तेज प्रताप यादव को तक्षशिला यूनिवर्सिटी से डॉक्टरेट मिलने का दावा फ़र्ज़ी है

दावा है कि वायरल तस्वीर "दसवीं फ़ेल तेज प्रताप यादव को बिहार की तक्षशिला यूनिवर्सिटी से डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त करते हुए दिखाती है."

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) की एक पुरानी तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल है. दावा किया गया है कि यह तस्वीर "दसवीं फ़ेल तेज प्रताप यादव को बिहार की तक्षशिला यूनिवर्सिटी (Takshashila University) से डॉक्टरेट की उपाधि (Doctorate degree) प्राप्त करते हुए दिखाती है."

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर के साथ किया गया दावा फ़र्ज़ी है. असल तस्वीर साल 2017 से है जब वो बतौर चीफ़ गेस्ट पटना के इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (IGIMS) के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए थे.

पिछले हफ़्ते वायरल रहीं पांच बड़ी फ़र्ज़ी ख़बरें

गौरतलब है कि तेज प्रताप यादव अपने बयानों और विचारों के कारण अक्सर चर्चा में बने रहते हैं. तेज प्रताप को पार्टी लाइन से हटकर काम करने और बयान देने वाले नेता के रूप में जाना जाता है. सोशल मीडिया पर तेज प्रताप पर चुटकी लेते कई पोस्ट वायरल रहते हैं.


वायरल तस्वीर पर अंग्रेजी में लिखा है, जिसका हिंदी अनुवाद- "मुझे आपको यह बताते हुए बेहद खुशी हो रही है कि लालू प्रसाद यादव के बेटे श्री तेज प्रताप यादव (10 फेल) ने तक्षशिला विश्वविद्यालय, बिहार से डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की है. यह सभी भारतीयों के लिए बड़े गर्व की बात है. डॉक्टर तेज प्रताप यादव जी को बधाई. ऐसा सिर्फ भारत में होता है..जय हो"

फ़ेसबुक पर यह तस्वीर इसी दावे के साथ साल 2017 में बड़े पैमाने पर वायरल थी. पोस्ट यहां, यहां और यहां देखें

यूपी सरकार के विज्ञापन में कोलकाता फ़्लाईओवर की तस्वीर छापने के लिए इंडियन एक्सप्रेस ने जताया खेद

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए इसे रिवर्स इमेज पर चलाया तो हूबहू इसी तस्वीर के साथ जून 2017 में किया गया एक ट्वीट मिला, जिसमें बताया गया है कि तेज प्रताप यादव MBBS डिग्री दे रहे हैं.

इससे हिंट लेते हुए हमने न्यूज़ रिपोर्ट खंगाली तो 12 फ़रवरी 2017 में प्रकाशित टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट के अनुसार पटना के इंदिरा गांधी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज (IGIMS) के वार्षिक दीक्षांत समारोह में स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने 78 एमबीबीएस, 20 पोस्टग्रेजुएट सहित 20 पैरामेडिक्स छात्र-छात्राओं को डिग्री प्रदान की.

आगे जांच के दौरान हमें बिहार के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव द्वारा 11 फ़रवरी 2017 को किया गया एक ट्वीट मिला, जिसमें उन्होंने IGIMS के दीक्षांत समारोह में छात्र-छात्राओं को डिग्रियां प्रदान करते दिखाती तस्वीरें शेयर की थीं.

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, "आज IGIMS के तृतीय दीक्षांत समारोह में शामिल हुआ तथा सभी उत्तीर्ण छात्र-छात्राओं को अपने हाथों डीग्री सर्टिफिकेट व गोल्ड मेडल दिया."

इसके अलावा हमें आरजेडी बिहार नाम के यूट्यूब चैनल पर मार्च 2017 में अपलोड किया गया एक वीडियो मिला. वीडियो के टाइटल में "IGIMS के तीसरे दीक्षांत समारोह के अवसर पर तेज प्रताप यादव" लिखा है. वीडियो में 7 मिनट 25 सेकंड की समयावधि पर तेज प्रताप को उसी छात्रा को मेडल और सर्टिफिकेट प्रदान करते हुए देखा जा सकता है जोकि वायरल तस्वीर में है.

वहीं वायरल तस्वीर के साथ तेज प्रताप यादव की शिक्षा से भी जोड़कर एक दावा किया गया है कि वो दसवीं फ़ेल हैं. बूम ने पाया कि यह दावा भी फ़र्ज़ी है. समस्तीपुर ज़िले के हसनपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक तेज प्रताप यादव के चुनावी हलफ़नामे के अनुसार उन्होंने बारहवीं तक पढ़ाई की है.

पीएम मोदी और इमरान खान को साथ में भोजन करते दिखाती यह तस्वीर फ़ेक है

Claim Review :   दसवीं फ़ेल तेज प्रताप यादव को बिहार की तक्षशिला यूनिवर्सिटी से डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story