नहीं, दिल्ली की अकबर रोड का नाम बदलकर सम्राट विक्रमादित्य मार्ग नहीं किया गया

नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् के SE एच.पी सिंह ने वायरल पोस्ट में किये जा रहे दावे को सिरे से ख़ारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि अकबर रोड का नाम बदलने का कोई प्रस्ताव नहीं है.

सोशल मीडिया पर एक वायरल पोस्ट, जिसमें दावा किया गया है कि दिल्ली (Delhi) की अकबर रोड (Akbar Road) का नाम बदलकर सम्राट विक्रमादित्य मार्ग (Vikramaditya Marg) कर दिया गया है. यूज़र्स इस पोस्ट को बड़ी तादाद में शेयर कर रहे हैं.

बूम ने पाया कि वायरल पोस्ट फ़र्ज़ी है. नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् (NDMC) के SE एच.पी सिंह ने वायरल पोस्ट में किये जा रहे दावे को सिरे से ख़ारिज कर दिया.

UP में दुर्गा पूजा के दौरान साम्प्रदायिक हिंसा बताकर छत्तीसगढ़ का वीडियो वायरल

बीते हफ़्ते, 7 अक्टूबर को हिन्दू सेना के कार्यकर्ता ने अकबर रोड के साइन बोर्ड पर सम्राट विक्रमादित्य के नाम का पोस्टर और तस्वीर चस्पा कर दिया था. वायरल पोस्ट उसी पृष्ठभूमि में वायरल है.

वायरल पोस्ट में लिखा है, "ख़ुशख़बरी दिल्ली की अकबर रोड का नाम बदलकर सम्राट विक्रमादित्य मार्ग किया। आपका समस्त हिन्दु समाज आभारी रहेगा। जय श्री राम 🚩🚩"



पोस्ट यहां देखें

फ़ेसबुक और ट्विटर पर यह पोस्ट बड़ी संख्या में शेयर किया गया है.




वीडियो पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को ईसाई दीक्षा ग्रहण करते नहीं दिखाता

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल पोस्ट की सत्यता जानने के लिए सबसे पहले मीडिया रिपोर्ट्स खंगाली कि क्या सेंट्रल दिल्ली के वीवीआईपी इलाक़े की अकबर रोड का नाम बदलकर सम्राट विक्रमादित्य के नाम पर किया गया है? हमें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं मिली जो इस दावे की पुष्टि करती हो.

7 अक्टूबर 2021 को प्रकाशित अमर उजाला की एक रिपोर्ट के अनुसार, बीते हफ़्ते 7 अक्टूबर को हिन्दू सेना के कार्यकर्ता ने अकबर रोड के साइन बोर्ड पर सम्राट विक्रमादित्य मार्ग के नाम का पोस्टर और तस्वीर चस्पा कर दिया था. बाद में नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् (NDMC) ने हटा दिया.

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि इस मामले की शिकायत तुग़लक रोड थाने में की गई जिसके बाद पुलिस ने हिन्दू सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु गुप्ता सहित अन्य के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया था.

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, साल 2018 में भी अकबर रोड के साइन बोर्ड पर 'महाराणा प्रताप मार्ग' का पोस्टर लगाया गया था.

बूम ने अकबर रोड का नाम बदलने के दावे के संदर्भ में जानकारी प्राप्त करने के लिए नई दिल्ली नगर पालिका परिषद् के रोड-II डिवीज़न के सुपरीटेंडेंट इंजीनियर (SE) एच.पी सिंह से संपर्क किया.

एच.पी सिंह ने वायरल पोस्ट में किये जा रहे दावे को सिरे से ख़ारिज कर दिया. उन्होंने हमें बताया कि अकबर रोड का नाम बदलने का कोई प्रस्ताव नहीं है.

क्या अरविंद केजरीवाल ने कोयला दान करने के लिए अख़बार में विज्ञापन दिया है?

Claim Review :   दिल्ली की अकबर रोड का नाम बदलकर सम्राट विक्रमादित्य मार्ग किया
Claimed By :  Social Media Posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story