करसेवक आज़म खान की जगह स्वराज्य और न्यूज़ ट्रैक लाइव ने समाजवादी पार्टी नेता पर की रिपोर्ट

इन न्यूज़ वेबसाइट्स ने मुस्लिम करसेवक मंच के नेता की जगह उनके हमनाम सपा नेता की तस्वीर अपने रिपोर्ट में इस्तेमाल की

न्यूज़ वेबसाइट स्वराज्य और न्यूज़ पोर्टल न्यूज़ ट्रैक लाइव ने लेख प्रकाशित किये जिसमें लिखा की समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान ने कहा की वह जलसमाधि ले लेंगे यदि उन्हें 5 अगस्त 2020 को होने वाले राम मंदिर भूमि पूजन में नहीं बुलाया गया |

बूम ने पाया की यह बयान समाजवादी पार्टी के आज़म खान नहीं बल्क़ि उनके हमनाम, जो मुस्लिम करसेवक मंच के राष्ट्रिय अध्यक्ष हैं, ने दिया था | मुस्लिम करसेवक मंच अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का समर्थन करता रहा है | खान का यह बयान अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के हफ्ते भर पहले आया है | न्यूज़ रिपोर्ट्स के अनुसार 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आधारशिला रखेंगे |

यह भी पढ़ें: क्या राम मंदिर भूमि पूजन के पहले अयोध्या को भगवा रंग से रंग दिया गया है?

जलसमाधि हिन्दू मान्यता के अनुसार स्वर्ग जाने का एक तरीका है जिसमें व्यक्ति पानी में डूब कर प्राणत्याग करता है | स्वराज्य की रिपोर्ट की हैडिंग में लिखा है: "यदि राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए मुझे निमंत्रण नहीं मिला तो जल समाधी ले लूंगा: समाजवादी लीडर आज़म खान राम भक्त बने"

वहीँ न्यूज़ ट्रैक लाइव की रिपोर्ट ने अपनी लीड में लिखा, "समाजवादी पार्टी के सांसद आज़म खान ने बड़ी बात कही, उन्होंने कहा की वह जलसमाधी ले लेंगे यदि उन्हें राममंदिर के भूमि पूजन में नहीं बुलाया गया |"

दोनों रिपोर्ट्स में समाजवादी पार्टी के आज़म खान की फीचर्ड इमेज है |


भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने न्यूज़ ट्रैक लाइव की रिपोर्ट अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शेयर की |


पात्रा ने बाद में एक दूसरा ट्वीट किया जिसमें न्यूज़ ट्रैक लाइव का अपडेटेड आर्टिकल था और लिखा: "लगता है इस एजेन्सी ने ग़लत आज़म खान की ख़बर छाप रखी है ..वही मैं कहूँ की इस आज़म खान का तो सरोकार केवल भ्रष्टाचार से है ..ये भगवान राम के भक्त कब हो गए?"

कई फ़ेसबुक (आर्काइव) पेजों ने भी न्यूज़ ट्रैक लाइव के फ़र्ज़ी आर्टिकल को शेयर किया |




यह भी पढ़ें: हिन्दू नागा साधु की मौत में सुल्तानपुर पुलिस ने सांप्रदायिक कोण किया ख़ारिज

फ़ैक्ट चेक

बूम ने "आज़म खान जलसमाधि" कीवर्ड्स के साथ सर्च किया और कई न्यूज़ रिपोर्ट्स पाई जो करसेवक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बारे में थे । वह दरअसल अपना नाम कुंवर मोहम्मद आज़म खान लिखते हैं ।

कुंवर मोहम्मद ने 25 जुलाई को कहा था कि यदि उन्हें राम मंदिर के भूमि पूजन में नहीं निमंत्रित किया गया तो वह जलसमाधि ले लेंगे ।

न्यूज़18 और आज तक ने इस बयान पर रिपोर्ट्स प्रकाशित की थीं और वास्तविक व्यक्ति की तस्वीर भी प्रकाशित की थी । रिपोर्ट्स साफ तौर पर दिखाती हैं कि यह समाजवादी पार्टी लीडर आज़म खान नही हैं ।


स्वराज्य और न्यूज़ ट्रैक लाइव ने बाद में अपने लेखों को एडिट कर हैडिंग बदल दी और ग़लती सुधार की, बिना यह लिखे की उन्होंने ग़लती की थी ।

बूम ने कुंवर मोहम्मद आज़म खान की वेबसाइट पर कई न्यूज़ रिपोर्ट्स देखीं जहां उनका राम के प्रति लगाव नज़र आया ।

Updated On: 2020-07-28T18:56:25+05:30
Claim Review :   समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान ने कहा कि यदि उन्हें 5 अगस्त को राम मंदिर के भूमि पूजन में नहीं बुलाया गया, तो वह जल समाधि ले लेंगे ।
Claimed By :  Swarajya and News Track live
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story