असदुद्दीन ओवैसी और स्मृति ईरानी की यह तस्वीर कब की है?

सोशल मीडिया यूज़र तस्वीर को हैदराबाद नगर निगम चुनाव से जोड़कर शेयर कर रहे हैं।

केंदीय कपड़ा उद्योग और महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) के साथ मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की एक पुरानी तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल है। दावा किया जा रहा है कि ओवैसी और स्मृति ईरानी हैदराबाद नगर निगम चुनाव के संदर्भ में चर्चा कर रहे हैं।

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर अगस्त 2016 में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के नेतृत्व में बुनकरों की समस्या के संदर्भ में हुई एक मीटिंग के दौरान की है।

वायरल तस्वीर में देखा जा सकता है कि असदुद्दीन ओवैसी और स्मृति ईरानी गलियारे से निकल रहे हैं। गौरतलब है कि आज ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (Hyderabad Nagar Nigam chunav 2020) की 150 सीटों पर मतदान जारी है। बीजेपी ने पहली बार नगर निकाय चुनाव में सक्रियता दिखाते हुए ज़ोरदार प्रचार किया था। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (J.P. Nadda) से लेकर केंद्रीय मंत्री अमित शाह, स्मृति इरानी और योगी आदित्यनाथ ने यहां चुनाव प्रचार किया था। इसी पृष्ठभूमि में तस्वीर वायरल हो रही है।

मुंबई में किसानों के धरने की दो साल पुरानी तस्वीर फ़र्ज़ी दावे के साथ वायरल

फ़ेसबुक पर तस्वीर शेयर करते हुए एक यूज़र ने लिखा कि "#संभवत यही #भाईचारा है, #हैदराबाद नगर निगम चुनाव पर चर्चा करते हुए असदुद्दीन ओवैसी और स्मृति ईरानी।"

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

वायरल तस्वीर को फ़ेसबुक और ट्विटर पर बड़ी तादाद में अलग-अलग दावों के साथ शेयर किया गया है।+

पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

पुलिसकर्मियों पर लाठी उठाए महिला की यह तस्वीर किसान आंदोलन की नहीं है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया तो 23 अगस्त 2016 के एक ट्वीट में असदुद्दीन ओवैसी और स्मृति ईरानी की एक साथ वही तस्वीर मिले।

तस्वीर शेयर करते हुए यूज़र ने ओवैसी और बीजेपी के अधिकारिक ट्विटर हैंडल को टैग किया और लिखा, "एक तरफ़ असदुद्दीन ओवैसी भारतीय जनता पार्टी की आलोचना करते हैं और दूसरी तरफ़ वो भाजपा नेताओं के साथ घूम रहे हैं।"

इसके जवाब में असदुद्दीन ओवैसी ने रिट्वीट करते हुए लिखा कि "आपकी पुरानी पार्टी के सांसद पावर लूम की बैठक में शामिल नहीं हुए थे और आपको यह एहसास नहीं था कि यूपी में बुनकर किस पीड़ा से गुज़र रहे हैं।"

इससे यह बात तो ज़रूर साफ़ हो जाती है कि तस्वीर हाल के दिनों की नहीं है।

हमने 'पावर लूम बैठक', 'ओवैसी और स्मृति ईरानी' जैसे कीवर्ड की मदद से गूगल सर्च किया तो हमें इससे जुड़ी कई मीडिया रिपोर्ट्स मिली। अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ़ इंडिया की 23 अगस्त 2016 की रिपोर्ट कहा गया कि केंद्रीय कपड़ा उद्योग मंत्री स्मृति ईरानी ने कपड़ा आयुक्त से यार्न की कीमतों में उतार चढ़ाव, डंपिंग शुल्क सहित कई मामलों पर कपड़ा उद्योग की प्रतिक्रिया जानने का आदेश दिया।

वहीं, पत्रिका में 27 अगस्त 2016 को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक़ दिल्ली में केंद्रीय वस्त्र मंत्रालय ने स्मृति ईरानी के नेतृत्व में बुनकरों की समस्या पर विस्तार से जानकारी ली। रिपोर्ट में बताया गया कि इस मीटिंग में हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी सहित महाराष्ट्र और दक्षिण भारत के कई सांसद मौजूद रहे।


पत्रिका में प्रकाशित मीटिंग की तस्वीर के समान ओवैसी ने भी ट्वीट में एक तस्वीर शेयर किया और लिखा कि देश में 50 लाख पावरलूम से 2 करोड़ लोगों को रोज़गार मिलता है, जो बुरी हालत में है, एंटी डंपिंग की समीक्षा की ज़रूरत है।

वायरल तस्वीर और ओवैसी के ट्वीट में शेयर की गयी तस्वीर में देखा जा सकता है कि ओवैसी और स्मृति ईरानी ने एक तरह के ही कपड़े पहने हुए हैं, जिससे यह स्पष्ट है कि तस्वीर 2016 में बुनकरों की समस्या पर हुई मीटिंग की है।

नीचे तुलना देखें


फ़ैक्ट चेक : क्या किसान आंदोलन की यह बुज़ुर्ग महिला शाहीन बाग़ की 'दादी' है?

Updated On: 2020-12-02T18:10:51+05:30
Claim Review :   तस्वीर दिखाती है कि असदुद्दीन ओवैसी और स्मृति ईरानी हैदराबाद नगर चुनाव पर चर्चा कर रहे हैं।
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story