लड़की से जबरदस्ती दिखाता यह वीडियो पश्चिम बंगाल का नहीं है

नेटिज़ेंस दावा कर रहे हैं कि यह वीडियो पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान फिल्माया गया था.

बांग्लादेश में शादी के लिए एक महिला ने इस्लाम कुबूल किया और एक मुस्लिम से शादी की. उस महिला के साथ मारपीट और जबरदस्ती दिखाता एक वीडियो वायरल है. नेटिज़ेंस फ़र्ज़ी दावा कर रहे हैं कि यह पश्चिम बंगाल के पिंगला में हाल में हुए एक रेप और हत्या का मामला दिखाता है.

पश्चिम बंगाल के वेस्ट मेदिनीपुर ज़िले में 3 मई को दो मकान मिस्त्रियों ने एक 20 वर्षीय लड़की का कथित रेप किया और उसकी हत्या की. एक और फ़र्ज़ी खबर वायरल थी जहाँ नेटिज़ेंस दावा कर रहे थे कि लड़की भारतीय जनता पार्टी की कार्यकर्ता है जिसपर तृणमूल कांग्रेस के 'गुंडों' ने हमला किया है. हालांकि बूम ने पीड़िता के परिवार और पुलिस से पुष्टि की थी कि उसकी मृत्यु गैर-राजनैतिक थी.

पूरा फैक्ट चेक यहां पढ़ें.

क्या इन पक्षियों की मौत का कारण 5G टेस्टिंग है? फ़ैक्ट चेक

परेशान कर देने वाले दृश्यों का यह वीडियो कुछ पुरुषों द्वारा एक महिला को खींचते दिखाता है जिसके साथ लिखा है: "भाजपा कार्यकर्ता बूथ पोलिंग एजेंट *** बंगाल टीएमसी को इससे बड़ा सबूत भी चाहिए क्या उठा के ले जाते हुए लड़की को दिन दहाड़े 15-20 गुण्डो द्वारा बलात्कार और फिर हत्या दरअसल बंगाल इंसानों का नहीं हैवानों का गढ़ हैं ओर यहां लोग खुश हो रहे की सही हुआ"

कुछ पोस्ट्स के स्क्रीनशॉट नीचे देखें और इनके आर्काइव्ड वर्शन यहां और यहां देखें.


तस्वीर में राहुल और सोनिया गांधी के साथ दिख रहा शख़्स नवनीत कालरा नहीं है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने पाया कि वीडियो में लोग पूर्वी बंगाली भाषी हैं इसका मतलब यह है कि वीडियो बांग्लादेश से है.

इसके बाद कुछ फ़्रेम्स के साथ रिवर्स इमेज सर्च करने पर हम बांग्लादेशी फ़ेसबुक यूज़र रहमत अली हलाली के पेज पर पहुंचे. इस पेज पर वीडियो का लम्बा वर्शन मौजूद है जो 27 अप्रैल 2021 को अपलोड किया गया था.


पोस्ट के अनुसार, वीडियो में महिला की पहचान श्राबंत्ति रानी उर्फ़ ​​जन्नतुल फ़िरदौस [शादी के बाद का नाम] के रूप में हुई है, जिसे पुलिस की मदद से स्थानीय प्रभावशाली लोगों द्वारा जबरन उसके हिंदू माता-पिता को सौंप दिया गया था.

यह घटना दौलतखान, भोला, बांग्लादेश में हुई थी. इस लम्बे वर्शन में श्राबंत्ति कहती नज़र आती है कि वह अपने माता पिता के घर नहीं जाएगी और पति कमरुल के साथ रहेगी. इसके बाद कीवर्ड्स खोज पर पर हमें मीडिया रिपोर्ट्स मिली जो इस घटना पर आधारित थीं.

अमादेर शोमॉय द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, श्राबंत्ति रानी ने कमरुल इस्लाम से शादी की और इस्लाम अपनाया. जब उनके पिता शंकर चंद्र मंडल ने अपहरण और महिला और बाल उत्पीड़न रोकथाम अधिनियम के तहत एक मामले की लिखित शिकायत दर्ज की, तो श्राबंत्ति को स्थानीय पुलिस ने 'बचाया' और उसके परिवार को सौंप दिया.


रिपोर्ट में कहा गया है, "दौलतखान पुलिस अधिकारी (ओसी) बजलुर रहमान ने कहा कि लड़की नाबालिग थी और उनके पास शादी करने या शादी करने या कन्वर्ट होने की कोई कानूनी स्थिति नहीं थी." दौलतखान थाना ने घटना के बारे में बताते हुए फेसबुक पर एक पोस्ट भी लिखा.

ढाका पोस्ट के अनुसार श्राबंत्ति के पति कमरुल इस्लाम ने दावा किया है कि उसकी पत्नी 18 वर्ष की है जो 3 मार्च 2003 को पैदा हुई थी.

एक फ़ेसबुक वीडियो पोस्ट में कमरुल घटनाक्रम बताता नज़र आता है.

कुछ बांग्लादेशी यूट्यूब चैनल भी इस वीडियो को साझा कर रहे हैं.

(बूम बांग्लादेश के इनपुट्स के साथ)

यह कहानी एकता कंसोर्टियम - भारत में छह फ़ैक्ट चेकिंग संगठनों के सहयोग का समूह - के एक भाग के रूप में प्रकाशित हुई है.

Claim Review :   वीडियो टी.एम.सी के गुंडों द्वारा बीजेपी पोलिंग एजेंट के साथ जबरदस्ती दिखाता है.
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story