साउथ कोरिया के एयरपोर्ट की तस्वीर को जेवर एयरपोर्ट बताकर किया गया शेयर

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर साउथ कोरिया के सीओल स्थित Incheon एयरपोर्ट की है.

दक्षिण कोरिया के Incheon इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल 2 की एक तस्वीर को भ्रामक तरीक़े से भारतीय जनता पार्टी के तमाम हैंडल्स और कई मीडिया आउटलेट्स में शेयर कर दावा किया गया कि ये नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की है. यह तस्वीर कई वेरिफाइड हैंडल्स द्वारा ट्वीट किये गये एक वीडियो में भी है जिसमें उत्तर प्रदेश के जेवर एयरपोर्ट का एरियल व्यू दिखाया गया है.

UP TET अभ्यर्थियों को खुले आसमान के नीचे सोते दिखाने के दावे से वायरल तस्वीर का सच

वीडियो में एयरपोर्ट के अलग अलग दृश्यों के कटअवे को दिखाया गया है, साथ ही नोएडा के लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काम के लिए प्रशंसा करते हुए भी दिखाया गया है. वायरल तस्वीर इस वीडियो में 17वें सेकंड पर दिखाई देती है. उसी वीडियो में एक और तस्वीर भी है, जो असल में आर्किटेक्ट ज़ाहा हदीद द्वारा बनाई गई बीजिंग हवाई अड्डे के नये टर्मिनल की है, बूम ने इस तस्वीर का भी फ़ैक्ट-चेक किया था.

सोनिया गांधी के बुकशेल्फ़ में विवादित किताब का दावा फिर से वायरल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 नवंबर को जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की आधारशिला रखी थी.

मीडिया आउटलेट्स ने Incheon एयरपोर्ट को नोएडा एयरपोर्ट बताया

Punjab kesari, Republic Bharat, और Indica.com जैसी वेबसाइट ने इस तस्वीर को भ्रामक दावे के साथ पोस्ट किया.


इन रिपोर्ट्स का आर्काइव यहाँ, यहाँ और यहाँ है.

Jagran English, News Mobile और Zee News ने भी इस तस्वीर को बिल्कुल इसी दावे के साथ ट्वीट किया कि ये नोएडा स्थित एयरपोर्ट है.


उत्तर प्रदेश सरकार के MSME,खादी एवं ग्रामोद्योग और टेक्सटाइल कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और भाजपा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष मोहित बेनीवाल ने भी ये तस्वीर शेयर नोएडा एयरपोर्ट बताकर शेयर की.

फ़ैक्ट-चेक

बूम ने वायरल तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च किया तो पाया कि ये तस्वीर 2013 में Coroflot नाम की एक वेबसाइट में, जो डिज़ाइनरों की एक नेटवर्किंग वेबसाइट है वहाँ दक्षिण कोरिया के Incheon एयरपोर्ट के डिज़ाइन की तरह प्रकाशित की गई थी.


जर्मनी के एक मीडिया आउटलेट Der Spiegel ने इस तस्वीर को 19 अक्टूबर 2013 को प्रकाशित किया था. तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा था "सीओल स्थित Incheon एयरपोर्ट का नया टर्मिनल, 2018 तक इसमें 72 और गेट होंगे." वेबसाइट ने इस तस्वीर का क्रेडिट Genslar नाम की ग्लोबल आर्किटेक्चर डिज़ाइन कंपनी को दिया है.

क्या भारतीय मीडिया को दिखाता ये कार्टून बेन गैरिसन ने बनाया है? फ़ैक्ट-चेक


बिल्कुल यही तस्वीर Gensler की वेबसाइट पर Incheon एयरपोर्ट के रूप में देखी जा सकती है. बूम ने तस्वीर की तुलना गूगल अर्थ पर Incheon एयरपोर्ट की तस्वीर से भी की.




Show Full Article
Next Story
Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker. Please reload after ad blocker is disabled.