पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की स्थिति स्थिर है: हॉस्पिटल

एक बयान जारी करते हुए हॉस्पिटल ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति कोमा में हैं पर स्थिति स्थिर है और वह वेंटिलेटर पर हैं

दिल्ली के आर्मी रिसर्च और रेफ़रल हॉस्पिटल ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के मस्तिष्क से ब्लड क्लॉट की सर्जरी से मौत की अफ़वाहें को ख़ारिज किया है ।

14 अगस्त 2020 को जारी एक बयान में हॉस्पिटल ने कहा, "माननिय पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की स्थिति में 14, अगस्त 2020 की सुबह तक कोई बदलाव नहीं है । वह इंटेंसिव केयर में वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं । उनके वाइटल पैरामीटर्स अभी स्थिर हैं।"

न्यूज़ीलैण्ड की प्रधानमंत्री राधाकृष्ण मंदिर क्यों गयी थी?

इससे पहले हॉस्पिटल ने बताया था कि वह कोमा में हैं पर स्थिर हैं ।

हॉस्पिटल ने यह बयान तब जारी किया जब पत्रकारों ने ट्वीट कर के मुखर्जी की मृत्यु की सूचना फैलाई जिससे सोशल मीडिया पर फ़र्ज़ी ख़बरें फैलने लगी ।




वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई और स्वाति चतुर्वेदी ने पूर्व राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि देते हुए ट्वीट किया ।

हालांकि उन्होंने तुरंत ट्वीट्स डिलीट कर दिए जब प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत और बेटी शर्मिष्ठा ने ट्वीट कर इन दावों को ख़ारिज किया ।

अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट में लिखा, "मेरे पिता श्री प्रणब मुखर्जी अभी ज़िंदा हैं और स्थिर हैं । प्रतिष्टित पत्रकारों द्वारा फैलाई जा रही फ़र्ज़ी ख़बरें यह साफ़ तौर पर दिखाती हैं कि भारतीय मीडिया फ़ेक न्यूज़ की फ़ैक्ट्री बन गयी हैं ।

असंबंधित तस्वीरें बिहार में कोविड-19 अस्पतालों की दुर्दशा बताकर वायरल

वहीं शर्मिष्ठा मुख़र्जी ने लिखा, "मेरे पिता के बारे में अफ़वाहें झूठी हैं । मैं विनती करती हूं, मुख्यतः मीडिया से, कि संपर्क न करें क्योंकि मुझे फ़ोन हॉस्पिटल से आने वाले अपडेट्स के लिए खाली रखना है ।"


सरदेसाई ने ट्विटर पर माफ़ी मांगी जबकि चतुर्वेदी ने शर्मिष्ठा के ट्वीट को रिट्वीट किया जहाँ दावा ख़ारिज किया गया है ।

इन अफ़वाहों के बीच ट्विटर और #RIPPranabMukherjee ट्रेंड कर रहा था और फ़ेसबुक पर भी मुखर्जी की मृत्यु की अफ़वाहें फैलने लगी थीं ।


फ़ेसबुक पोस्ट्स के अर्काइव्ड वर्शन यहाँ, यहाँ और यहाँ देखें ।

पूर्व राष्ट्रपति ने हाल में एक सर्जरी करवाई थी जिसके दौरान उनके मस्तिस्क से ब्लड क्लॉट यानी खून का थक्का निकाला गया । हॉस्पिटल में इसी दौरान उन्हें कोविड-19 संक्रमण भी हो गया था जिसकी सूचना उन्होंने ट्वीट द्वारा दी थी ।

Updated On: 2020-08-14T19:42:24+05:30
Claim Review :   पोस्ट्स का दावा है कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन हो चुका है
Claimed By :  Facebook posts and Twitter handles
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story