क्या भारत के अहमद खान को बाइडेन का राजनीतिक सलाहकार नियुक्त किया गया है?

बूम ने पाया कि नवनिर्वाचित अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ अहमद खान को दिखाती तस्वीरें साल 2015 की हैं।

सोशल मीडिया पर एक तस्वीरों का सेट शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि भारत के हैदराबाद से ताल्लुक रखने वाले अहमद खान को नवनिर्वाचित अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का राजनीतिक सलाहकार नियुक्त किया गया है, भ्रामक है।

बूम ने अहमद खान से बात की जिसमें उन्होंने पुष्टि की कि उन्होंने 'ड्राफ्ट बाइडेन 2016' में बतौर उप कार्यकारी निदेशक के रूप में काम किया है, ऐसा प्लेटफ़ॉर्म जो 2016 में संभावित बाइडेन के राष्ट्रपति पद के लिए चला था।

वायरल पोस्ट में साल 2015 की बाइडेन के साथ अहमद खान की तस्वीरों को शेयर करते हुए दावा किया गया है कि बाइडेन ने अहमद खान को सलाहकार के रूप में नियुक्त किया है। इन तस्वीरों की सही तारीख़ की स्वयं खान ने पुष्टि की है। वह वर्तमान में बाइडेन अभियान से जुड़े नहीं हैं, और इलिनोइस राज्य के सीनेटर राम विल्लीवलम के लिए एक समिति के राजनीतिक सलाहकार के रूप में काम करते हैं।

बूम ने यह भी पाया कि अहमद खान का नाम बाइडेन के राष्ट्रपति चुनाव की ट्रांजिशन टीम के सार्वजनिक रूप से उपलब्ध नामों में नहीं था।

क्या अमरीकी राष्ट्रपति के शपथ ग्रहण समारोह में मनमोहन सिंह मुख्य अतिथि होंगे?

संयुक्त राज्य अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने के लिए जो बाइडेन ने ज़रूरी 270 इलेक्टोरल वोटों का आंकड़ा पार कर लिया है, इसी पृष्ठभूमि में पोस्ट वायरल है। बाइडेन 20 जनवरी 2021 को राष्ट्रपति पद की शपथ लेकर डोनाल्ड ट्रम्प की जगह लेंगे। हालांकि चुनाव के दौरान तकनीकी तौर पर उन्हें अभी औपचारिक रूप से चुना जाना बाक़ी है, क्योंकि ट्रम्प अभी चुनाव में डटे हुए हैं। बाइडेन और कमला हैरिस ने पहले ही ट्रांजिशन टीम की घोषणा कर दी है, वे सरकार के शासनकाल को लेने के लिए तैयार हैं।

बूम को एक ही दावे के साथ शेयर किये गए कई पोस्ट मिले, जिसमें अहमद खान को जो बाइडेन और उनकी पत्नी डॉ जिल बाइडेन के साथ तस्वीरें खिंचाते हुए दिखाया गया है। एक यूज़र ने ट्वीट करते हुए लिखा कि "बिग न्यूज़ अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भारतीय मूल के अहमद खान को अपना राजनितिक सलाहकार नियुक्त किया है। ग़ौरतलब है कि अहमद खान भारतीय है इनका ताल्लुक़ हैदराबाद से है।"

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें।

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें।

इसी दावे के साथ वायरल अन्य पोस्ट यहां, यहां, यहां और यहां देखें।

हवा साफ़ है या ख़राब बताने वाला एयर क्वालिटी इंडेक्स आख़िर है क्या?

फ़ैक्ट चेक

बूम ने बड़े पैमाने पर हो रहे वायरल पोस्ट के दावे का सच जानने के लिए अहमद खान से संपर्क किया। उन्होंने स्पष्ट किया कि वह अमेरिकी नागरिक हैं और शिकागो के निवासी हैं। वह पहले डेमोक्रेटिक टिकट के लिए बर्नी सैंडर्स अभियान से भी जुड़े थे, जहाँ इसका उल्लेख है। बर्नी सैंडर्स अभियान पेज के अनुसार, "अहमद खान शिकागो में एक दशक तक नागरिक अनुबंध, राजनीतिक और गैर-लाभकारी अनुभव के साथ आजीवन रहने वाले हैं।" पेज का आर्काइव वर्ज़न यहां देखा जा सकता है।

अहमद खान ने बाइडेन के सलाहकार नियुक्त किए जाने से भी इनकार किया। बूम से बात करते हुए उन्होंने कहा, "वायरल ट्वीट में दावे झूठे हैं। मुझे वर्तमान में राजनीतिक सलाहकार के रूप में नियुक्त नहीं किया गया है। ऐसा लगता है कि कुछ महत्वाकांक्षी लोगों ने आज के लिए पुरानी जानकारी को गलत समझा होगा और अपने सोशल मीडिया पर शेयर किया।" मेरे साथ उन ट्वीट्स को शेयर करने वाले कई लोगों के माध्यम से मुझे जागरूक किया गया था। "

वर्तमान में, अहमद खान राजनीतिक सलाहकार के रूप में इलिनोइस राज्य के सीनेटर राम विल्लीवालम के लिए 'बहुसांस्कृतिक सलाहकार समिति' में सेवारत हैं।

अहमद खान ने 'ड्राफ्ट बाइडेन 2016' के उप कार्यकारी निदेशक के रूप में काम किया, जो 2016 में बाइडेन द्वारा संचालित संभावित राष्ट्रपति पद के लिए एक आधार बनाने की दिशा में काम कर रहा था।

वायरल तस्वीरों के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "उन्होंने अपनी उम्मीदवारी को आगे बढ़ाने का फैसला नहीं किया था, लेकिन यह तस्वीर वाशिंगटन डीसी में अमेरिकी नौसेना ऑब्जरवेटरी में उनके तत्कालीन निवास पर एक विशेष स्वागत से है, जिसमें मैं और ड्राफ्ट बाइडेन टीम थी। समिति के साथ हमारे प्रयासों की सराहना करने के लिए आमंत्रित किया गया।"

ड्राफ्ट बाइडेन के काम को 19 जून 2015 को न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में देखा जा सकता है।

आईपीएल जीतने के बाद बुर्ज ख़लीफ़ा पर रोहित शर्मा की तस्वीर नहीं दिखाई गयी

अहमद खान ने 10 नवंबर को फ़ेसबुक पोस्ट में बाइडेन को उनकी चुनावी जीत की बधाई देते हुए इन तस्वीरों को रेखांकित किया है।

उनके फ़ेसबुक पोस्ट को नीचे देखा जा सकता है।

खान ने 11 दिसंबर, 2015 को फ़ेसबुक पर उनकी बाइडेन से मुलाकात पर की गई एक पोस्ट भी शेयर की।

इस मुलाक़ात पर मुस्लिम मिरर ने दिसंबर 2015 में एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी। रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।


इसके अलावा, बूम को बाइडेन-हैरिस राष्ट्रपति की ट्रांजिशन टीम में अहमद खान का नाम नहीं मिला, या हाल में रिलीज़ में एक सलाहकार के रूप में उनकी नियुक्ति पर अपडेट में। एजेंसी समीक्षा टीमों की सूची आर्काइव वर्ज़न यहां देखा जा सकता है।

दिवाली के पहले 'ग्रीन क्रैकर्स' के बारे में जान ले ये बातें

Updated On: 2020-11-17T14:37:18+05:30
Claim Review :   अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भारतीय मूल के अहमद खान को अपना राजनीतिक सलाहकार नियुक्त किया है।
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story