क्या चीन के रेस्तरां में 'मानव शिशुओं का सूप' परोसा जा रहा है?

बूम ने पाया कि तस्वीर 2019 के एक 'आर्ट' से संबंधित है, जिसे बड़े पैमाने पर होने वाली शार्क की हत्या के संबंध में जागरूकता बढ़ाने के लिए बनाया गया था।

शार्क की निर्मम हत्या के संबंध में जागरूकता बढ़ाने के लिए बनाए गए एक आर्ट की तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ शेयर की जा रही है। इस तस्वीर के साथ ऑनलाइन दावा किया जा रहा है कि चीन में एक रेस्तरां मानव शिशुओं के शरीर के अंगों से बना सूप परोस रहा है।

बूम ने पाया कि यह दावा झूठा है। अपनी जांच में हमने पाया कि तस्वीर अमेरिका में एक कलाकार द्वारा बनाया गया आर्ट है।

बच्चे के पैरों और हाथों से सूप के कटोरे की तस्वीर को ट्विटर पर एक यूज़र द्वारा मैंडरिन में एक ऑडियो के साथ शेयर किया गया था। ट्विटर यूज़र ने दावा किया कि मैंडरिन में ऑडियो में कहा जा रहा है, "वॉयस इन चाइनीज मैंडरिन अनुवाद !!! यह चीन में एक रेस्तरां है, मानव ने अब मानव शिशुओं को खाना शुरू कर दिया है, मानव शिशु सूप परोसने वाले दो रेस्तरां हैं, यह एक 5 से 6 है महीने का बच्चा।"

वीडियो कई नस्लवादी सोशल मीडिया पोस्ट में से एक है, जिनमें कई देशों में महामारी कोविड-19 के प्रकोप के बाद चीन के लोगों को लक्षित किया जा रहा है।

वायरस को पहली बार चीन के वुहान प्रांत में एक स्थानीय समुद्री खाद्य बाजार में पाया गया था - जिससे इस क्षेत्र में पूरी तरह लॉकडाउन किया गया था। भारत में भी, 800 से ज्यादा लोगों का कोविड-19 के लिए टेस्ट पॉजिटिव आया है और अब तक इस रोग से 20 रोगियों की मृत्यु हुई है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अप्रैल तक भारत में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें: नहीं, सरकार कोरोनावायरस को मारने के लिए दवा का छिड़काव नहीं कर रही है

नोट: निम्नलिखित दृश्य परेशान कर सकते हैं। विवेक की सलाह दी जाती है।


फ़ैक्ट चेक

बूम ने वीडियो को कीफ्रेम में तोड़ा और यही इमेज पाया जिसे अगस्त 2019 को यूट्यूब पर अपलोड किया गया है। इसके साथ दिए गए टाइटल में लिखा था 'लेट्स ईट एक्जिबिशन - ए फूड थीम्ड आर्ट एग्जिबिशन जाइंट रोबोट स्टोर।'

वीडियो में 30 सेकंड के काउंटर पर, उसी तस्वीर को देखा जा सकता है जो वायरल पोस्ट में फैलाई जा रही है।

विवरण के अनुसार, वीडियो संयुक्त राज्य अमेरिका के लॉस एंजिल्स में जायंट रोबोट स्टोर में आयोजित एक खाद्य प्रेरित और थीम्ड आर्ट शो का था।

बूम ने जायंट रोबोट स्टोर की वेबसाइट को देखा और पाया कि यह नियमित रूप से कला प्रदर्शनियों का आयोजन करता है।

यह भी पढ़ें: हंतावायरस का डर - बातें जो आपके लिए जानना ज़रूरी हैं

उन्होंने 2019 में 24 अगस्त से 11 सितंबर 2019 से लेट्स ईट ग्रुप प्रदर्शनी का आयोजन किया था। बूम ने आगे जायंट रोबोट स्टोर और हैशटैग लेट्स इट की खोज की और उसी वायरल फोटो के साथ एक इंस्टाग्राम पोस्ट पाया। तस्वीर को कलाकार कॉलिन क्रिश्चियन ने शेयर किया था, जिन्होंने उक्त कला कृति बनाई थी।

अपने पोस्ट में, क्रिश्चियन ने एक अखाद्य आर्ट इंस्टॉलेशन के साथ यही वीडियो अपलोड किया है जो सूप का एक कटोरे जैसा है। इसी में, कलाकार अपने 'व्हाट आई सी' श्रृंखला से इस आर्ट को 'शार्क फिन सूप' के रूप में वर्णित किया है।

View this post on Instagram

This weekend at Giant Robot 2 in LA, I'm taking part in a killer group show called 'Let's Eat', #letseatartshow the lineup is pretty spectacular, ❤️❤️❤️ I suggest you get your ass there and take lots of photos, because I can't go!🤦🏻‍♂️😫😫😫 So you fuckers need to be my eyes and ears, go see what's cookin! I did this piece to help raise awareness on the millions of sharks killed all over the planet for bowls of stupid soup. This garbage is popular at weddings and celebrations because it used to be a status symbol, something only rich people could eat. Because many Chinese people have been lifted from poverty, which is wonderful❤️ but sadly some of their new money goes into consuming this dish, the sheer numbers are staggering, tens of millions of bowls are eaten, creating a worldwide demand for shark fins, this has to stop. Education and information on the plight of the ocean's top predator must be a priority to stop this sickening and hugely damaging trade💔💔💔 The sharks are caught, their fins cut off while alive, and they are thrown back into the ocean to drown💔 This cannot continue, let's try to speak out, and stop this demand for this beautiful animal, we are better than this murder. 💔#letseatartshow #gr2letseat. @lukechueh @sarahjomarks @giantrobot #stopsharkfinning #sharkfinsoupisforcunts #sharkfinsoupsucks #sharkfinsoupismurder #leavesharksalone #stopkillingsharksforsoup

A post shared by Colin Christian (@colinchristian) on

अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में, कलाकार ने अपनी रचना का वर्णन करते हुए कहा, "मैंने यह आर्ट, मात्र सूप के कटोरे के लिए पूरे ग्रह पर मारे गए लाखों शार्क पर जागरूकता बढ़ाने में मदद करने के लिए किया था।" वह शार्क की हत्या पर प्रकाश डालते हुए कहते हैं, ".... दसियों लाख कटोरे खाए जाते हैं, दुनिया भर में शार्क के पंखों की मांग होती है, इसे रोकना है। इस गंभीर और बेहद नुकसानदेह व्यापार को रोकने के लिए लोगों को शिक्षित और सूचित करना चाहिए। "

Updated On: 2020-04-02T16:50:07+05:30
Claim Review :   चीन के रेस्तरां में मानव शिशुओं का सूप परोसा जा रहा है
Claimed By :  Twitter
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story