आजतक की पत्रकार श्वेता सिंह के नाम पर फ़र्ज़ी ट्वीट हुआ वायरल

बूम ने पाया कि डॉ भीमराव आंबेडकर का विरोध दिखाता यह ट्वीट श्वेता सिंह के नाम पर बने एक फ़र्ज़ी हैंडल ने किया है.

हाल ही में 14 अप्रैल को भारतीय संविधान सभा के अध्यक्ष बाबासाहेब आंबेडकर (Babasaheb Bhimrao Ambedkar) की 130 वीं जयंती मनाई गयी है. इसी बीच आजतक (Aaj Tak) की पत्रकार श्वेता सिंह (Sweta Singh) के नाम पर एक फ़र्ज़ी ट्वीट (tweet) वायरल हो रहा है जो कथित तौर पर यह बता रहा है कि डॉ भीमराव आंबेडकर का संविधान निर्माण में कोई सहयोग नहीं रहा.

बूम ने पाया कि यह ट्वीट एक फ़र्ज़ी हैंडल से किया गया है जो अब मौजूद नहीं है.

मंदिर में टूटी मूर्तियां दिखाती इस वीडियो में कोई सांप्रदायिक कोण नहीं है

फ़ेसबुक पर एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा है जो कथित श्वेता सिंह नामक हैंडल द्वारा किया गया है. इस ट्वीट में लिखा है: "70% संविधान भारत सरकार अधिनियम 1935 से लिया गया,, 20% हिस्सा दूसरे देशों से कॉपी किया गया,,बचा 10%,, उसके बहुत सारी कमेटी पहले से ही गठित थी,, [ ये सब मैंने इसलिए पूछा कि आज कोई मुझसे बोल रहा था कि संविधान भीमराव अंबेडकर ने बनाया था ]"

नीचे कुछ पोस्ट्स देखें और इनके आर्काइव्ड वर्शन यहां और यहां उपलब्ध हैं.






शत्रुघन सिन्हा ने सरकार पर 'लूट' का लगाया आरोप? फ़ैक्ट चेक

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल हो रहे ट्वीट को ध्यान से देखा. इसमें जो यूज़रनेम मौजूद था उसे ट्विटर पर खोजा.

हमनें पाया कि यह हैंडल अब मौजूद नहीं है.


इसके बाद हमनें श्वेता सिंह का वास्तविक ट्विटर हैंडल खोजा जो ट्विटर द्वारा सत्यापित है. इस हैंडल से करीब 33 लाख फॉलोवर्स हैं.


हमनें न्यूज़ रिपोर्ट भी खंगाली पर हमें श्वेता सिंह द्वारा ऐसा कोई बयान नहीं मिला जो वायरल दावे के नज़दीक हो.

Claim Review :   आज तक की पत्रकार ने कहा आंबेडकर ने संविधान में कोई सहयोग नहीं दिया था.
Claimed By :  Facebook posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story