असदुद्दीन ओवैसी को बधाई देते अमित शाह की यह तस्वीर एडिटेड है

बूम ने पाया कि मूल तस्वीर साल 2014 से है जब अमित शाह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दे रहे थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देते हुए गृहमंत्री अमित शाह की एक पुरानी तस्वीर सोशल मीडिया पर फ़र्ज़ी दावे के साथ घूम रही है। तस्वीर भारतीय जनता पार्टी और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल-मुसलीमीन (AIMIM) के बीच पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले एक 'गुप्त संधि' (Secret pact) के दावे के साथ शेयर की जा रही है। वायरल एडिटेड तस्वीर गृह मंत्री अमित शाह को AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का आभार व्यक्त करते दिखाती है।

बीते 3 जनवरी को ओवैसी दक्षिण बंगाल के एक प्रभावशाली धार्मिक-राजनीतिक मौलवी अब्बास सिद्दीकी के साथ मुलाक़ात की, जिससे आगामी चुनावों में उनकी पार्टी के चुनाव लड़ने की आशंका जताई जा रही है और यह घटना पिछले कुछ हफ्तों में राजनीतिक हलकों में चर्चा का हिस्सा बन गई है।

दो साल पुरानी यह फ़ोटो बदायूं गैंगरेप और हत्या के मामले से जोड़कर वायरल

बांग्ला में शेयर किये गए पोस्ट में कैप्शन दिया गया है, "अमित शाह ने असदुद्दीन का हाथ पकड़कर विनती की और कहा 'जैसे बिहार दिया बंगाल भी हमें दे दो, जितनी भी ज़रूरत होगी मैं नकदी की पेशकश करूंगा।"


(बांग्ला कैप्शन: ''অমিত শাহ বলছেন। আসাদ উদ্দিন। আমি তোর হাতটা ধরে বলছি ভাই।বিহারের মত করে বাংলা টা আমাদের করে দে ভাই।যত টাকা লাগে দেবো তোকে তাই।'')


पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

2017 में, इसी तस्वीर को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया था। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा, "किसी ने मुझे यह तस्वीर भेजी है, जो भगवा वेस्ट कोट पहन रखा है। लेकिन अब आपको कभी पता नहीं चलेगा!"

ट्वीट का आर्काइव वर्ज़न यहां देखें

बोरिस जॉनसन ने किसान आंदोलन के कारण दौरा रद्द नहीं किया है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने तस्वीर को रिवर्स इमेज पर सर्च किया और पाया कि मूल तस्वीर यानी ओरिजिनल तस्वीर साल 2014 से है।

20 अक्टूबर, 2014 को डेली मेल द्वारा प्रकाशित मूल तस्वीर, नई दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देने के बारे में बताती है। उस समय, पार्टी ने दो राज्यों, हरियाणा और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव जीते थे।


मूल तस्वीर और एडिटेड तस्वीर की तुलना नीचे देखी जा सकती है। प्रधानमंत्री के सिर को बदल दिया गया है और ओवैसी की तस्वीर फोटोशॉप्ट करके लगा दी गई है, जबकि पोशाक वही है।


हिंदी न्यूज चैनल एबीपी न्यूज ने 2017 में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह द्वारा शेयर की गई तस्वीर के बारे में बताया था कि यह तस्वीर शरारतपूर्ण तरीके से एडिट की गई है। पीएम मोदी के पार्टी कार्यालय पहुंचने और अमित शाह की मूल क्लिप के सामने आने का फुटेज नीचे देखा जा सकता है।

भारत के चार राज्यों में बर्ड फ़्लू: यह बातें आपको ज़रूर जाननी चाहिए

Claim Review :   तस्वीर दिखाती है कि अमित शाह पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 से पहले असदुद्दीन ओवैसी को नमन करते हैं
Claimed By :  Social Media Posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story