चेन से बँधी तीन मुस्लिम महिलाओं की वायरल तस्वीर का सच क्या है?

मुस्लिम महिलाओं को चेन से बँधी दिखाती ये तस्वीर पहले भी तालिबान से जोड़कर वायरल थी, बूम ने पाया था कि ये तस्वीर फोटोशॉप्ड है.

Claim

पैरों में जंजीर बाँधकर ले जाता एक जिस्मखोर हवसी. आँखे खोलो भारत मुगल देश लूटने और महिलाओं की इज्जत लूटने आये थे.

Fact

तीन मुस्लिम महिलाओं (Muslim Women) को ज़ंजीर (Chain) में बंधे हुए दिखाती एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है. ये तस्वीर पहले भी अफ़ग़ानिस्तान और तालिबान से जोड़कर शेयर की जा चुकी है. बूम ने इसका तस्वीर का फ़ैक्ट चेक किया और पाया कि ये तस्वीर पुरानी है और इसे फोटोशॉप्ड किया गया है. बूम को जाँच के दौरान वायरल तस्वीर का ऑरिजनल कॉपी मिली जिससे पता चला कि, महिलाओं को चेन एडिट करके पहनाई गई है. हमें कई असली तस्वीरों में महिलायें बिना चेन के ही दिखीं. हमने इस तस्वीर के असली फ़ोटोग्राफर मुरात दुज़योल से संपर्क किया. उन्होंने बूम को बताया कि यह तस्वीर इराक़ के एरबिल शहर की है और उन्होंने इसे उन्होंने साल 2003 में क्लिक किया था. उन्होंने कहा कि इस तस्वीर में मौजूद किसी भी महिला को कोई भी चेन नहीं बांधी गई थी.

To Read Full Story, click here
Claim Review :   पैरों में जंजीर बाँधकर ले जाता एक जिस्मखोर हवसी
Claimed By :  social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story