जापान में 2011 सुनामी की वीडियो चीन में बाढ़ की स्थिति के रूप में वायरल

वायरल वीडियो शेयर करते हुए दावा किया गया है कि यह क्लिप चीन में अब तक की सबसे भयानक बाढ़ के दृश्य दिखाती है.

चीन (China) का हेनान प्रांत भारी बारिश की वजह से बाढ़ (Flood) का सामना कर रहा है. सोशल मीडिया यूज़र्स चीन में बाढ़ की भयावह स्थिति दिखाते वीडियो और तस्वीरें शेयर कर रहे हैं. इस बीच ऐसा ही एक वीडियो फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल है. एयरपोर्ट पर विमानों से टकराते सैलाब का दृश्य दिखाता एक वीडियो इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि यह चीन में अब तक की सबसे बड़ी बाढ़ की त्रासदी दिखाता है.

बूम ने पाया कि यह वीडियो चीन की बाढ़ से संबंधित नहीं है. असल में, यह वीडियो साल 2011 में जापान में आई सुनामी के दौरान लिया गया था.

वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि पानी का सैलाब बड़ी तेज़ी से एयरपोर्ट के रनवे पर घुस रहा है. इसके बाद कार, हेलिकॉप्टर और विमान पानी के तेज़ बहाव में मलबे के साथ बह रहे हैं.

अखिलेश यादव के नाम से बाबरी मस्जिद को लेकर किये गए ट्वीट का सच

गौरतलब है कि चीन का हेनान प्रांत इस समय भयंकर बाढ़ से जूझ रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि अब तक 50 से ज़्यादा लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है, जबकि 10 अरब डॉलर के नुकसान का अनुमान लगाया गया है. हेनान प्रांत में क़रीब 30 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. बचावकर्मी बाढ़ में फंसे लोगों की मदद में जुटे हुए हैं.

ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए एक यूज़र ने कैप्शन में लिखा, "यह चीन में अब तक की सबसे ख़तरनाक बाढ़ की स्थिति है."

ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

फ़ेसबुक पर भी यह वीडियो चीन की वर्तमान स्थिति के दावे से शेयर किया गया है.

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें.

क्या दुर्गा वाहिनी की सदस्या ने पाकिस्तानी रेसलर को बुरी तरह पीटा? फ़ैक्ट चेक

फ़ैक्ट चेक

बूम ने अपनी जांच में पाया कि वीडियो क्लिप के लेफ़्ट और राइट साइड में कुछ शब्द लिखे हैं. लेफ़्ट साइड में अंग्रेज़ी में 'jijicom', जबकि गूगल लेंस की मदद से खोजने पर हमने पाया कि राइट साइड की ओर जापानी भाषा में 'इवानुमा सिटी, मियागी. जापान कोस्ट गार्ड. सेंडाई एयरबेस मार्च 11, 4:23 अपराह्न' लिखा है.

हमने इन कीवर्ड को गूगल पर सर्च किया तो यूट्यूब पर साल 2011 में अपलोड किया गया हूबहू वही वीडियो पाया.

जापानी भाषा में वीडियो के शीर्षक में लिखा गया है, "विमान से टकराती बड़ी सुनामी = जापान तटरक्षक बल सेंडाई एयर बेस"

वीडियो के डिस्क्रिप्शन में बताया गया है कि "जापानी तट रक्षक द्वारा जारी किया गया एक वीडियो जब ग्रेट ईस्ट जापान भूकंप की सुनामी सेंडाई एयर बेस से टकराती है. बेस के एक कर्मचारी ने 11 मार्च की शाम क़रीब 4 बजे सरकारी भवन की दूसरी मंजिल से ये तस्वीरें लीं. रनवे पर आने वाली सूनामी की मात्रा में तेज़ी से वृद्धि हुई और हेलीकॉप्टरों, विमानों और कारों को बहा ले गई. टूटे हुए घर की छत को सूनामी में देखा जा सकता है जो सुनामी के बहाव में बहता जा रहा है. वीडियो के लिए जापानी तट रक्षक को क्रेडिट दिया गया है."

इसके अलावा वालस्ट्रीट जर्नल की 29 अप्रैल 2011 की एक रिपोर्ट में इसी वीडियो को देखा जा सकता है. रिपोर्ट में कहा गया है कि जापानी तट रक्षक ने 11 मार्च की सुनामी से कारों और विमानों के बह जाने के पहले के अनदेखे वीडियो को जारी किया है, जो उत्तरी जापान के सेंडाई हवाई अड्डे और बंदरगाह शहरों में आया था.

बीजेपी को निशाना बनाकर दैनिक भास्कर ने लगाई होर्डिंग? फ़ैक्ट चेक

Updated On: 2021-07-24T21:42:44+05:30
Claim Review :   यह चीन में अब तक की सबसे ख़तरनाक बाढ़ की स्थिति है
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story