क्या नीता अंबानी ने ट्वीट कर के लाउडस्पीकर्स से हो रही अज़ान को गलत बताया?

बूम ने पाया की नीता अंबानी का ट्विटर अकॉउंट है ही नहीं बल्कि ट्वीट एक फ़ैन अकाउंट से किया गया है

रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी के ट्वीट्स अक्सर चर्चा में रहते हैं | ना सिर्फ़ ट्विटर पर बल्कि फ़ेसबुक पर भी इन ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट काफ़ी वायरल होते हैं | पर सबसे मज़े की बात ये है की नीता अंबानी ट्विटर पर हैं ही नहीं | अक्सर साम्प्रदायिकता के रंग में रंगे ये ट्वीट्स अंबानी के नाम पर बने फ़ैन एकाउंट्स से किये जाते हैं |

इस बार नीता अंबानी के नाम से जिस ट्वीट का स्क्रीनशॉट वायरल हुआ है उसमे लिखा मेसैज कुछ इस प्रकार है: एक कौम 52 सेकंड का राष्ट्र गान नहीं सुन सकती...| और वो चाहते हैं की हम दिन भर में 5 बार 3 मिनट तक उनकी बेसुरी आवाज को सुनें वो भी माइक पर |

बूम ने इसके पहले भी नीता अंबानी के नाम पर वायरल फ़र्ज़ी ट्वीट्स की पड़ताल की है | नीचे पढ़ें |

नीता अंबानी के नाम से फ़र्ज़ी ट्वीट वायरल

अंबानी के नाम पर अज़ान को टारगेट करता ये फ़र्ज़ी ट्वीट ऐसे समय पर वायरल हो रहा है जब की हाल ही में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने लाउडस्पीकर्स से अज़ान ना चलाने के आदेश दिए है | इसके बारे में यहाँ पढ़े | उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पहले भी इस प्रकार के निर्णय लिए गए है | इनके बारे और जानकारी यहाँ पाएं |

वायरल पोस्ट को नीचे देखें और इसका आर्काइव्ड वर्ज़न यहाँ देखिए |


हमें फेसबुक पर इस प्रकार के अन्य पोस्ट्स भी मिले |

फ़ैक्ट चेक

इस ट्वीट की तर्ज पर " नीता अंबानी ", " ट्विटर " जैसे शब्दों को कीवर्ड सर्च करने पर हमें यह पता लगा की नीता अंबानी का कोई आधिकारिक ट्विटर अकाउंट है ही नहीं | इस वायरल ट्वीट के पूर्व भी अंबानी के नाम ट्वीट्स वायरल हुए और इन्हे हटाया गया | इसके बारे में और यहाँ पढ़े |


बूम ने ट्विटर पर इस हैंडल को सर्च किया तो पता चला की नीता अंबानी (0Nita_ji) के नाम से बने इस अकाउंट में इसे एक फ़ैन पेज - यानि किसी प्रशंसक द्वारा बनाया गया अकाउंट - बताया गया है | इस अकाउंट का स्क्रीनशॉट नीचे देखे |

राहुल गांधी की मज़दूरों के साथ मुलाक़ात की तस्वीरें झूठे दावों के साथ वायरल



हालाँकि अप्रैल, 2020 में बने इस फ़ैन अकाउंट से किया गया वायरल ट्वीट अब डिलीट कर दिया गया है लेकिन इस अकाउंट में कई अन्य ट्वीट्स है जो सांप्रदायिकता के रंग में रंगे हुए हैं |

बूम ने इंटरनेट पर नीता अंबानी द्वारा दिए गए ऐसे किसी भी बयान को ढूंढने की कोशिश की पर ना तो हमें उनके द्वारा दिया गया ऐसा कोई बयान मिला ना अज़ान के मसले पर उनकी कोई टिप्पणी मिली |

Claim Review :   वायरल पोस्ट का दावा है की नीता अंबानी ने लाउडस्पीकर से अज़ान के विरोध में ट्वीट किया
Claimed By :  Facebook posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story