रूसी रॉकेट के असफल लॉन्च को बताया जा रहा है पाक मिसाइल परिक्षण

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो 2013 का है, जब रूसी प्रोटॉन-एम रॉकेट उड़ान भरने के कुछ ही पलों बाद क्रैश हो गया था।

उड़ान भरने के कुछ ही सेकेंट बाद एक रॉकेट दुर्घटनाग्रस्त होने का नाटकीय वीडियो ग़लत जानकारी के साथ शेयर किया जा रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह हाल ही में किए गए पाकिस्तान की परमाणु सक्षम बैलिस्टिक मिसाइल 'गजनवी' के लॉन्च से है।

45 सेकेंड के वीडियो क्लिप में एक रॉकेट को उड़ान भरते हुए दिखाया गया है लेकिन जल्द ही वह गति खो देता है,और हवा में रहते हुए विस्फोट हो जाता है।

यह भी पढ़ें: यह अमेरीका द्वारा ईरानी मिसाईलें शूट करने का नहीं, गेम का फुटेज है

इस क्लिप को भ्रामक कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है, जिसमें लिखा है, "गजनवी मिसाइल का पाकिस्तान का 13 वां परीक्षण विफल रहा। 300Km तक जाने वाली मिसाइल 36Km पर गिरे हुए कागज की तरह जलकर समाप्त हो गई।"

अर्काइव के लिए यहां क्लिक करें।

पाकिस्तान द्वारा सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल 'गजनवी' के सफल परीक्षण के बैकग्राउंड में यह वीडियो वायरल हो रहा है। यह मिसाइल 290 किलोमीटर की दूरी तक पारंपरिक और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है, जैसा कि 23 जनवरी, 2020 की इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट में बताया गया है।

हमने फ़ेसबुक पर इसी कैप्शन के साथ खोज की और पाया कि वीडियो भ्रामक कैप्शन के साथ वायरल हुआ था।


फ़ैक्ट चेक

एक ट्विटर यूज़र ने हमें यह कहते हुए सतर्क किया कि यह एक रूसी प्रोटॉन-एम रॉकेट विस्फोट का पुराना वीडियो है। हमने गूगल पर 'प्रोटॉन एम रॉकेट' के साथ खोज किया और पाया कि वीडियो वास्तव में 2013 में रूसी रॉकेट के असफल लॉन्च से था। 1 जुलाई 2013 को द टेलीग्राफ द्वारा यूट्यूब पर अपलोड किए गए इस वीडियो में समान दृश्य देखे जा सकते हैं। विवरण में लिखा गया है: "तीन नेविगेशन सैटेलाइट ले जा रहा एक रूसी प्रोटॉन-एम रॉकेट कजाकिस्तान के बैकोनूर कोस्मोड्रोम से टेकऑफ करने के तुरंत बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया।"

वीडियो वर्णन आगे कहता है कि,"शानदार फुटेज में आग की एक गेंद में विस्फोट करने और हवा में अत्यधिक जहरीले रॉकेट ईंधन को छोड़ने से पहले, 0638 बजे (0238 GMT) लॉन्च के कुछ सेकंड बाद ही रॉकेट के ट्रजेक्टरी को मुड़ते हुए दिखाया गया है। रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोसकोसमोस ने कहा कि दुर्घटना से कोई नुकसान या कोई हताहत नहीं हुआ। "

राज्य के स्वामित्व वाले रूसी मीडिया आउटलेट, रुस टूडे ने 2 जुलाई, 2013 की रिपोर्ट में घटना पर एक विस्तृत जानकारी दी थी। रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि रूसी प्रोटॉन-एम रॉकेट तीन ग्लोनास नेविगेशन उपग्रहों को ले जा रहा था और कजाकिस्तान के बैजोनूर कोस्मोड्रोम से टेकऑफ के 17 सेकंड बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

पाकिस्तान सशस्त्र बलों की सैन्य मीडिया विंग, द इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर), ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी के सफल लॉन्च के फुटेज पोस्ट किए थे।


Claim Review :  पाकिस्तान की गजनवी मिसाइल का 13 वां परीक्षण विफल रहा
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story