योगी आदित्यनाथ की पुरानी तस्वीर फ़िल्म सिटी का निरीक्षण बताकर वायरल

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर पुरानी है और वायरल पोस्ट में भ्रामक दावा किया जा रहा है

हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फ़िल्म सिटी बसाने की घोषणा की है। सोशल मीडिया यूज़र्स से लेकर कई फ़िल्मी हस्तियों ने उनके इस फ़ैसले का स्वागत किया है। हालांकि, इसके बाद सोशल मीडिया पर फ़िल्म सिटी से जुड़े दावे वायरल है |

ऐसा ही एक पोस्ट योगी आदित्यनाथ की एक पुरानी तस्वीर के साथ वायरल है | पोस्ट में दावा किया गया कि योगी सरकार ने यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे फ़िल्म सिटी के लिए हज़ार एकड़ ज़मीन आवंटित कर दी है। पुरानी तस्वीर के ज़रिये ये दिखाने की कोशिश की गयी है कि घोषणा के तुरंत बाद योगी आदित्यनाथ फ़िल्म सिटी के लिए आवंटित ज़मीन का निरीक्षण करने पहुंच गए।

बूम ने पाया कि तस्वीर पुरानी है।

फ़ेसबुक पोस्ट के साथ कैप्शन कहता है 'योगी सरकार ने यमुना एक्सप्रेस-वे के किनारे फिल्म सिटी के लिए 1000 एकड़ की जमीन आवंटित की! औरों में और योगी महराज में यही फर्क है परसो घोषणा की और आज ही उसपे अमल किया'।

पोस्ट यहां देखें, पोस्ट का आर्काइव यहां देखें

मध्यप्रदेश कांग्रेस ने शिवराज सिंह चौहान की रैली का एडिटेड वीडियो शेयर किया

फ़ेसबुक और ट्विटर पर बड़ी तादाद में यूज़र ने उसी कैप्शन के साथ योगी आदित्यनाथ की अलग-अलग तस्वीरें शेयर की हैं। शशांक सिंह नामक एक यूज़र ने वायरल तस्वीर के साथ उसी कैप्शन को लिखकर ट्वीट किया है।


ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

इसी वायरल तस्वीर को शेयरचैट ऐप पर भी पोस्ट किया गया है। पोस्ट नीचे देखें, पोस्ट का आर्काइव यहां देखें


क्या डॉ आंबेडकर और उनकी पत्नी की तस्वीर के साथ कोलंबिया में एक बस चलाई गयी है?

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल तस्वीर रिवर्स इमेज सर्च पर खोजा। हमें योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक फ़ेसबुक पेज पर यही तस्वीरें मिलीं। यूपी सीएम के आधिकारिक पेज से 21 फ़रवरी 2020 को पोस्ट किये गए तस्वीरों के इस सेट को कैप्शन के साथ शेयर किया गया था, जिसमें लिखा कि "आज महंत अवेद्यनाथ राजकीय डिग्री कॉलेज, जंगल कौड़िया के निर्माण कार्य का व मानीराम स्थित चिउटहा, गोरखपुर में निर्माणाधीन फोरलेन का निरीक्षण किया।"

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

इसके अलावा नेशन आवाज़ के फ़ेसबुक पेज पर 21 फ़रवरी को शेयर किये गए एक पोस्ट में तस्वीरें देखी जा सकती हैं। इससे साफ़ है कि तस्वीरें फ़रवरी में योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर दौरे की हैं। वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा भ्रामक है।

बूम को इस लेख लिखे जाने तक फ़िल्म सिटी के लिए ज़मीन आवंटन की कोई ख़बर नहीं मिली। 21 सितंबर को जागरण में छपे एक लेख के मुताबिक "यमुना प्राधिकरण ने एक्सप्रेसवे से लगे सेक्टर -21 में फ़िल्म सिटी बसाने एक हज़ार एकड़ ज़मीन का प्रस्ताव दिया है। सेक्टर 21 यमुना एक्सप्रेस वे से सटा होने के साथ जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के भी बेहद नजदीक है।"

एबीपी न्यूज़ की ख़बर के अनुसार "ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की तरफ से प्रस्ताव भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को मंडलीय समीक्षा बैठक में नोएडा, ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण से प्रस्ताव मांगा था। तीनों प्राधिकरणों में से किसके क्षेत्र में फिल्म सिटी बनेगी, यह मंगलवार को लखनऊ में प्रस्तावित उच्चस्तरीय बैठक में तय होगा।"

शाम 5 बजे तक इस ख़बर को लिखे जाने तक योगी आदित्यनाथ की फ़िल्मी हस्तियों के साथ फ़िल्म सिटी के संदर्भ में बैठक चल रही थी।

किसानों पर पुलिस लाठीचार्ज बताकर पुरानी तस्वीर फ़र्जी दावे के साथ वायरल

Updated On: 2020-09-22T18:44:10+05:30
Claim Review :   योगी सरकार ने फ़िल्म सिटी के लिए 1000 एकड़ जमीन आवंटन की परसों घोषणा की और आज ही अमल किया
Claimed By :  Social Media
Fact Check :  Misleading
Show Full Article
Next Story