कंगना रनौत ने इस्लाम पर आमिर खान का फ़र्ज़ी इंटरव्यू शेयर किया

इस फ़र्ज़ी इंटरव्यू में कहा गया है कि आमिर खान कहते है उनके बच्चे इस्लाम का ही पालन करेंगे

हाल ही में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने आमिर खान से जुड़ा एक फ़र्ज़ी इंटरव्यू ट्वीट था किया जिसमें दावा किया गया है कि अभिनेता आमिर खान ज़ोर देकर कह रहे हैं कि उनके बच्चे सिर्फ़ इस्लाम का पालन करेंगे ।

कंगना ने इस ट्वीट के ज़रिये फ़र्ज़ी इंटरव्यू पोस्ट कर यह दावा किया है कि आमिर खान ने कहा कि उनकी पत्नी के हिंदू होने के बावजूद उनके बच्चे सिर्फ़ इस्लाम धर्म का पालन करेंगे । हालांकि आमिर खान की टीम ने इसे फर्ज़ी करार दिया है।

ट्विटर पर कंगना का यह ट्वीट वायरल हो गया, टाइम्स ऑफ इंडिया और पिंकविला ने खान के इंटरव्यू की सच्चाई जांचे बगैर कंगना के ट्वीट के हवाले से ख़बर प्रकाशित कर दी । आमिर खान प्रोडक्शंस के एक सूत्र ने बूम को बताया कि यह लेख फ़र्ज़ी था और अभिनेता ने कभी किसी वेबसाइट को ऐसा इंटरव्यू नहीं दिया।

नहीं, मुग़ल गार्डन्स का नाम बदल कर डॉ राजेंद्र प्रसाद गार्डन नहीं किया गया है

तनक़ीद.कॉम में छपा यह फ़र्ज़ी लेख 15 अगस्त को तुर्की में आमिर खान और तुर्की की प्रथम महिला एमीन एर्दोगन की मुलाक़ात के बाद शेयर किया जा रहा है। आमिर इन दिनों तुर्की में अपनी आने वाली फ़िल्म 'लाल सिंह चड्ढा' की लोकेशन की रिसर्च में लगे हुए हैं।

डायरेक्टर किरण राव से शादी करने वाले आमिर खान को कंगना ने फ़र्ज़ी इंटरव्यू के हवाले से कट्टरपंथी कहा था, जो इस बात पर जोर देता है कि उनकी पत्नी भले ही हिन्दू हो लेकिन वह अपने बच्चों को इस्लाम की शिक्षा ही देंगे। 2012 में एक वेबसाइट में छपी फ़र्ज़ी कहानी में दावा किया गया है कि खान ने अपनी पहली पत्नी रीना दत्ता और राव से जुड़े सवालों के जवाब दिए थे।

कंगना ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'हिंदू + मुस्लिम = मुस्लिम ये तो कट्टरपंथ है, शादी का नतीजा सिर्फ़ जीन और संस्कृतियों का मिश्रण नहीं है बल्कि धर्मों का भी है। बच्चों को अल्लाह की इबादत भी सिखाएं और श्रीकृष्ण की भक्ति भी, यही धर्मनिरेपक्षता है?'

आर्काइव यहां देखें

कंगना दूसरे ट्वीट में लिखती हैं कि 'आप तो सबसे ज़्यादा टॉलरंट थे आप कबसे हिंदूइज़म केलिये इंटॉलरंट हो गए? हिंदू माताओं की संतानें जिनकी रागों में श्री कृशन और श्री राम का खून बह रहा है,सनातन धर्म, भारतीय शभ्यता, यहाँ की संस्कृति जिनकी धरोहर है, वो सिर्फ़ और सिर्फ़ इस्लाम को फ़ॉलो करेंगे, ऐसा क्यूँ??'

'मेरी पत्नियां हिंदू हो सकती हैं लेकिन मेरे बच्चे हमेशा मुस्लिम रहेंगे: आमिर खान' शीर्षक के साथ छपा यह लेख 2012 का है, जिसे तनक़ीद.कॉम नामक वेबसाइट पर पब्लिश किया गया था । दावा किया गया कि इस लेख को संवाददाता शाहीन राज के साथ इंटरव्यू के आधार पर पब्लिश किया गया था।

लेख में धर्म के प्रति आमिर के विचारों के बारे में सवाल पूछा जाता है जैसे वो इस्लाम की प्रथाओं का कैसे पालन करते हैं। उनमें से एक सवाल उनके रिश्ते के बारे में है कि क्या उन्हें दत्ता या राव से शादी करने में किसी "धार्मिक दुविधा'' का सामना करना पड़ा?

