तस्वीर में दिख रही इमारत अमेरिका में बाबा साहब आंबेडकर की लाइब्रेरी नहीं है

तस्वीर के कैप्शन में "बाबा साहब की लाइब्रेरी का बाहरी दृश्य" और इमारत पर 'जय भीम' के साथ बी.आर आंबेडकर की तस्वीर लगाई गई है.

बेल्जियम के ब्रुसेल्स (Brussels) में प्रस्तावित एक इको फ्रेंडली इमारत के नमूने की एक तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर वायरल है. तस्वीर शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि यह अमेरिका में भीमराव आंबेडकर (B.R Ambedkar) के नाम पर बनी लाइब्रेरी का बाहरी दृश्य है.

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर के साथ किया जा रहा दावा फ़र्ज़ी है. असल में वायरल तस्वीर आर्किटेक्ट विंसेंट कैलेबाउट द्वारा ब्रुसेल्स में औद्योगिक क्षेत्र टूर एंड टैक्सिस को अत्याधुनिक और इको फ्रेंडली रूप में बदलने की महत्वाकांक्षी योजना का एक नमूना है.

वायरल तस्वीर के कैप्शन में लिखा है कि "बाबा साहब की लाइब्रेरी का बाहरी दृश्य और इमारत पर 'जय भीम' के साथ बीआर आंबेडकर की तस्वीर लगाई गई है. तस्वीर के नीचे कैप्शन में लिखा है "यह अमेरिका में बना विशाल पुस्तकालय जो बाबा साहब के नाम है! जो कि बाबा साहब की याद में."

फ़ैक्ट चेक : कोका-कोला कंपनी ने किसान आंदोलन का समर्थन किया है?

इस वायरल तस्वीर को फ़ेसबुक पर बड़ी तादाद में शेयर किया गया है.

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें. अन्य पोस्ट यहां और यहां देखें.


हैदराबाद के पुल पर नहीं लगी ट्रक में आग, यह घटना पुणे की है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने तस्वीर को रिवर्स इमेज पर सर्च किया तो हमें कई खोज परिणाम मिले, जिसमें कहा गया है कि तस्वीर बेल्जियम के ब्रुसेल्स में प्रस्तावित टूर एंड टैक्सिस का एनर्जी-प्लस मास्टरप्लान है. इसको आर्किटेक्ट विंसेंट कैलेबाउट ने डिज़ाइन किया है.

डिज़ाइन बूम वेबसाइट के अनुसार, आर्किटेक्ट विन्सेंट कैलेबाउट ने ब्रुसेल्स के एक पुराने औद्योगिक क्षेत्र टूर एंड टैक्सिस को मिश्रित-उपयोग वाले इको-नेबरहुड में बदलने की योजना का प्रस्ताव दिया है. मास्टरप्लान में आवासीय, ख़ुदरा, कार्यालय और अवकाश स्थान शामिल हैं, और यूरोपीय शहरों में नए सस्टेनेबल कम्युनिटी के लिए एक मॉडल के रूप में कल्पना की गई है जहां इको-फ्रेंडली शहर पहले ही स्थापित हो चुके हैं.


इसके अलावा न्यू एटलस वेबसाइट में बताया गया है कि विंसेंट कैलेबाउट ने टूर एंड टैक्सिस, ब्रुसेल्स में एक पूर्व औद्योगिक क्षेत्र को अत्याधुनिक सस्टेनेबल कम्युनिटी में बदलने की महत्वाकांक्षी योजना का अनावरण किया है. इस प्रस्ताव में मौजूदा इमारतों का नवीनीकरण और नई हरियाली-क्लैड आवासीय ऊंची इमारतों का निर्माण शामिल है. स्वाभाविक रूप से, एक कैलेबाउट परियोजना होने के नाते, यह ग्रीन टेक के साथ-साथ इससे अधिक ऊर्जा का उत्पादन होगा.

हमें आर्किटेक्ट विंसेंट कैलेबाउट ट्विटर हैंडल से 15 दिसंबर, 2018 को किये गए ट्वीट में हूबहू वही तस्वीर मिली, जो वर्तमान में वायरल है. तस्वीर के साथ ट्वीट में कहा गया है कि "टूर एंड टाक्सिस के 3 ऊर्ध्वाधर जंगल के निर्माण के लिए एनर्जी-प्लस मास्टरप्लान."

नहीं, रिलायंस ने राम मंदिर के लिए सौर ऊर्जा प्लांट दान नहीं किया है

Claim Review :   अमेरिका में बाबा साहब की लाइब्रेरी का बाहरी दृश्य
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story