साइकिल पर शव ले जाते व्यक्ति की दिल दहला देने वाली तस्वीर कब की है?

सोशल मीडिया पर वायरल दावा इसे बिहार से जोड़ कर बताता है

तेलंगाना में पिछले साल हुई दिल दहला देने वाली घटना की तस्वीर को फ़र्ज़ी तरीके से बिहार का बताकर शेयर की जा रही है. तस्वीर में एक व्यक्ति शव को साइकिल पर ले जा रहा है.

बूम ने पाया कि वायरल तस्वीर अप्रैल 2020 में तेलंगाना के कामारेड्डी ज़िले में हुई एक की है. यह तस्वीर तब वायरल है जब हाल में बिहार में जन अधिकार पार्टी के प्रेजिडेंट राजेश रंजन (पप्पू यादव) ने एक अहाते में 'छापा' मारा और वहां करीब दो दर्जन एम्बुलेंस रखी पायीं.

इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक़, यादव ने बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के खाते पर ली गयी दो दर्जन एम्बुलेंस रखी पायीं. इसके बाद बड़ा विवाद हो गया क्योंकि प्रदेश कोरोनावायरस की चपेट में है. इसके चलते अचानक एक दिन यादव को लॉकडाउन नियम ना मानने के कारण गिरफ्तार कर लिया गया. इसके बाद उनके ख़िलाफ 1989 में एक किडनेपिंग के सम्बन्ध में मामला दर्ज हुआ है. यहां पढ़ें.

'शक्तिमान' की मौत की फ़र्ज़ी खबर वायरल

इस वायरल तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा है: "बिहार वालों को यही अच्छा लगता हैं ,लाश साइकिल पर ले कर घूमो ,एम्बुलेंस चोर सांसद एम्बुलेंस को अपने घर मे छुपा कर रखेगा, और उसका खुलासा करने वाला ही जेल चला गया। बिहार के जनता को सेवा भी अच्छी नही लगती।"

नीचे पोस्ट देखें और इसका आर्काइव्ड वर्शन यहां और यहां देखें.


5G टेक्नोलॉजी और कोविड से जुड़ी ये बाते जानना ज़रूरी है

फ़ैक्ट चेक

बूम ने तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च किया और पाया कि मुंबई मिरर ने यही तस्वीर 19 अप्रैल 2020 को प्रकाशित की थी.


मुंबई मिरर के आर्टिकल में बताया गया है कि घटना तेलंगाना के कामारेड्डी ज़िले में हुई थी. आर्टिकल आगे कहता है कि पुलिस ने एक सफाईकर्मी को शव को सरकारी हॉस्पिटल में पोस्टमोर्टेम करवाने के लिए ले जाने का काम दिया था. हालांकि सफ़ाईकर्मी ने कई वाहनों से शव लेजाने की बात की पर कोई आगे नहीं आया. एम्बुलेंस मौजूद नहीं थीं.

सियासत ने भी अप्रैल 2020 में इसी तस्वीर के साथ आर्टिकल प्रकाशित किया था. हमें इस घटना का वीडियो भी HMTV नामक यूट्यूब चैनल पर मिला.

नोट: दृश्य परेशान कर देने वाले हैं दर्शक विवेक से काम लें.


Claim Review :   बिहार वालों को यही अच्छा लगता हैं ,लाश साइकिल पर ले कर घूमो ,एम्बुलेंस चोर सांसद एम्बुलेंस को अपने घर मे छुपा कर रखेगा, और उसका खुलासा करने वाला ही जेल चला गया। बिहार के जनता को सेवा भी अच्छी नही लगती।
Claimed By :  Social media
Fact Check :  False
Show Full Article
Next Story