपी कांग्रेस पार्टी का सदस्य नहीं है।

2016 का पुराना वीडियो कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह की पिटाई बताकर वायरल

तस्वीर शेयर करते हुए अंग्रेजी और तेलुगु में वायरल पोस्ट में कैप्शन दिया गया है, "समीर खान उत्तर प्रदेश कांग्रेस नेता। इस आदमी ने एक दलित महिला को ख़त्म कर दिया है। क्या आप सामना करना चाहते हैं या नहीं।"


पोस्ट के आर्काइव के लिए यहां क्लिक करें।

तेलुगु में लिखे कैप्शन में एक यूज़र ने कहा कि "उत्तर प्रदेश में एक दलित महिला के बलात्कार के मामले में कांग्रेस नेता समीर खान को पुलिस ने पकड़ा। पुलिस ने मामले में आरोपी की पुष्टि की है कि अदालत में पेश होने के बाद उसे 15 दिनों के लिए रिमांड पर लिया गया है। अब बताइए दलितों का बलात्कार किसने किया! कल तक, जो लोग बहुत पोस्ट करते थे, अब मुझे बताओ, क्या हमें उनका सामना करना चाहिए या नहीं? अब पोस्ट रखो। इस आदमी का सामना करें जिसने एक दलित महिला को बर्बाद दिया। कोई नहीं बोलेगा, कोई नहीं बोलेगा?"

तालियों और फूलों से सम्मानित यह महिला हाथरस गैंगरेप पीड़िता नहीं है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें इससे जुड़ी कई मीडिया रिपोर्ट्स मिलीं। पंजाब केसरी के मध्य प्रदेश ब्यूरो की रिपोर्ट मिली जिसमें छपी तस्वीर में सिकंदर खान को पुलिस हिरासत में देखा जा सकता है।


समाचार के अनुसार, सितंबर में एक नाबालिग ने स्थानीय कांग्रेस नेता के ख़िलाफ़ यौन शोषण की शिकायत दर्ज की थी, जिसके बाद सतना पुलिस ने उसे गिरफ़्तार किया था। लेख में आगे कहा गया है कि आरोपी ने शुरुआत में नाबालिग से फ़ेसबुक पर दोस्ती की और बाद में कई मौकों पर उसका यौन शोषण किया। आरोपी ने लड़की का अश्लील वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल भी किया।

न्यूज 18 की एक न्यूज़ रिपोर्ट के अनुसार, उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया था और उसके खिलाफ यौन अपराधों से संबंधित पोक्सो अधिनियम के अंतर्गत संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था और उसे अदालत में पेश करने के बाद पुलिस हिरासत में भेज दिया गया था, पुलिस अधीक्षक सतना रियाज इकबाल ने बताया। रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि उस व्यक्ति ने कांग्रेस नेता के रूप में कई कांग्रेस नेताओं के साथ तस्वीर में देखा गया है।

एक प्रेस वार्ता में सतना में पुलिस ने खुलासा किया कि आरोपी ने अपने चार नाम रखे हुए थे – अतीक, समीर, सिकंदर और गिन्नी खान।

आरोपी के कांग्रेस के साथ लिंक पर सवाल

यह स्पष्ट नहीं है कि वायरल पोस्ट के दावे के अनुसार सिकंदर खान का संबंध कांग्रेस से है या नहीं। बूम ने कांग्रेस कमेटी सतना के जिला अध्यक्ष मक़सूद अहमद से संपर्क किया | अहमद ने आरोपी को कांग्रेस से असंबंधित बताते हुए कहा कि "सिकंदर खान कोई नेता नहीं है और ना ही उसके पास किसी प्रकार का पद है | न ही वह कांग्रेस पार्टी का सदस्य है। बीजेपी ने बलात्कार के आरोपों को कांग्रेस के साथ जोड़कर सांप्रदायिक मोड़ देने की कोशिश की।" यह पूछे जाने पर कि आरोपी की तस्वीर मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक राजेंद्र कुमार सिंह के साथ क्यों है, अहमद ने कहा, "ये पोस्टर सिकंदर खान द्वारा राजेंद्र कुमार सिंह के जन्मदिन के दौरान जारी किए गए थे और कांग्रेस पार्टी किसी भी व्यक्तिगत संबंधों के लिए ज़िम्मेदार नहीं है।"

श्रीलंका से एक आर्टिस्ट की पुरानी तस्वीर हाथरस रेप के ख़िलाफ़ प्रदर्शन के रूप में वायरल

Claim Review :   तस्वीर में हाथरस गैंगरेप आरोपियों में से एक कांग्रेस नेता
Claimed By :  Facebook Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story