क्या व्यस्त सड़क पर मुस्लिम युवक को नमाज़ पढ़ते दिखाता वीडियो लंदन से है? फ़ैक्ट चेक

दावा किया जा रहा है कि लंदन की भीड़ भरी सड़क पर निडर होकर नमाज़ पढ़ रहा मुस्लिम युवक दूसरे मायने में इस्लाम की ताकत दिखा रहा है.

एक व्यस्त सड़क पर गाड़ियों की आवाजाही के बीच एक युवक को नमाज़ अदा करते दिखाती वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर फ़र्ज़ी दावे से वायरल है. वीडियो शेयर करते हुए इसे लंदन (London) का बताया गया है. साथ ही दावा किया जा रहा है कि लंदन की भीड़ भरी सड़क पर निडर होकर नमाज़ पढ़ रहा मुस्लिम (Muslim) युवक दूसरे मायने में इस्लाम की ताकत दिखा रहा है.

बूम ने पाया कि वायरल दावा फ़र्ज़ी है और वीडियो लंदन से नहीं बल्कि तुर्की (Turkey) के इस्तांबुल (Istanbul) शहर का है.

क्या अमरिंदर सिंह ने अपने ट्विटर बायो से 'कांग्रेस' हटा दिया? फ़ैक्ट चेक

फ़ेसबुक पर कई दक्षिणपंथी पेजों ने इस वीडियो को लंदन से जोड़कर शेयर किया है.

ऐसे ही एक पेज ने वीडियो पोस्ट करते हुए कैप्शन में दावा किया कि "लंदन इस्लाम की चपेट में. 75 वर्ष पहले आधी दुनिया पर राज करने वाला लंदन आज इस्लाम के चंगुल में फंस चुका है। इस्लाम के प्रति अत्यधिक उदारता दिखाने के कारण आज ब्रिटेन में 89 मुस्लिम महापोर ओर लगभग 40,/50 मुस्लिम सांसद बन गए हैं, इसलिए ये जो चाहते है करवा लेते हैं। एक अकेला मुल्ला लंदन की भीड़ भरी सड़क पर निडर होकर नमाज़ पढ़ रहा है। दूसरे मायने में इस्लाम की ताकत दिखा रहा है।"

एक अन्य फ़ेसबुक पेज ने वीडियो को इसी दावे से शेयर किया.

कैप्शन के दूसरे हिस्से में लिखा है, "यह आने वाले हिन्दुस्तान का भविष्य है,ओर हां अभी 21 सितंबर को एक मुस्लिम महिला दिल्ली के एक सूने मकान में घुसकर नमाज पढ़ते हुए पकड़ी जा चुकी है और चेनल पर ऐक मुल्ला उस मुस्लिम महिला की हिंदू घर में जबरदस्ती घुस कर नमाज पढ़ने को सही ठहराते हुए बोल चुका है कि हम तुम्हारे घर मे घुस कर नमाज पढेंगे। 1 मिनट 12 सेकंड के वीडियो में लंदन के व्यस्त सड़क पर एक अकेले मुल्ले को नमाज पढ़ते हुए देखें."


पोस्ट यहां देखें

फ़ेसबुक पर इसी दावे के साथ शेयर किये गए अन्य पोस्ट यहां, यहां और यहां देखें.


सुभाष चंद्र बोस को ख़ुद की मौत की ख़बर पढ़ते दिखाती यह तस्वीर एडिटेड है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने वायरल वीडियो की जांच के दौरान पाया कि एक युवक द्वारा सड़क के बीच में नमाज़ अदा करने की यह घटना Turkey के मुख्य शहर Istanbul की है.

तुर्किश न्यूज़ वेबसाइट EN SON HABER की 19 सितंबर 2021 की रिपोर्ट के अनुसार, इस्तांबुल ई-5 हाईवे पर एक व्यक्ति ने वाहनों की आवाजाही की अनदेखी करते हुए नमाज़ पढ़ना शुरू कर दिया. जब लोगों का ध्यान उस युवक पर गया तो उन्होंने उसे ग़लत क़िबला (दिशा) की ओर नमाज़ पढ़ने के लिए चेतावनी दी. वीडियो यहां देखें


इस बीच सड़क पर नमाज़ पढ़ने वाले युवक ने "आप क्या कह रहे हैं," कहते हुए कारों के बीच सड़क के किनारे लापरवाही से चला गया. रिपोर्ट में वीडियो के कई स्क्रीनशॉट शामिल हैं. Middleeast.in 24 ने घटना पर प्रकाशित अपनी रिपोर्ट में वीडियो पर लोगों की प्रतिक्रिया के बारे में लिखा.

इसके अलावा ट्विटर पर भी कई यूज़र्स ने तुर्किश भाषा में कैप्शन के साथ यह वीडियो शेयर किया. यहां और यहां देखें

वीडियो को ध्यानपूर्वक देखने पर हम पाते हैं कि वीडियो के शुरुआत में ही 3 सेकंड की समयावधि पर पीले रंग की टैक्सी गुज़रती है, जिसपर TET 57 और iTaksi लिखा है. इसके बारे में खोजने पर हमने पाया कि iTaksi एक ऑनलाइन टैक्सी सेवा है, जिसे इस्तांबुल मेट्रोपॉलिटन नगर पालिका (IBB) द्वारा विकसित किया गया है. इसके अलावा 20 सेकंड की समयावधि पर एक ट्रक गुज़रता है जिसपर Erikli लिखा हुआ देखा जा सकता है. बूम ने पाया कि Erikli तुर्की में बोतलबंद पानी का एक ब्रांड है.

वायरल वीडियो के बैकग्राउंड में लोगों को बीच सड़क नमाज़ अदा करने वाले युवक को तुर्किश भाषा में टोकते हुए सुना जा सकता है.

तुर्किश मीडिया रिपोर्ट में उल्लेखित इस्तांबुल ई-5 हाईवे से हिंट लेते हुए हमने इसे गूगल मैप पर सर्च किया. बूम हाईवे के दूसरी ओर नीले रंग की कांच से बनी बिल्डिंग जिसपर अंग्रेजी में 'Medical park' लिखा है, को ट्रेस करने में सक्षम था, जिसे वीडियो के आख़िरी हिस्से में देखा जा सकता है.


पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नाम से किये गए ट्वीट का स्क्रीनशॉट वायरल

Updated On: 2021-10-11T14:15:23+05:30
Claim Review :   एक अकेला मुसलमान लंदन की भीड़ भरी सड़क पर निडर होकर नमाज़ पढ़ रहा है
Claimed By :  Social Media Users
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story