नहीं, ये अमित शाह के बंगाल दौरे के बाद का वीडियो नहीं है

दावे की माने तो यह वीडियो हाल में ममता बनर्जी की प्रतिक्रिया दिखाता है |

Claim

"अमित सा बंगाल में आने से ममता बौखलाई वीडियो"

Fact

वीडियो के साथ किया जा रहा दावा फ़र्ज़ी है | यह वीडियो 30 नवंबर 2006 का है जब तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल विधानसभा में तोड़फोड़ कर रहे थे | टी.एम.सी वर्कर्स दरअसल पुलिस द्वारा ममता बनर्जी की गिरफ़्तारी का विरोध कर रहे थे | उस साल सिंगुर में टाटा मोटर्स के 'नैनो' प्लांट के विरोध में भारी प्रदर्शन हुए और पुलिस ने ममता बनर्जी को एक दौरे के दौरान गिरफ़्तार किया था | बनर्जी ने प्रोहिबिटरी आदेश का उलंघन कर सिंगुर का दौरा किया था | इस वीडियो के साथ दावों को बूम ने दो साल पहले अप्रैल 2018 में भी ख़ारिज़ किया था | बूम हिंदी ने इसपर 2019 में लेख लिखा था | पूरा लेख नीचे पढ़ें |

To Read Full Story, click here
Claim Review :   अमित सा बंगाल में आने से ममता बौखलाई वीडियो
Claimed By :  Facebook post
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story