धरने पर बैठे डॉ हर्षवर्धन की पुरानी तस्वीर क्यों हो रही है वायरल?

दावा किया जा रहा है कि तस्वीर स्वास्थ्य मंत्री को बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग करते हुए दिखाती है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Dr Harshvardhan) की एक दो साल पुरानी तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल है. तस्वीर में हर्षवर्धन धरने पर बैठे नज़र आते हैं. साथ में दावा किया गया है कि यह वर्तमान में ली गयी तस्वीर है जो देश के स्वास्थ मंत्री को बंगाल में राष्ट्रपति शासन (President rule) की मांग करते हुए बिना मास्क (without mask) के धरने पर बैठे दिखाती है.

बूम ने पाया कि तस्वीर मई 2019 में महामारी के शुरू होने से भी महीनों पहले ली गयी है. इस तस्वीर में डॉ हर्षवर्धन सहित कई केंद्रीय मंत्री थे जो अमित शाह (Amit Shah) पर कोलकाता में हुए हमले का विरोध कर रहे थे. यह प्रदर्शन दिल्ली के जंतर मंतर पर हुआ था. ध्यान रहे कि कोरोनावायरस (Coronavirus) का पहला मामला वुहान, चीन, में 2019 के नवंबर में पाया गया था. भारत में पहला मामला 27 जनवरी 2020 को केरला में पाया गया था.

हाल ही में पश्चिम बंगाल चुनाव (West Bengal election) समाप्त हुए है जिसमें तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) ने भारी जीत हासिल की है. चुनाव के परिणाम आने पर बंगाल के कई हिस्सों में हिंसा हुई और कई जाने गयी. इसी बीच राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की चर्चा ने भी ज़ोर पकड़ा. यह तस्वीर इसी दौरान वायरल हो रही है.

ममता बनर्जी का पुराना वीडियो भ्रामक दावों के साथ वायरल

तस्वीर के साथ फ़र्ज़ी दावे में लिखा है: "यह है देश कि सिस्टम..!! बीच में बैठा आदमी, इस देश का "स्वास्थ्य मंत्री" है। बंगाल की हार नही पचने के कारण राष्ट्रपति शासन लगा दो यह कहते हुए धरना पर बैठ गये बिना मास्क ! देश मे रोज "ऑक्सिजन और दवा" की कमी से 3000 से 3500 और ज्यादा भी मर रहे हैं यह दिखाई नहीं देते क्योकि इनको सिर्फ अपने कुर्सी कि चिंता है जनता जाए भाड़ में...!!"

कुछ पोस्ट्स नीचे देखें और इनके आर्काइव्ड वर्शन यहां और यहां देखें.




क्या विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जी 7 सम्मलेन के दौरान क्वारंटाइन तोड़ा है?

फ़ैक्ट चेक

बूम ने तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च पर डाला और इंडियन एक्सप्रेस का एक आर्टिकल पाया. यह आर्टिकल 16 मई 2019 को प्रकाशित हुआ था. इसमें बताया गया है कि डॉ हर्षवर्धन दिल्ली के जंतर मंतर पर उस वक़्त अमित शाह के काफ़िले पर कोलकाता में हुए हमले का विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. हर्षवर्धन के साथ अन्य केंद्रीय मंत्री जैसे निर्मला सीतारमण भी मौजूद थीं.


इसके अलावा सामान फ़ोटो एशियन न्यूज़ इंटरनेशनल की वेबसाइट पर भी प्रकाशित हुई थी. हालांकि वायरल तस्वीर के हूबहू तस्वीर नहीं मिली परन्तु तुलना करने पर हर्षवर्धन के हाथ का प्लेकार्ड, उनके आसपास बैठे व्यक्ति और परिदृश्य एकदम सामान है.

हमें इसी प्रदर्शन के दौरान ली गयी फ़ोटो के साथ उत्तरपूर्वी संभव विकास राज्य केंद्रीय मंत्री डॉ जीतेन्द्र सिंह का ट्वीट भी मिला.


ऑक्सीजन टैंकर पर लगे रिलायंस स्टीकर का वीडियो फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल

Claim Review :   बीच में बैठा आदमी, इस देश का “स्वास्थ्य मंत्री” है। बंगाल की हार नही पचने के कारण राष्ट्रपति शासन लगा दो यह कहते हुए धरना पर बैठ गये बिना मास्क
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story