नीतीश कुमार के काफ़िले पर पथराव का ये वीडियो कब का है?

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो जनवरी 2018 का है, जब नीतीश कुमार बक्सर में एक जनसभा को संबोधित करने गए थे

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के काफ़िले पर ग्रामीणों के पथराव का एक पुराना वीडियो फ़िर से वायरल हो रहा है। वीडियो को बिहार चुनाव (Bihar Election) से जोड़कर फ़र्ज़ी दावे के साथ शेयर किया गया है।

बूम ने पाया कि वायरल वीडियो पुराना है। वीडियो जनवरी 2018 का है, जब नीतीश कुमार बक्सर जिले में एक सभा को संबोधित करने के लिए गए थे।

वीडियो ऐसे समय में वायरल हुआ है जब बिहार में विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंका जा चुका है। चुनाव के लिए मतदान तीन चरणों में होंगे, पहला चरण 28 अक्टूबर, दूसरा 3 नवंबर और आख़िरी चरण 7 नवंबर को होगा जबकि चुनाव के नतीजे 10 नवंबर को घोषित किये जाएंगे।

करीब ढाई मिनट लंबे वीडियो में देखा जा सकता है कि गाड़ियों का काफ़िला एक बस्ती से गुज़र रहा है, स्थानीय लोग हाथों में ईंट-पत्थर उठाए गाड़ियों पर मार रहे हैं। इसी बीच पीछे से आती एक पुलिस जीप अनियंत्रित होकर नाले में घुस जाती है, और पथराव से पुलिसकर्मी घायल हो जाता है। वीडियो के बैकग्राउंड में सुना जा सकता है कि एक व्यक्ति पुलिस जीप पर पथराव करने से मना करता है। पथराव न रुकने पर पुलिसकर्मी बलपूर्वक स्थानीय लोगों को तितर-बितर करते हैं।

क्या फ़ोर्ब्स ने राहुल गांधी को 'सातवां सबसे शिक्षित नेता' माना है?

फ़ेसबुक पर एक यूज़र ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि "बिहार में का बा्...बिहार में बहार बा्...नितीश कुमार बा्...पत्थर के बौछार बा्"

आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

यह नीट टॉपर आकांक्षा सिंह का अकाउंट नहीं, फ़र्ज़ी ट्विटर हैंडल है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वीडियो के फ्रेम्स को यांडेक्स रिवर्स इमेज पर सर्च किया तो 18 जनवरी 2018 को यूट्यूब पर 'नितीश कुमार बक्सर मुस्कान' कैप्शन के साथ यही वीडियो मिला।

हमने उपर्युक्त कैप्शन को हिंट मानते हुए 'नीतीश कुमार', 'बक्सर', 'पथराव' जैसे कीवर्ड के साथ गूगल सर्च किया तो हमें कई मीडिया रिपोर्ट्स मिलीं। एनडीटीवी इंडिया की 12 जनवरी 2018 की ख़बर के मुताबिक़ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बक्सर ज़िले में 'विकास समीक्षा यात्रा' के दौरान एक जनसभा को संबोधित करने पहुंचे थे। स्थानीय ग्रामीण चाहते थे कि मुख्यमंत्री दलित बस्ती का दौरा करें, जिसे लेकर सहमति न बन पाने के चलते नाराज़ ग्रामीणों ने काफ़िले पर पथराव कर दिया। (एनडीटीवी वीडियो की यहां देखें)

पंजाब केसरी बिहार के यूट्यूब चैनल पर 12 जनवरी 2018 को अपलोड 'बक्सर में सीएम नीतीश कुमार के काफिले पर हुआ पथराव' के कैप्शन के साथ वीडियो को दूसरे एंगल से देखा जा सकता है। जबकि वायरल वीडियो क्लिप को 'द क्विंट' के यूट्यूब चैनल पर भी देखा जा सकता है।

इसके अलावा घटनाक्रम के बारे में विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

फ़ेसबुक पर पूर्वांचल लाइव नाम के एक पेज ने इसी वायरल वीडियो को 12 जनवरी 2018 को पोस्ट किया था, जिसका कैप्शन, "बक्सर में सीएम नीतीश कुमार के काफिले पर ग्रामीणों ने किया हमला, बाल-बाल बचे सीएम।"

नहीं, दिल्ली स्थित जामा मस्जिद ने तनिष्क के ख़िलाफ़ फ़तवा जारी नहीं किया है

Claim Review :   वीडियो दिखाता है कि नितीश कुमार की गाड़ियों के काफ़िले पर ग्रामीणों ने पथराव किया
Claimed By :  Facebook Users and Twitter handles
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story