गांधी की हत्या दोहराने वाले पुराने वीडियो में इस बार मौजूद काल्पनिक विधायक अनिल उपाध्याय

वीडियो में नाथूराम गोडसे के प्रति समर्थन दिखाने के लिए एक हिंदू महासभा नेता को महात्मा गांधी के पुतले पर गोली चलाते हुए दिखाया गया है।

2019 में महात्मा गांधी के एक पुतले पर हिंदू महासभा के सचिव पूजा शकुन पांडेय की गोली मारकर हत्या दोहराने वाला एक वीडियो फिर सामने आया है, जिसमें दावा किया गया है कि भारतीय जनता पार्टी के एक सदस्य ने हत्याकांड को अंजाम देने की पहल की थी।

कहानी में इस कार्य को बीजेपी के काल्पनिक विधायक अनिल उपाध्याय के साथ जोड़ा गया है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया गया है।

वायरल वीडियो से पता चलता है कि पांडे ने महात्मा गांधी के पुतले को एक खिलोने वाली बंदूक से शूट किया और उनके समर्थकों ने नाथूराम गोडसे की जय जयकार की। नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी, 1948 को महात्मा गांधी की हत्या की थी।

यह भी पढ़ें: छेड़खानी करने वाले शिक्षक का वीडियो भाजपा विधायक के रूप में वायरल

वायरल क्लिप 30 जनवरी को शहीद दिवस मनाए जाने के मद्देनज़र फिर से वायरल हुआ है। वीडियो को एक हिंदी कैप्शन के साथ शेयर किया गया है, जिसमें लिखा है, "B.J.P. विधायक अनिल उपाध्याय की इस हरकत पर क्या कहेगे मोदी जी, इन video को इतना वायरल करो की ये पूरा हिन्दुस्तान देख सके।"


वीडियो को यहां देखा जा सकता है और अर्काइव यहां देख सकते हैं।

फ़ैक्ट चेक

बूम यह पता लगाने में सक्षम था कि महात्मा गांधी की हत्या दोहराने में अनिल उपाध्याय के नाम से कोई नेता शामिल नहीं था। हमने पहले भी कई कहानियों में उपाध्याय के काल्पनिक चरित्र को खारिज किया है, जिसका इस्तेमाल बीजेपी और कांग्रेस के ख़िलाफ ग़लत सूचना फैलाने के लिए किया गया है।

प्रासंगिक कीवर्ड खोजों के बाद, हम उसी वीडियो पर आए जो 30 जनवरी, 2019 को अलीगढ़ में शूट किया गया था।

यह भी पढ़ें: काल्पनिक अनिल उपाध्याय की वापसी, इस बार सीएए के ख़िलाफ भाजपा विधायक के रूप में

भगवा रंग की साड़ी पहने शूटर हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे हैं। पांडे ने महात्मा गांधी की हत्या पर पार्टी के अन्य सदस्यों के साथ एक खिलौना बंदूक के साथ पुतले में गोली मारकर और नाथूराम गोडसे का 'सच्चे महात्मा' के रूप में समर्थन किया। सदस्यों ने उसी दिन शौर्य दिवस भी मनाया। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, संगठन के सदस्यों ने मिठाई भी बांटी और गांधी की हत्या का जश्न मनाने के लिए नाथूराम गोडसे की तस्वीर को हार चढ़ाया।

हिंदू महासभा एक हिंदू राष्ट्रवादी संगठन है| गांधी की हत्या को दोहराने के बाद अलीगढ़ पुलिस ने पांडे और 13 अन्य के ख़िलाफ मामला दर्ज़ किया।

घटना पर रिपोर्ट यहां और यहां पढ़ी जा सकती है।

रहस्यमयी अनिल उपाध्याय कौन हैं?

अनिल उपाध्याय एक काल्पनिक चरित्र है जो राजनीतिक दलों के बारे में ग़लत सूचना फैलाने के लिए बनाया गया है। बूम ने पहले कई रिपोर्टों को खारिज किया है जिसमें काल्पनिक अनिल उपाध्याय के नाम का इस्तेमाल किया गया है। जांच करने पर, हमने पाया कि अनिल उपाध्याय नाम का कोई विधायक है ही नहीं जो भाजपा या किसी राजनीतिक दल से जुड़ा हो।

Claim Review :  महात्मा गाँधी के पुतले पर गोली चलते वक़्त भाजपा विधायक अनिल उपाध्याय मौजूद थे
Claimed By :  Facebook
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story