लोगों को कांग्रेस ने सी.ए.ए के ख़िलाफ प्रदर्शन के पैसे दिए? फ़ैक्ट चेक

बूम ने पहले भी इस वीडियो को ख़ारिज किया था जो फ़र्ज़ी दावों के साथ वायरल था

करीब दो साल पुराना वीडियो वायरल है| इसमें एक शख़्स कांग्रेस रैली में प्रतिभागियों को पैसे देता नज़र आता है| फ़र्ज़ी दावा किया जा रहा है की कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन अधिनियम के ख़िलाफ प्रदर्शन के लिए लोगों को पैसे दिए|

इसके अलावा वीडियो में राहुल गाँधी का एक ऑडियो अलग से जोड़ा गया है| यह ऑडियो कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी द्वारा गुजरात में की 2017 में की गयी एक रैली से है| इस वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है: "सभी महिलाओं को कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा हाथों हाथ आजादी की रकम दी जा रही है."

बूम ने इस वीडियो को 2017 में भी ख़ारिज किया था नीचे पढ़ें:

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने लोगों को पैसे दिए सच है पर गुजरात में नहीं

'आज़ादी' सी.ए.ए के ख़िलाफ प्रदर्शनों में एक जानी-पहचानी नारेबाज़ी का मन्त्र बन गया है| एक फ़ेसबुक यूज़र अलोक शुक्ला ने यह क्लिप शेयर की जिसने 15 घंटों से कम समय में करीब 26,000 से ज़्यादा शेयर और 3,08,000 से ज़्यादा बार देखा जा चूका है|

यह वीडियो ट्विटर पर भी वायरल है| इसका आर्काइव्ड वर्शन यहाँ देखें|

फ़ैक्ट चेक

हमनें इस समान वीडियो को यूट्यूब पर पाया| यह मार्च 2017 में अपलोड किया गया था| वास्तविक वीडियो में मैतेई बोलते सुना जाता है, यह गुजराती नहीं है| वास्तविक वीडियो में राहुल गाँधी की आवाज़ नहीं है|

यह भी पढ़ें: क्या वीडियो से पता चलती है असम डिटेंशन सेंटर की क्रूरता?

ऊपर दिए गए वीडियो 2 मार्च 2017 को अपलोड किया गया था| इसका टाइटल कुछ यूँ है: "कांग्रेस वोटरों को रिश्वत देते हुए, इम्फाल मणिपुर| वीडियो गोज़ वायरल|"

इस वीडियो में एक प्लेकार्ड देखा जा सकता है जिसमें 'वार्ड 5 के.एम.सी' लिखा है| हमनें पहले यह पाया था की के.एम.सी मतलब कक्चिंग म्युनिसिपल कौंसिल है| मणिपुर में 4 और 8 मार्च 2017 के बीच विधानसभा चुनाव हुए थे|

यह भी पढ़ें: क्या इंदिरा गांधी ने सीताराम येचुरी को माफ़ीनामे के लिए किया था मजबूर?

रही बात राहुल गाँधी की आवाज़ की, यह गुजरात की एक अलग रैली से ली गयी है| यह नवसर्जन गुजरात जनादेश रैली से है, जो 2017 में ही हुई थी|

वायरल वीडियो का ऑडियो वास्तविक वीडियो में 2.28 सेकंड के आगे सुना जा सकता है|


Claim Review :   कांग्रेस ने सी.ए.ए के ख़िलाफ प्रदर्शन के लिए लोगों को पैसे दिए
Claimed By :  Facebook and Twitter
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story