कराची में हुए भारतीय तिरंगे के अपमान का वीडियो केरल व तमिलनाडु के दावे से वायरल

बूम ने पाया कि वीडियो का केरल व तमिलनाडु से कोई संबंध नहीं है.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो बेहद वायरल है जिसमें सड़क पर भारतीय तिरंगा बना हुआ है और उसके ऊपर से ऑटो रिक्शा सहित तमाम वाहन गुज़र रहे हैं. वीडियो को केरल अथवा तमिलनाडु का बताया जा रहा है.

बूम ने पाया वीडियो पुराना है और पाकिस्तान के शहर कराची से है.

क़तर एयरवेज़ के नाम से वायरल इस ट्वीट का सच क्या है?

फ़ेसबुक पर एक यूज़र Amit Kumar Tripathi ने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा,'इस विडियो को देखें और इसे जितना हो सके उतना फॉरवर्ड करें .... अगर आप यू आज चुप रहते हैं तो हमें नुकसान होगा ... क्योंकि 6 महीने के बाद इसे आगे बढ़ाने का कोई फायदा नहीं होगा ... उँगलियाँ घुमाएँ और इसे आगे बढ़ाएँ अभी - तांजोर, तमिलनाडु ।'


हिमाचल में हुई बस दुर्घटना का फ़ोटो उत्तराखंड बताकर सोशल मीडिया पर वायरल

एक अन्य यूज़र ब्रह्मचारी दिव्य चैतन्य ने इसी वीडियो को केरल का बताते हुए लिखा 'केरल के इस विडियो को देखें और इसे जितना हो सके उतना फॉरवर्ड करें .... अगर आप यू आज चुप रहते हैं तो हमें नुकसान होगा ... क्योंकि *6 महीने के बाद इसे आगे बढ़ाने का कोई फायदा नहीं होगा* ... उँगलियाँ घुमाएँ और इसे आगे बढ़ाएँ अभी'.


फ़ैक्ट चेक

बूम ने वीडियो के स्क्रीनशॉट को इंटरनेट पर सर्च किया तो 6 जून 2022 को अपलोड एक यूट्यूब वीडियो मिला जिसका शीर्षक अंग्रेज़ी में था और उसका हिंदी अनुवाद है 'पाकिस्तानी लोग भारतीय झंडे पर गाड़ी चलाते हुए'

(English: pakistani people driving on Indian flag)


वीडियो में दिख रहे पाकिस्तान के जैसे झंडे और इस शीर्षक के आधार पर हमने विडियो की लोकेशन पता करने का प्रयास किया. वीडियो को गौर से देखने पर हमें एक बोर्ड दिखा जिस पर 'सनम बुटीक' लिखा था. हमने Google map पर पाकिस्तान में एक 'सनम बुटीक' की तलाश की. रिजल्ट में पाकिस्तान के कराची शहर में 'सनम बुटीक' नमक एक दुकान मिली. फोटो देखने पर दोनों समान दिखी.


Google map पर एक और इमारत दिखाई देती है जो वीडियो में भी देखी जा सकती है.


इससे स्पष्ट होता है कि यह वीडियो केरल अथवा तमिलनाडु से नहीं है.

राजनाथ सिंह की एडिटेड फ़ोटो फ़र्ज़ी दावे संग वायरल

Claim :   केरल के इस विडियो को देखें और इसे जितना हो सके उतना फॉरवर्ड करें .... अगर आप यू आज चुप रहते हैं तो हमें नुकसान होगा ... क्योंकि *6 महीने के बाद इसे आगे बढ़ाने का कोई फायदा नहीं होगा* ...
Claimed By :  Facebook posts
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story
Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please reload after ad blocker is disabled.