जी नहीं, ये इरफ़ान खान के आखिरी पलों की तस्वीर नहीं है

बूम ने पता लगाया की वायरल पोस्ट में दिख रही तस्वीर दरअसल 2015 की एक तस्वीर पर इरफ़ान की शक्ल को मॉर्फ़ करके बनायी गयी है |

बहुमुखी अभिनेता इरफ़ान खान को गुज़रे अभी एक दिन ही हुआ है और उनसे जुड़ी फ़ेक खबरें सोशल मीडिया पर तैरने लगीं है |

प्रसिद्ध अभिनेता इरफ़ान खान की मृत्यु अप्रैल 29 को मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी हॉस्पिटल में हुई थी | लाइफ़ ऑफ़ पाई, द नेमसेक जैसी फिल्मों से अपने अभिनय का लोहा मनवाने वाले 53-वर्षीय खान न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर से पिछले दो सालों से जूझ रहें थे | खान हॉलीवुड में भी अपने अभिनय के झंडे गाड़ चुके थे |

इरफ़ान खान से जुड़े वायरल पोस्ट में दो तस्वीरों की एक कोलाज शेयर की गयी है जिसके ज़रिये दावा किया गया है की ये उनके आखिरी क्षणों की तस्वीर है | बूम ने पता लगाया की जबकि कोलाज में एक तस्वीर खान की है, दूसरे तस्वीर में किसी पेशेंट के फ़ोटो के ऊपर खान के चहरे को मॉर्फ़ किया गया है |

पोस्ट में दिखाए कोलाज में जहां एक तस्वीर में खान का चेहरा ज़र्द पीला है और वो एक हॉस्पिटल बेड पर लेटे हैं वहीँ दूसरी तस्वीर में वो तंदुरुस्त नज़र आ रहे हैं |

फ़ेसबुक पर ये पोस्ट इस कैप्शन के साथ वायरल है: मुस्लिमों से नफरत करते है बोलने वालों आज इरफान खान के लिए देशवासियों का प्यार भी देख लेना | नफरत कसाब वाली करतूतों से है कलाम और इरफान तो दिलों में बसते है |

ये भी पढ़ें होशियारपुर में स्वामी पुष्पेंद्र स्वरुप पर हुए हमले को सोशल मीडिया पर दिया गया सांप्रदायिक कोण

वायरल पोस्ट को नीचे देखें और उसके आर्काइव्ड वर्शन के लिए यहां देखें |



यही तस्वीर कई छोटी मोटी न्यूज़ पोर्टल्स द्वारा भी इस्तेमाल की गयी है | नीचे देखें |







फ़ैक्ट चेक

रिवर्स इमेज सर्च के सहारे बूम को वायरल पोस्ट में शेयर की तस्वीर से मिलती जुलती एक तस्वीर मिली | ये तस्वीर कई न्यूज़ रिपोर्ट्स में फ़रवरी 2015 में इस्तेमाल की गयी थी |



हिंदुस्तान टाइम्स में छपे एक खबर के हिसाब से तस्वीर में दिख रहे इंसान का नाम सुरेशभाई पटेल है | तस्वीर अल्बामा, अमेरिका में तब ली गयी थी जब एक पुलिसकर्मी के हाथो पटेल 13 फ़रवरी, 2015 को घायल हो गए थे |

पटेल परिवार ने बाद में एक लॉ सूट भी दायर किया था | इस खबर के बारे में और जानकारी यहां और यहां प्राप्त करें |

ये भी पढ़ें क्या यह किम जोंग-उन के अंतिम संस्कार का एक्सक्लूसिव वीडियो है? नहीं, यह झूठ है

बूम ने वायरल पोस्ट में शेयर की गई तस्वीर को न्यूज़ रिपोर्ट में इस्तेमाल किये गए तस्वीर से मिलाया | हमें काफी समानताएं नज़र आयी | आप खुद ही देखें |





Claim Review :  तस्वीर इरफ़ान खान के आखिरी लम्हों को दिखाती है
Claimed By :  Facebbook pages
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story