बंदूकों और तलवारों के साथ तृणमूल की जीत का जश्न दिखाता ये वीडियो एडिटेड है

वीडियो सिंतबर 2020 से इन्टरनेट पर मौजूद है जिसमें खेला होबे ऑडियो अलग से जोड़ा गया है.

पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा की पृष्ठभूमि में एक एडिटेड वीडियो वायरल है. इसमें लोग हथियार लिए 'खेला होबे' के रीमिक्स वर्शन पर नाच रहे हैं.

क्लिप के साथ दावा है कि यह वीडियो टीएमसी के कार्यकर्ताओं को पार्टी की भारी जीत का जश्न मनाते दिखाती है.

बूम ने पाया कि यह दावा भ्रामक है क्योंकि वीडियो में खेला होबे ऑडियो अलग से जोड़ा गया है. वीडियो क्लिप अक्टूबर 2020 से इंटरनेट पर मौजूद है.

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आते ही 2 मई के बाद कई इलाकों में हिंसा रिपोर्ट की गई. रिपोर्ट्स के मुताबिक करीब कई कार्यकर्ता मारे गए हैं. इसमें कथित तौर पर बीजेपी और टीएमसी के कार्यकर्ता थे.

वीडियो बंगाल और ममता बनर्जी के कुछ हैशटैग्स के साथ इस दावे के साथ शेयर हो रहा है कि, 'हथियारों के साथ टीएमसी के गुंडों का जश्न. यह हमारे सामने मौत के जैसा है.'



बीजेपी महिला मोर्चा की सोशल मीडिया इंचार्ज प्रीति गांधी और kreatelyOSINT ने भी इस वीडियो को पोस्ट किया है.






दिल्ली बीजेपी के जनरल सेक्रेटरी कुलजीत सिंह चहल ने भी यह वीडियो शेयर किया.


रिलायंस के नाम के साथ ऑक्सीजन टैंकर का वीडियो फ़र्ज़ी दावे से वायरल

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल वीडियो की कीफ्रेम्स का इस्तेमाल कर रिवर्स इमेज सर्च किया और पाया कि वीडियो 26 सिंतबर 2020 को pavan_patil26 नामक इंस्टाग्राम हैंडल पर पोस्ट किया गया था.


यही वीडियो यूट्यूब पर अक्टूबर 2020 से मौजूद है.


जबकि बूम वीडियो में इस्तेमाल गए ऑडियो की पुष्टि नहीं कर सका, यह पुष्टि की जा सकती है कि वीडियो पुराना है.

खेला होबे का वास्तविक लिरिक्स टीएमसी के प्रवक्ता और जनरल सेक्रेटरी देबांगशू भट्टाचार्य ने लिखे हैं.

यह जिंगल उन्होंने 7 जनवरी 2021 को पोस्ट किया था.



खेला होबे का रीमिक्स वर्शन देबांगशू भट्टाचार्य के यूट्यूब चैनल पर 11 जनवरी को अपलोड किया गया था.


Updated On: 2021-05-05T18:23:25+05:30
Claim Review :   टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने बंदुक और तलवारों से मनाया जीत का जश्न
Claimed By :  Facebook and Twitter posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story