लेख के अनुसार, इस सवाल के जवाब में आमिर ने कहा कि "नहीं, कोई भी नहीं। हमने कभी भी एक-दूसरे के धर्म का पालन नहीं किया और न ही हमने एक-दूसरे को ऐसा करने के लिए मजबूर किया। लेकिन मैं यह साफ़ कर दूं कि मेरे बच्चे हमेशा सिर्फ़ इस्लाम धर्म का पालन करेंगे।"


आर्काइव के लिए यहां क्लिक करें

इस्लाम का पालन करते हुए हिंदू से शादी करने के आमिर के इस जवाब के साथ इंटरव्यू खत्म करते हुए लेखक कहता है कि 'यही है जिसे मैं पाखंड कहता हूं।'

न्यूज़ आउटलेट्स टाइम्स ऑफ़ इंडिया और मनोरंजन साईट पिंकविला ने कंगना रानौत के ट्वीट के हवाले से ख़बर पब्लिश की । इसमें यह डिस्क्लेमर नहीं दिया गया कि अभिनेत्री ने फ़र्ज़ी इंटरव्यू के हवाले से ट्वीट किया था।


आर्काइव यहां देखें


आर्काइव यहां देखें

इसी फ़र्ज़ी लेख के शीर्षक के साथ सोशल मीडिया पर भी कई पोस्ट्स वायरल हैं जिनमे खान को 'जिहादी मानसिकता वाला' बुलाया गया है |

आर्काइव यहाँ देखें |

ट्विटर पर भी यही फ़र्ज़ी दावें ज़ोरशोर से वायरल हैं |

आमिर खान ने 2016 में फ़ेक इंटरव्यू का किया था ज़िक्र

आमिर खान ने इस फ़ेक इंटरव्यू का ज़िक्र इंडिया टीवी के 'आप की अदालत' शो में रजत शर्मा के एक सवाल के जवाब में किया था । शर्मा ने आमिर खान से एक सवाल पूछा था कि उनके खिलाफ़ सोशल मीडिया में नकारात्मकता फ़ैलाने पर पुलिस से शिकायत क्यों की थी, जिसके जवाब में आमिर कहते हैं कि 'किसी ने उनके नाम पर एक मनगढ़ंत इंटरव्यू बनाया गया था, जबकि उन बातों को मैंने कभी कहा ही नहीं।'

"मैंने पुलिस में शिकायत की थी, और इस तरह की बातें एक दो बार नहीं बल्कि लगातार की जा रही थीं। कुछ समय से मैं अपने खिलाफ़ एक साजिश देख रहा था, लोगों को मेरे खिलाफ़ उकसाया जा रहा था। एक अजीब सा इंटरव्यू था जिसमें मैं कह रहा हूं कि मैं एक मुसलमान हूं, मेरे बीवी हिंदू होने के बावजूद मेरे बच्चे सिर्फ़ मुसलमान रहेंगे। ऐसे कुछ इंटरव्यू थे जो कथित तौर पर मैंने दिए थे। मेरी कुछ तस्वीरें शेयर की जा रही थीं कि मैं आतंकवादियों के साथ घूम रहा हूं। इस तरह की बातें मेरे बारे में फैलाई जा रही थी," खान ने इंटरव्यू में कहा था |

51 मिनट 34 सेकंड पर देखें

यह फ़र्ज़ी इंटरव्यू है : आमिर खान प्रोडक्शन सूत्र

बूम को आमिर खान प्रोडक्शन के एक सूत्र ने बताया कि लेख में किये गए सभी दावे फ़र्ज़ी हैं, आमिर खान ने कभी ऐसा इंटरव्यू नहीं दिया।

सूत्र ने बूम को बताया कि "यह एक फ़र्ज़ी लेख है, हमने 2012 में शिकायत दर्ज की थी और पुलिस ने हैदराबाद में फ़ेक इंटरव्यू फैलाने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था।" सूत्र ने आगे बताया कि खान ने ऐसा कोई साक्षात्कार नहीं दिया है और न ही ऐसा कोई बयान दिया है जिसके लिए अभिनेता को ज़िम्मेदार ठहराया जा रहा है।

इस फ़र्ज़ी इंटरव्यू के शीर्षक 'मेरी पत्नियां हिंदू हो सकती हैं लेकिन मेरे बच्चे हमेशा केवल इस्लाम का पालन करेंगे' और 'आमिर खान', कीवर्ड से हमने गूगल पर खोजबीन किया, जिसमें हमें यही इंटरव्यू 2010 के ब्लॉगस्पॉट के एक ब्लॉग पर मिला।


आर्काइव यहां देखें

2010 के इसी ब्लॉग के कुछ अंश को डेली ओ वेबसाइट ने अपने लेख 'The Rising Intolerance of Superstar Aamir Khan' में शामिल किया था। हालांकि, 2010 का ब्लॉग अब उपलब्ध नहीं है, लेकिन यह 2012 में तनक़ीद.कॉम में पब्लिश लेख से बिलकुल मेल खाता हुआ है |

Updated On: 2020-08-30T13:28:00+05:30
Claim Review :   आमिर खान ने एक इंटरव्यू में कहा, मेरी पत्नियां हिंदू हो सकती हैं लेकिन मेरे बच्चे हमेशा इस्लाम का पालन करेंगे
Claimed By :  Kangana Ranaut
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story