प्रियंका गाँधी ने असम और बिहार बाढ़ से जोड़कर पुरानी तस्वीरों को ट्वीट किया

बूम ने पाया की तस्वीर 2017 और 2019 की बिहार और असम बाढ़ की हैं

कांग्रेस नेता प्रियंका गाँधी वाड्रा ने दो पुरानी तस्वीरें पोस्ट करते हुए दावा किया है की यह हाल में बिहार, असम और उत्तर प्रदेश में बाढ़ की स्थिति है | यह तस्वीरें 2017 और 2019 से हैं |

गाँधी ने यह तस्वीरें ट्वीट करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील की है की उन लोगों की मदद करें जो बाढ़ से प्रभावित हैं |

मानसून की शुरूआती दिनों में ही भारी बारिश के कारण बिहार में चार बड़ी नदियों ने खतरे का निशान पार कर लिया है और राज्य के कई ज़िलों में अलर्ट जारी है | असम में भी बाढ़ से 70 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं और 85 लोगों की मृत्यु हो गयी है | असम में बाढ़ से भारी नुक़सान हुआ है |

असंबंधित तस्वीरें बिहार में कोविड-19 अस्पतालों की दुर्दशा बताकर वायरल

गाँधी ने दो तस्वीरें साझा की हैं | उनमें से एक में कई घर पानी में डूबे दिखाई दे रहे हैं | दूसरी तस्वीर में एक लड़का गले तक पानी में डूबा है |

तस्वीरों के साथ कैप्शन में प्रियंका गाँधी लिखती हैं: "असम, बिहार और यूपी के कई क्षेत्रों में आई बाढ़ से जनजीवन अस्त व्यस्त है। लाखों लोगों पर संकट के बादल छाए हुए हैं। बाढ़ से प्रभावित लोगों की मदद के लिए हम तत्पर हैं। मैं कांग्रेस कार्यकर्ताओं व नेताओं से अपील करती हूं कि प्रभावित लोगों की मदद करने का हर संभव प्रयास करें"


दूरदर्शन न्यूज़ की अंग्रेजी वेबसाइट पर भी इनमें से एक तस्वीर प्रकाशित हुई है | इस तस्वीर के साथ इसके पुराने होने का उल्लेख नहीं किया गया है |


फ़ैक्ट चेक

बूम ने पाया कि दोनों तस्वीरें पुरानी हैं । एक 2019 में असम में बाढ़ की स्थिति दिखाती है वहीं दूसरी बिहार में 2017 की बाढ़ को दिखाती है ।

हमनें दोनो तस्वीरों को रिवर्स इमेज सर्च किया और पाया कि यह पहले प्रकाशित हो चुकी हैं ।

पहली तस्वीर


इस तस्वीर के सर्च रिज़ल्ट्स के अनुसार तस्वीर असम के मोरीगांव जिले में 2019 में ली गयी थी । हमें न्यूज़ रिपोर्ट्स मिली जो इस तस्वीर के साथ प्रकाशित हुई थी । इन रिपोर्ट्स में फ़ोटो क्रेडिट पीटीआई को दिया गया था ।

कैप्शन में लिखा है: "मोरीगांव जिले में बाढ़ में डूबा एक गांव" ।


दूसरी तस्वीर


इस तस्वीर के रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें अगस्त 2017 की न्यूज़ रिपोर्ट्स मिली जो बिहार में आई बाढ़ को दर्शाती हैं ।

तस्वीर का क्रेडिट पीटीआई को दिया गया है । इसके कैप्शन में लिखा है: "बिहार के अरारिया जिले के एक गांव में व्यक्ति अपनी चीज़े बाढ़ के दौरान ले जा रहा है " ।



Updated On: 2020-07-27T12:43:47+05:30
Claim Review :   बिहार, असम और उत्तर प्रदेश में हाल में बाढ़ की स्थिति बताती हैं यह तस्वीरें
Claimed By :  Priyanka Gandhi Vadra
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story