मस्जिद पर भगवा झंडा लहराने का वीडियो राजस्थान के करौली का नहीं है

बूम ने पाया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा दावा ग़लत है.

बीते 2 अप्रैल को राजस्थान के करौली में नवसंवत्सर के मौके पर आयोजित बाइक रैली के बाद हुई हिंसा में कई लोग घायल हो गए. साथ ही हिंसाग्रस्त इलाके के कई दुकान, मकान और वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए. इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफ़ी वायरल हो रहा है जिसमें यह दावा किया जा रहा है कि कुछ लोगों ने करौली के मस्जिद के ऊपर चढ़कर भगवा लहराया.

वायरल हो रहे वीडियो में देखा जा सकता है कि एक शख्स मस्जिद के ऊपरी हिस्से पर चढ़कर भगवा झंडा लहरा रहा है और नीचे मौजूद कई लोग भी भगवा झंडा लिए हुए हैं. वीडियो में एक गाना भी बजता हुआ सुनाई दे रहा है जिसपर लोग डांस भी कर रहे हैं.

अरबी फ़िल्म का दृश्य चार साल पुराने एससी-एसटी आंदोलन से जोड़ कर वायरल

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर काफ़ी ज्यादा शेयर किया जा रहा है.

अभिषेक सैनी नाम के फ़ेसबुक यूज़र ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है 'भगवा शूरवीरों ने करौली राजस्थान में जिस मस्जिद से पत्थर फेंके गए थे उसी मस्जिद पर चढ़कर भगवा शेरों ने लहराया भगवा'.

भगवा शूरवीरों ने करौली राजस्थान में जिस मस्जिद से पत्थर फेंके गए थे उसी मस्जिद पर चढ़कर भगवा शेरों ने लहराया भगवा 🚩 🚩जय जयश्रीराम🚩

Posted by अभिषेक सैनी on Monday, 4 April 2022

वहीं पुष्पराज राणा नाम के यूज़र ने भी इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा 'करौली राजस्थान जिस मस्जिद से पत्थर निकला उसी मस्जिद में भगवा तांडव, जय जय श्री राम'.

करौली राजस्थान जिस मस्जिद से पत्थर निकला उसी मस्जिद में भगवा तांडव जय जय श्री राम

Posted by Pushpraj Rana on Monday, 4 April 2022

वायरल पोस्ट यहां, यहां और यहां देखें.

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल हो रहे वीडियो की पड़ताल के लिए सबसे पहले उसके कीफ़्रेम की मदद से रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें यह वीडियो कई ट्विटर अकाउंट पर मिला. हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी इस वीडियो को रीट्वीट किया था जिसे गुफरान अरमानी नाम के यूज़र ने अपने अकाउंट से शेयर किया था.

ट्वीट के कैप्शन में इस वीडियो को उत्तरप्रदेश के गाजीपुर के गहमर गांव का बताया गया था. साथ ही ट्वीट में यह भी लिखा हुआ था कि गाजीपुर की पूर्व विधायक सुनीता सिंह के समर्थकों ने मस्जिद में घुसकर नमाजियों के साथ मारपीट की.

इसके बाद हमने गहमर गांव जिस जमनिया तहसील में आता है वहां के सीओ हितेंद्र कृष्ण से बात की तो उन्होंने बताया कि यह घटना 2 अप्रैल की है. उस दिन गांव में एक शोभायात्रा निकल रही थी. इसी दौरान शोभायात्रा में शामिल कुछ लोग रास्ते में पड़ने वाली मस्जिद के साथ लगी सीढ़ी पर चढ़ गए. उन्हीं में से एक नाबालिग जो 9वीं कक्षा का छात्र है, वह मस्जिद के ऊपर चढ़कर भगवा लहराने लगा.

पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि हमें भी यह जानकारी ट्विटर के माध्यम से मिली और इस मामले में किसी भी पक्ष ने शिकायत नहीं की. लेकिन एहतियात के तौर पर अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज करा दिया गया था. वहीं इस मामले में किसी भी व्यक्ति की गिरफ़्तारी के सवाल पर उन्होंने कहा कि मस्जिद पर चढ़कर झंडा लहराने वाले शख्स की पहचान हो गई है. जल्दी ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

वायरल वीडियो की जांच के दौरान हमें हिंदुस्तान में छपी एक न्यूज़ रिपोर्ट भी मिली. जिसमें इस घटना का जिक्र था. हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार 2 अप्रैल को गहमर में आयोजित रामकलश यात्रा के दौरान कुछ युवक दक्षिणी जामा मस्जिद में घुस गए और उनमें से एक युवक मस्जिद पर चढ़ कर भगवा झंडा लहराने लगा.

चूंकि मस्जिद पर झंडा लहराने वाले इस वायरल वीडियो को शेयर करते हुए कई लोगों ने जमानिया की पूर्व भाजपा विधायक सुनीता सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे. इसलिए हमने उनका पक्ष जानने के लिए उनसे संपर्क किया तो पूर्व भाजपा विधायक के कार्यालय ने बताया कि ऐसी कोई घटना के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है.

बीते सप्ताह की पांच बड़ी फ़र्ज़ी ख़बरें

Claim :   भगवा शूरवीरों ने करौली राजस्थान में जिस मस्जिद से पत्थर फेंके गए थे उसी मस्जिद पर चढ़कर भगवा शेरों ने लहराया भगवा 🚩 🚩जय जयश्रीराम🚩
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story
Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please reload after ad blocker is disabled.