यूपी बोर्ड 2021: 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा रिज़ल्ट का फ़ॉर्मूला जारी

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के रिज़ल्ट के लिए मूल्यांकन फ़ॉर्मूला जारी कर दिया है. किस आधार पर किया जाएगा मूल्यांकन. जानिए इस रिपोर्ट में.

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UP Board Exam Results 2021) ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के रिज़ल्ट के लिए मूल्यांकन फ़ॉर्मूला (Evaluation Formula) जारी कर दिया है. अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला की अध्यक्षता में गठित कमेटी के ड्राफ्ट के अनुसार 12वीं बोर्ड परीक्षा रिज़ल्ट कक्षा 10, 11 और 12वीं प्री-बोर्ड में प्राप्त अंको के आधार पर तैयार किया जायेगा, वहीं 10वीं बोर्ड परीक्षा का रिज़ल्ट कक्षा 9 और 10वीं प्री-बोर्ड परीक्षा के प्राप्तांकों पर तैयार किया जायेगा.

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा (Dr Dinesh Sharma) ने रविवार, 20 जून को ट्वीट करते हुए मूल्यांकन का फ़ॉर्मूला जारी किया. उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परिषद की कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षा के रिज़ल्ट के लिए मूल्यांकन का निर्धारण शिक्षा क्षेत्र से जुड़े जनप्रतिनिधियों, शिक्षाविदों, शिक्षकसंघों, अभिभावक संघों से राय प्राप्त करके 11 सदस्यीय समिति द्वारा किया गया है.

CBSE ने जारी किया बोर्ड परीक्षा के रिज़ल्ट का फ़ॉर्मूला, 31 जुलाई को रिज़ल्ट

इस फ़ॉर्मूला के तहत 12वीं बोर्ड परीक्षा का रिज़ल्ट, हाईस्कूल में प्राप्त अंकों के 50 प्रतिशत, कक्षा 11 के वार्षिक/अर्द्धवार्षिक परीक्षा के 40 प्रतिशत और कक्षा 12 के प्री-बोर्ड परीक्षा में प्राप्त अंको का 10 प्रतिशत जोड़कर फाइनल रिज़ल्ट तैयार किया जायेगा.

वहीं, हाईस्कूल बोर्ड परीक्षा रिज़ल्ट का मूल्यांकन कक्षा 9 में प्राप्त अंको का 50 प्रतिशत और 10वीं के प्री-बोर्ड परीक्षा के प्राप्ताकों से 50 प्रतिशत अंक जोड़कर किया जायेगा.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते उत्तर प्रदेश सरकार ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा को रद्द कर दिया था. हाल ही में, सीबीएसई ने भी बोर्ड परीक्षा रिज़ल्ट के मूल्यांकन का फ़ॉर्मूला जारी किया था. सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 12 की परीक्षा के मूल्यांकन फ़ॉर्मूला के अनुसार रिज़ल्ट में 40 प्रतिशत अंक 12वीं कक्षा के प्री-बोर्ड,10वीं और 11वीं के परीक्षा के 30-30 प्रतिशत अंक जोड़कर फ़ाइनल रिज़ल्ट दिया जायेगा. बोर्ड ने 12वीं के रिज़ल्ट में पिछली परीक्षाओं के प्रदर्शन को भी अहमियत देने का फ़ैसला किया था.

पूर्व CJI रंजन गोगोई के नाम पर चल रहे फ़र्ज़ी ट्विटर हैंडल्स से फैलाई जा रही हैं फ़र्ज़ी ख़बरें

Show Full Article
Next Story
Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please reload after ad blocker is disabled.