पीआईबी ने 'भारत लॉकडाउन' वाले वायरल व्हाट्सएप्प ऑडियो क्लिप को किया ख़ारिज

एक ट्वीट में प्रेस सूचना ब्यूरो की फ़ैक्ट चेक टीम ने कहा कि वायरल क्लिप में किए गए दावे फ़र्ज़ी हैं।

प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) के आधिकारिक फ़ैक्टचेक ट्विटर हैंडल ने रविवार को एक वायरल ऑडियो क्लिप को ख़ारिज किया, जिसमें दावा किया गया था कि देश में कोविड -19 के बढ़ते सकारात्मक मामलों के कारण भारत अगले पांच दिनों में लॉकडाउन में जाएगा।

देश में अब तक 114 लोगों का टेस्ट पॉजिटिव आया है।

ट्वीट में, पीआईबी फ़ैक्टचेक ने कहा कि लॉकडाउन के बारे में दावे फ़र्ज़ी हैं और इस क्लिप को 'डराने की कोशिश' करने वाला कहा गया है।

यह भी पढ़ें: झूठ: चीनी ख़ुफ़िया अधिकारी ने खुलासा किया है कि कोरोनावायरस जैविक हथियार है

बूम यह पता लगाने में सक्षम था कि क्लिप में सुनाई देने वाली आवाज़ एक लड़की की है, जो दावा करती है कि उसके पिता, सशस्त्र बल में डॉक्टर हैं और उसके पिता ने ही पुष्टि की है कि अगले सप्ताह से देश लॉकडाउन में जाएगा। लड़की ने अपने पिता को क्वोट करते हुए बताया, "सभी सेना अस्पताल अब स्वास्थ्य मंत्रालय के सीधे संपर्क में हैं और अब उन्हें हर जगह क्वारिन्टीन सुविधाएं बनाने का आदेश दिया गया है।" लड़की का दावा है कि उसके पिता सेना के अस्पतालों में से एक के प्रभारी हैं, जिसका इस्तेमाल रोगियों को क्वारिन्टीन करने के लिए किया जाता है। लड़की अपने पिता को क्वोट करते हुए कहती है, "स्वास्थ्य मंत्रालय ने निर्देश दिया है कि देश अगले पांच दिनों में कम से कम एक महीने के लिए लॉकडाउन पर जा रहा है।"

वह फिर सुनने वालों से यह तय करने की अपील करती है कि "वे जल्द से जल्द अपने घरों में जाना चाहते हैं" या वहां रहना चाहते हैं, जहां उन्हें रखा गया है, क्योंकि "स्थिति बदतर हो जाएगी।" ऑडियो क्लिप के बाद के भाग में, वह दावा करती है कि 15 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की गई है और इस अवधि के दौरान देश एक ठहराव में आ जाएगा। बाद में, वह दावा करती है कि जानकारी पूरी तरह से वैध है, क्योंकि उसके पिता मंत्रालय के सीधे संपर्क में हैं। '

बूम ने फैसला किया है कि वह वायरल क्लिप को शामिल नहीं करेगा। यह क्लिप व्हाट्सएप्प पर एक कैप्शन के साथ फैल रहा है, जिसमें लिखा गया है, "एक लड़की कह रही है कि उसके सेना अधिकारी पिताजी स्वास्थ्य मंत्रालय के संपर्क में हैं जो कहते हैं कि देश 5 दिनों के भीतर लॉकडाउन में चला जाएगा।"

यह भी पढ़ें: टाइम्स ऑफ इंडिया ने दी ग़लत जानकारी, कोरोनोवायरस टेस्ट के बाद महिला भाग कर नहीं गई थी आगरा


ऑडियो एक अन्य मैसेज के साथ भी वायरल हुआ है, जो लोगों से अगले पांच दिनों में किराना स्टॉक करने की अपील करता है, क्योंकि 'स्थिति और ख़राब हो जाएगी।' यह स्पष्ट नहीं है कि ऑडियो क्लिप के पीछे कौन है।


यह भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 4 राज्यों में छुट्टियों की घोषणा वाली चिट्ठी फ़र्ज़ी है

Updated On: 2020-04-02T17:07:10+05:30
Claim Review :  ऑडियो का दावा है की अगले पांच दिनों में भारत महीने भर के लॉक डाउन में जा रहा है
Claimed By :  WhatsApp
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story