कोरोनावायरस: इंडोनेशियाई बाज़ार का वीडियो, चीन के वुहान का बता कर किया वायरल

बूम ने पाया कि वीडियो इंडोनेशिया के एक स्थानीय बाजार का है, जहां विदेशी जानवर बेचे जाते हैं।

इंडोनेशियाई बाजार का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में जंगली जानवरों को अस्वच्छ परिस्थितियों में रखा दिखाया गया है। साथ ही बाजार में उन्हें विदेशी व्यंजनों के रूप में बेचते हुए भी दिखाया गया है। लेकिन इस वीडियो को चीन के वुहान क्षेत्र का एक बाजार बताते हुए शेयर किया जा रहा है जो कोरोनावायरस का केंद्र बना हुआ है।

फ़ेसबुक और व्हाट्सएप्प पर वायरल हुए इस वीडियो के साथ एक कैप्शन दिया गया है, जिसमें लिखा है, "व्हुआन मार्केट। चाइना, #कोरोना वायरस की उत्पत्ति।"

यह भी पढ़ें: झूठ: कोरोनावायरस पर वायरल 'आपातकालीन अधिसूचना' फ़र्ज़ी है

कैप्शन में दावा किया गया है कि बाजार, जहां जानवरों को व्यंजनों के रूप में बेचा जा रहा है, वहीं से कोरोनावायरस की उत्पत्ति हुई है। नए वायरस से भारत सहित कई देशों में दहशत फैल गई है। कहा जा रहा है कि इसकी उत्पत्ति चीन के वुहान में हुई थी। वायरस के कारण चीन में अब तक 170 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि भारत में संदिग्ध मामले सामने आए हैं। भारत में इस लेख के हिंदी बूम में प्रकाशित होने तक एक मामले की पुष्टि हुई है|

नोट: दर्शकों को विवेक की सलाह दी जाती है

वीडियो को फ़ेसबुक पर कई यूज़रों द्वारा यही झूठे कैप्शन के साथ शेयर किया है जिसमें दावा किया गया है कि यह चीन के वुहान क्षेत्र का है।



फ़ैक्ट चेक

बूम यह पता लगाने में सक्षम था कि वीडियो इंडोनेशिया का है और चीन का नहीं है, जैसा कि दावा किया जा रहा है। वायरल वीडियो इंडोनेशिया के उत्तर सुलावेसी क्षेत्र में पसार ट्रेडिशनल लैंगोवन का है।

हमने वीडियो के पहले कुछ फ्रेम में 'पासर एक्स्ट्रीम लैंगोवन' लिखा हुआ देखा। गूगल खोज करने पर कई यूट्यूब परिणाम सामने आए, जिसमें जहाँ चूहों, साँपों, चमगादड़ों और कुत्तों की विभिन्न प्रजातियों को बेचे जाने वाले बाजार को दिखाया गया है।

वीडियो से एक मुख्य फ्रेम पर हमने रिवर्स इमेज सर्च किया और 20 जुलाई, 2019 को अपलोड किए गए यूट्यूब के एक वीडियो तक पहुंचे, जिसके विवरण में 'पासर एक्स्ट्रीम लैंगोवन' टेक्स्ट लिखा हुआ है।

यूट्यूब वीडियो में बाजार का वर्णन करते हुए लिखा गया है , "दुनिया में अजीब भोजन केवल लैंगोवन मार्केट में उपलब्ध है।'

हमें वायरल वीडियो और यूट्यूब पर अपलोड किए गए वीडियो में कई समानताएं मिलीं।


दोनों वीडियो में 20-सेकंड के निशान पर, हमने दाईं ओर एक इमारत देखी जिसपर ईंडोनेशियाई लेखन में एक टेक्स्ट था, जिसका हिंदी अनुवाद कुछ ऐसा है 'मीनाहासा रीजेंसी की सरकार। व्यापार विभाग। लैंगोवन मार्केट ऑफिस'। इसके लिए एक खोज से पता चला कि लैंगोवन इंडोनेशिया के उत्तरी सुलावेसी क्षेत्र में एक क्षेत्र है जहां बहुसंख्यक मीनाहसन जातीयता से संबंधित हैं।

यह भी पढ़ें: कैंसर इलाज़ के नए प्रयोग कीमो थेरेपी के दौरान बाल झड़ने से रोकेंगे

कई अंतर्राष्ट्रीय समाचार आउटलेट्स ने भी लैंगोवन बाजार के बारे में लिखा है जो एक पर्यटन स्थल बन गया है, जहां लोग स्थानीय व्यंजनों के रूप में बेचे जाने वाले जानवरों को देखने आते हैं। लैंगोवन बाजार के लिए फोटो, वायर एजेंसी गेट्टी इमेजेज की तस्वीरें भी वायरल वीडियो के दृश्यों से मेल खाती हैं।

कहा जाता है कि कोरोनवायरस, एक घातक रहस्यमयी वायरस है, जो वुहान के हुनान सीफूड होलसेल मार्केट से निकला है। पहले कुछ मामले दिसंबर 2019 में सामने आए थे, जिसमें मरीजों में दिखाई देने वाले लक्षण निमोनिया जैसे थे। चीन में अधिकारियों द्वारा प्रकोप को रोकने के लिए किए जा रहे प्रयासों के साथ वुहान में समुद्री भोजन का बाज़ार तब से बंद है। रोकथाम और एहतियाती उपायों के तहत भारत ने सात हवाई अड्डों पर स्क्रीनिंग केंद्र स्थापित किए हैं, जिनमें लगभग 35,000 यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई है।

Updated On: 2020-02-01T16:03:21+05:30
Claim Review :   चीन के वुहान का वो मार्केट जहाँ से कोरोनावायरस फैला है
Claimed By :  Facebook and WhatsaApp
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story